Read latest updates about "कृषि-दर्शन" - Page 1

  • फसल अवशेष का करें बेहतर प्रबंधन, पर्यावरण संरक्षण होगा और बढ़ेगी आमदनी

    पटना। देश के कुछ राज्यों में धान की कटाई के बाद उसके अवशेष पुआल को खेत में जलाने का प्रचलन चला आ रहा है। किसानों के बीच ऐसी भ्रांतियां हैंं कि फसलों के अवशेष को खेतों में जलाने से खर-पतवार एवं कीटों को नष्ट किया जा सकता है। लेकिल असलियत इसके विपरीत है। सच्चाई यह है कि इससे मिट्टी की गुणवत्ता और...

  • विश्लेषण: लघु सीमान्त किसान धीमी गति से विकास की ओर

    भारत में बड़े बड़े जमींदार किसान नित्य ही इस बात को लेकर देश के किसी न किसी कोने में आंदोलनरत् रहते हैं कि किसान की हालत निरन्तर खराब होती जा रही है और उसके आर्थिक हालात इतने खराब हो गए हैं कि वे आत्महत्या की ओर अग्रसर हो रहे हैं। किसानों के द्वारा की गई आत्महत्या को वे सरकार की नीतियों से जोड़ कर...

  • खेत खलिहान: रेत में सब्जियों की बहार

    आज जहां बंजर भूमि के क्षेत्र में लगातार हो रही बढ़ोत्तरी ने पर्यावरण और कृषि विशेषज्ञों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी हैं, वहीं अरावली पर्वत की तलहटी में बसे गांवों के बालू के धोरों में उगती सब्जियां मन में एक खुशनुमा अहसास जगाती हैं। हरियाणा के मेवात जिले के गांव नांदल, खेडी बलई, शहजादपुर,...

  • कृषि जगत: रासायनिक खाद से मिट्टी में पोषक तत्वों की कमी

    वर्तमान में रासायनिक खाद का प्रयोग हमारी खेती में अधिक हो रहा है। इसके प्रयोग से दूरगामी परिणाम अच्छे नहीं है।ं रासायनिक खाद और कीटनाशक के प्रयोग से खेत की भूमि में अधिक पानी की जरूरत होती है। दूसरी ओर जैविक खाद और जैविक कीटनाशक के प्रयोग से दूरगामी परिणाम हमारे खेती के लिए अच्छे हैं। जैविक खाद और...

  • इनडोर प्लांटस को चाहिए उचित देखभाल

    घर की शान में चार चांद लगाते हैं इनडोर प्लांटस, यह तो सच है पर इस सच्चाई को कायम रखने के लिए इन पौधों को उचित देखभाल की आवश्यकता होती है। तभी इनकी सुंदरता बरकरार रहती है। वैसे तो आर्टिफिशियल प्लांटस भी घर की शोभा बढ़ाते हैं पर नेचुरल प्लांटस की बात कुछ और होती हैं। आजकल अपार्टमेंट के युग में आंगन...

  • करियर: अच्छा व्यवसाय है गैंदा पुष्प उत्पादन

    गैंदे के फूलों का अपना खास महत्त्व है। मन्दिरों में पूजा के लिए फूल मालाएं, हार व झालरें बनाने तथा विवाह-शादी, त्यौहारों, उत्सवों व अन्य समारोहों के आयोजनों में सजावट के लिए गैंदे के फूलों का उपयोग सबसे ज्यादा किया जाता है। गैंदे के फूल काफी समय तक खिले व ताजा रहते हैं जिसकी वजह से इनके फूलों की...

  • रोगियों ही नहीं किसानों के लिये भी फायदेमंद है अनार

    नयी दिल्ली । अपने लाल रंग के कारण देखने में आकर्षक और कई पाेषक तत्व से भरपूर अनार न केवल रोगों से लड़ने में सहायक है बल्कि इसकी खेती करने वाले किसानों के लिये भी यह बहुत फायदेमंद है।अनार विटामिन और खनिज पदार्थो का भंडार है। इसके छिलके से कई प्रकार की दवाओं का निर्माण भी किया जाता है । यह विटामिन सी...

  • घर पर ही बनायें नर्सरी

    हरे-भरे पेड़ पौधे आंखों को सुख प्रदान करते हैं तथा वायु प्रदूषण को भी कम करते हैं। यदि मकान के आस-पास पेड़-पौधे लगाने के लिए पर्याप्त जमीन नहीं हो तो छोटे-छोटे पौधे या फूल -पत्तियों को गमलों में लगाकर मकान के आस-पास के वातावरण को हरा-भरा व नयनाभिराम बनाया जा सकता है। इससे मकान की सजावट होगी, उसकी...

  • रंग बिरंगे फल और सब्जियां भगाती हैं बीमारियां

    नयी दिल्ली । खाने की प्लेट में विभिन्न रंगों की फल और सब्जियां न केवल खाने की प्लेट को आकर्षक बनाती हैं बल्कि इनसे शरीर को ऐसे पोषक तत्व मिलते हैं जो कैंसर , हृदय रोग के साथ साथ बुढापा रोकने में मददगार मिलती है। फल और सब्जियां अपने रंगों के कारण आकर्षण का केंद्र होने के साथ उनमें कई तरह की खूबियां...

  • खेत किसान: किसान अलग तरीके से बढ़ाएं अपनी कमाई

    सभी किसान चारों ओर से परेशान हैं। वे खेती से ज्यादा कमाना चाहते हैं लेकिन तय नहीं कर पाते कि इसके लिए क्या करें? यदि तय भी कर लें तो ज्यादातर यह नहीं जानते कि किस काम को कब, कैसे व कहां करें? खेती की उपज से खाने-पीने की अनगिनत चीजें बनती हैं लेकिन उनके लिए तकनीक सीखनी पड़ती है। किसान खेती की...

  • ऐसे करें बगीचे की सही देखभाल

    बीजों का सही चुनाव:- अच्छी क्वालिटी के बीज खरीद कर गमलों या क्यारियों में लगाएं। पहले मिट्टी को तैयार करें। उसमें कुछ खाद मिलाकर गमलों में भरें। मिट्टी खाद मिलाकर क्यारियां बनाकर पहले तैयार रखें, फिर उनमें बीज पौधे की लम्बाई, चौड़ाई के अनुसार दूरी पर डालें। बीज लगाते समय ध्यान दें कि बीज...

  • नीम में बड़े-बड़े गुण,इफको लगा रही पेड़

    नयी दिल्ली । औषधीय गुणों से भरपूर 'नीम' न केवल मानव जीवन के लिये महत्वपूर्ण है बल्कि यह पशुओं , कृषि , पर्यावरण और उद्योगों की आवश्यकताओं को भी पूरा करता है। इसी के मद्देनजर इंडियन फारमर्स फर्टिलाइजर कोआपरेटिव (इफको) ने व्यापक पैमाने पर इसके पेड़ लगाने का अभियान शुरु किया है । नीम की पत्ती और...

Share it
Top