Read latest updates about "लेडीज स्पेशल" - Page 1

  • महिलाओं के भी होते हैं विशिष्ट अधिकार

    जैसे-जैसे समाज में स्वतंत्रता और आधुनिकीकरण बढ़ता जा रहा है, वैसे-वैसे आदमी और अधिक पाशविक होता जा रहा है उसकी नजर मात्र औरत पर है चाहे वह मासूम, अबोध बच्ची हो या असहाय वृद्धा। आदमी, मां, बहन, चाची, दादी आदि जैसे रिश्तों को भुलाकर उसे सिर्फ एक ही नजर से देखता है और उसे अपनी हवस का शिकार बनाना चाहता...

  • शिशु की देखभाल के लिए कुछ जरूरी टिप्स

    नवजात शिशुओं की देखभाल सही ढंग से करना माताओं के लिए एक समस्या बन जाती है। थोड़ी सी चूक अथवा अज्ञानता के कारण बड़ी मुश्किल का भी सामना करना पड़ सकता है। पहले ऐसा होता था कि घर की बड़ी बूढ़ी महिलाएं इन बच्चों की देखभाल में काफी ध्यान रखती थी लेकिन आधुनिक शहरी परिवेश में जहां परिवार का दायरा काफी...

  • हमारी सुंदरता का सहयोगी - आंवला

    आंवले के गुणों से लगभग सभी लोग परिचित हैं। स्वास्थ्य के साथ आंवला हमारी सुंदरता के लिए भी लाभप्रद है। इसके नियमित सेवन से हमारी त्वचा में कसाव आता है, बालों में चमक आती है और बाल रूसी की समस्या से दूर रहते हैं। आइए जानें सुंदरता बरकरार रखने के लिए इसके गुणों को:- एक्ने के दाग:- आंवले के नियमित...

  • रजोनिवृत्ति के समय जरूरी है उचित आहार व व्यायाम

    मेनोपॉज या रजोनिवृत्ति का समय एक ऐसी अवस्था है जिसका सामना उम्र के साथ हर महिला को करना पड़ता है। यह एक स्त्री के जीवन की वह अवस्था होती है जब उसका मासिक धर्म बंद हो जाता है। रजोनिवृत्ति का यह समय 40-45 वर्ष के बीच आता है। उम्र के इस पड़ाव में स्त्री के शरीर में बहुत से परिवर्तन आते हैं।...

  • ब्यूटी को रखें बरकरार

    ब्यूटीफुल दिखना हर नारी का सपना है। वह सुंदर दिखने के लिए कुछ भी कर सकती है। चेहरे की सर्जरी, बोटोक्स, विटामिन थेरेपी, मेकओवर, ब्यूटी प्राडक्ट्स प्रयोग कर स्वयं को सबसे खूबसूरत महिला का खिताब जीतने का पूरा प्रयास करती है। तो आइए कुछ टिप्स हैं जिन्हें अपना कर हम ब्यूटी बरकरार रख सकते हैं:- -त्वचा...

  • बेटी को दें सुसंस्कारों का दहेज

    बच्चों के जवान होते ही माता-पिता को उनकी शादी-विवाह की चिंताएं घेरने लगती हैं। बेटा हो या बेटी, हर माता-पिता की इच्छा होती है कि विवाहोपरान्त उनके बच्चे खुश रहें और जीवन साथी अच्छा मिले जिससे उनका आगे बढऩे वाला परिवार आदर्श परिवार बन सके। बेटों के विवाह होने पर तो बहू आपके घर आती है। उसे अपने...

  • बनायें पति को अपना दीवाना

    जब कोई भी लड़की विवाह के विषय में विचार करती है तो सबसे पहले वह कल्पना करती है कि एक सुखद दांपत्य जीवन व्यतीत करे। उसका दांपत्य जीवन सुखी व मधुर बना रहे, उसका पति हमेशा उसे बहुत प्यार करता रहे। उसका पति सिर्फ उसका ही रहे, ऐसी प्रत्येक पत्नी की इच्छा होती है। आपका पति सिर्फ आपके ही ख्यालों में खोया...

  • गर खरीदने हों स्टाइलिश आउटफिट्स

    आधुनिक युवतियां प्राचीन लिबास पहनना पसन्द नहीं करती। उन्हें तो बस स्टाइलिश डिजाइनर्स ड्रेसेस ही चाहिए। कुछ युवतियां कुछ विशेष अवसरों पर ही स्टाइलिश आउटफिट्स पहनती हैं। अधिकतर समय कैजुअल्स पहनना ही उन्हें अच्छा लगता है या समारोहों में वे टे्रडिशनल पहनना ही पसंद करती हैं। अगर आप भी योजना बना रहे हैं...

  • छेडख़ानी की बीमारी, कैसे मुकाबला करे नारी

    छात्र हो या गृहिणी या कामकाजी महिला, घर से बाहर निकलते ही तरह-तरह की छेडख़ानियों का सामना करना उनकी नियति बन गयी है। सार्वजनिक स्थलों, मार्केट, पार्क या मुहल्ले में अक्सर तमाम सड़क छाप रोमियो से पाला पड़ता है। यहां तक कि अपने घरों मेें भी आज की नारी छेडख़ानी की महामारी से नहीं बच पाती। लड़कियां जब...

  • चुरा सकती हैं आप अपनी उम्र

    अगर जीव वैज्ञानिकों की दृष्टि से देखें तो उम्र का बढऩा एक जैविक परिवर्तन है जिसे रोका जा सकता है। यह प्रकृति की एक सामान्य और परिवर्तनीय प्रक्रिया है। सामान्यत: शारीरिक और मानसिक शक्ति का कमजोर होना, संवेदनशीलता कम होना, भार घटना, नजर कमजोर होना, त्वचा में झुर्रियां पडऩा, बाल सफेद होना, ढीलापन आदि...

  • पुनर्विवाह - एक महत्त्वपूर्ण फैसला

    तलाक लेकर अपने दुखद दांपत्य को अलविदा कहकर कमला ने चैन की सांस ली। अपने कड़वे अनुभव की वजह से शादी नाम की खूबसूरत और स्थाई संस्था से उसका विश्वास उठ चुका था। अब वह बस अपनी नौकरी के साथ अकेले रहकर खुश रहना चाहती थी लेकिन ऐसा हो नहीं पाया। साल बीतते-बीतते उसे तन्हाई खलने लगी। कहीं जाती तो आसपास...

  • खाने-पीने की चीजें खरीदते समय ध्यान रखें

    मक्खन खरीदते समय ध्यान रखें कि उसमें न ज्यादा नमक हो, न ज्यादा रंग हो और न उसमें से पानी ही रिस रहा हो। नमक और रंग का इस्तेमाल मक्खन के बासीपन को छिपाने के लिए किया जाता है। - मेवा खरीदते समय ध्यान रखें कि उसमें न कीड़े लगे हों, न जाले लगे हों और न उससे दुर्गन्ध ही आ रही हो। मेवा में वसा की मात्रा...

Share it
Top