Read latest updates about "हेल्थ"

  • टमाटर एक सौंदर्य प्रसाधन

    टमाटर केवल सब्जी, सलाद, सूप, जूस के स्वाद बढ़ाने के लिए ही नहीं है बल्कि त्वचा की सुंदरता को बढ़ानेे में भी महत्त्वपूर्ण है। टमाटर हर त्वचा विशेषज्ञ की मनपसंद है इसके प्रयोग से त्वचा को हैल्दी, चमकदार और स्मूद बनाया जा सकता है। टमाटर में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है इससे त्वचा के दाग...

  • आत्महत्या से बचने के उपाय

    आज के दौर की देन है डिप्रेशन या अवसाद जो लोगों को आत्मघात या आत्महत्या की तरफ ले जाता है। बच्चे, बड़े और बूढ़े, सभी उम्र के लोग आत्महत्या कर बैठते हैं जो सामाजिक और कानूनी अपराध माना जाता है। बच्चों पर स्कूल और अध्ययन का बहुत बोझ होता है। गरीबी, असफलता, ईष्र्या और दु:ख आत्महत्या या...

  • अनिद्रा से भी बढ़ता है मोटापा

    सालों से माता-पिता बच्चों को रात में समय पर सोने की नसीहत देते आ रहे हैं। स्काटलैंड में जब परिवार के सारे सदस्य गहरी निद्रा में होंगे, उस समय विद्यार्थियों को एक कक्षा में यह पाठ पढ़ाया जाएगा कि उनको कैसे सोना चाहिए? 'द चैरिटी स्लीप स्काटलैंड' विद्यार्थियों को मुफ्त में इन क्लासों को देने की सुविधा...

  • अब आसान होगा धूम्रपान की लत को छोडऩा

    देखने में आया है कि आजकल की युवा पीढ़ी एक कश की लत में इस कदर अंधी हो गई है कि उसको किसी अच्छे बुरे का कोई ज्ञान ही शेष नहीं रह गया है जब तक कि उसकी एक कश की तलब खत्म नहीं हो जाती।यही नहीं,यह एक कश की लत न केवल वयस्कों के लिए बल्कि बच्चों और महिलाओं के लिए भी एक गंभीर मुसीबत बनती जा रही हैं।...

  • डायबिटीज को रोका जा सकता है

    डायबिटीज भारत में एक रोग का जाना पहचाना नाम है जिसे लोग शुगर की बीमारी, मधुमेह, शक्कर की बीमारी आदि के नाम से जानते हैं। इसमें पेंक्रियाज अर्थात अग्नाशय से इंसुलिन का बनना कम हो जाता है, बंद हो जाता है या इससे उत्पादित इंसुलिन कार्यक्षम नहीं रहता है जिससे खानपान से प्राप्त ग्लूकोज शरीर में एकत्र...

  • ये झील सी गहरी आँखें, इनकी देखभाल जरूरी

    आँखें शरीर का सबसे मूल्यवान अंग हैं। जी हाँ, इस कथन में कोई अतिशयोक्ति नहीं है। आँखें हैं तो संसार है वरना सब अंधकार है। महिलाओं के लिए तो संसार आँखें दृष्टि-साधन के अलावा सौंदर्य का प्रतीक भी हैं। साहित्य में आँखों की तुलना कामदेव के बाणों से की गई है। सुंदर कजरारी आँखें सभी के...

  • स्वास्थ्य व तंदुरूस्ती का राज

    आज एक ओर कुछ व्यक्ति 30-35 वर्ष की छोटी आयु में ही रोगग्रस्त होकर असमय ही काल के गाल में चले जाते हैं, वहीं दूसरी ओर दुनियां में कुछ ऐसे भी सौ वर्षीय जवान हैं जो अपने हाथों से लकड़ी काटते हैं, चुस्ती से चलते फिरते हैं व अपना संसार बसाते हैं। आखिर क्या कारण हैं कि कोई असमय ही बूढ़ा हो जाता है तथा...

  • अस्थमा के लक्षणों को अपने स्वास्थ्य पर हावी न होने दें

    मौसम में परिवर्तन आते ही अस्थमा के रोगियों की परेशानियां बढ़ जाती हैं। चाहे किसी भी उम्र का रोगी हो, उसे कफ, जुकाम, बलगम, नाक बंद होना, सांस फूलना, सांस लेने में कठिनाई आदि शिकायतें अक्सर होती हैं। विशेषज्ञों के अनुसार मौसम में परिवर्तन, तापमान में उतार-चढ़ाव, तापमान में आर्द्रता का बढऩा आदि कारणों...

  • गर्मी में दिल का रखें ख्याल

    ग्रीष्मकाल में तीव्र धूप और अधिक तापमान कई तरह से घातक होते हैं। विशेषकर हृदय रोगियों के लिए गर्मी में समस्याओं का बढऩा साधारण बात है। इस मौसम में हृदय रोगियों के लिए हीट स्ट्रोक्स का खतरा बढ़ जाता है। थोड़ी सी ढिलाई व्यक्ति के लिए घातक सिद्ध हो सकती है। गर्मी में डॉक्टरों के पास एवं अस्पताल में...

  • 30 के बाद जरूरी है कैल्शियम का सेवन

    बचपन से जवानी तक पहुंचते पहुंचते हम अपने खान-पान के साथ लापरवाही बरतने लगते हैं जो आगे जाकर हमारे अंदर कमजोरी का कारण बनते हैं और धीरे धीरे बीमारियां शरीर में घर बनाना प्रारंभ कर देती हैं। उम्र के साथ हमारा पाचन तंत्र कमजोर होने लगता है और शरीर में आसानी से कैल्शियम पूरी तरह से आब्जार्व नहीं होता...

  • गर्मियों में त्वचा की देखभाल

    गर्मियों में जब मौसम खुश्क हो जाता है, तब त्वचा पर इसका प्रभाव पडऩा स्वाभाविक है। इस मौसम में त्वचा व बालों को विशेष साज-श्रृंगार की आवश्यकता होती है। तेज धूप की वजह से न केवल त्वचा के खुश्क होने की परेशानी बढ़ जाती है बल्कि यदि सही देखभाल न की जाये तो यह झुर्रियों को भी बढ़ाने का कार्य करती है...

  • शरीर दर्द के कारण और निवारण

    कुछ व्यक्तियों को शरीर के विभिन्न अंगों में दर्दं की शिकायत आज कल आम है। सर्दी-जुकाम की तरह शरीर दर्द रोजाना की साधारण सी बात है। गर्दन दर्द, सिरदर्द, कमर दर्द, पैरों की पिण्डलियों में दर्द, जंघाओं में दर्द, हाथ दर्द, दांत दर्द, कान दर्द इत्यादि वे दर्द हैं जिनसे एक बड़ी जनसंख्या पीडि़त है।...

Share it
Share it
Share it
Top