Read latest updates about "लाइफ स्टाइल" - Page 1

  • विकृत आहार हमें रोगी बनाता है

    तेजी से बदलते इस सामाजिक परिवेश में फास्ट फूड का प्रचलन बढऩे लगा है। स्वाद एवं समय की बचत के कारण यह भागती-दौड़ती जिंदगी का एक अनिवार्य अंग बन चुका है परंतु इसके तत्कालिक आकर्षण के पीछे कुछ खतरनाक पहलू भी हैं। इसी वजह से फास्ट फूड के आदी होते जा रहे लोगों में कई प्रकार के रोग पनपने लगे हैं। ...

  • 18 अगस्त : आज ही फिल्म निर्देशक, गीतकार और कवि गुलजार का जन्‍म हुआ था

    नयी दिल्ली। भारतीय एवं विश्व इतिहास में 18 अगस्त की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार हैं : 1800- लार्ड वेलेजली ने कलकत्ता (वर्तमान कोलकाता) में फोर्ट विलियम काॅलेज की स्थापना की। 1858- नीदरलैंड और जापान के बीच व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर हुए। 1868- फ्रांस के वैज्ञानिक पियरे जेनसीन ने हीलियम की खोज की। ...

  • बहुउपयोगी खीरा

    खीरा एक शाकीय फल है, जो प्राय: सर्वत्र उत्पन्न होता है। स्वास्थ्य की दृष्टि से खीरा पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसमें जल, प्रोटीन, खनिज पदार्थ, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, फास्फोरस, लौह, कैरासेटीन, थायामिन, नियासिन, विटामिन सी, मैग्नीशियम, पोटेशियम, तांबा, गंधक एवं क्लोरीन आदि तत्व पाए जाते हैं। ...

  • सुबह की सैर और योग साथ-साथ

    जिनके पास योग के लिए समय नहीं है या इसके लिए समय नहीं निकाल पाते हैं किन्तु प्रात: पदयात्रा पर निकलते हैं, वे सैर और योग को साथ-साथ कर इसके महत्त्व को द्विगुणित कर सकते हैं। टहलने का अर्थ हाथ हिलाते निकल पडऩा नहीं है। यदि ऐसे लोग टहलने के साथ-साथ योग की क्रियाएं करते चलें तो पूरे शरीर का व्यायाम भी...

  • हड्डियां कमजोर हो रही हैं सड़क के ब्रेकर व गड्ढों से

    सीधी एवं सपाट सड़कों पर वाहन गति नियंत्रण के लिए स्पीड ब्रेकर बनाए जाते हैं जबकि सड़क पर गड्ढे अपने आप बन जाते हैं जो आगे चलकर वाहन चालक एवं वाहन पर बैठे लोगों के शरीर एवं हड्डियों को कमजोर करने तथा अन्य परेशानियों के कारण बन जाते हैं। देश की सड़कों एवं गलियों में स्पीड ब्रेकर एवं गड्ढों का...

  • आंखों को चाहिए सही देखभाल

    आंखें भगवान की दी हुई नियामतों में से सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण हैं। वैसे तो सभी अंग अपनी महत्ता रखते हैं पर आंखों के बिना यह रंगीन संसार महत्त्वहीन या बेरंग लगता है। आंखों के कारण ही शरीर का सम्पर्क बाह्य जिन्दगी से होता है। सुन्दर आंखें चेहरे की सुन्दरता को चार चांद लगाती हैं, इसलिए उनकी सुन्दरता को...

  • कमर दर्द के कारण व उपचार

    एक बात हर जगह सुनने को मिलती है कि कमर दुख रही है परन्तु शायद ही कुछ ऐसे लोग होंगे जो इसके कारणों से परिचित होंगे। आधुनिक चिकित्सकों की मान्यता है कि कमर-दर्द के मुख्यत: चार कारण हो सकते है- हमारे उठने तथा बैठने के गलत तरीके, भारी सामान उठाना या उठाते समय असावधानी बरतना, कमर में झटका लगना तथा...

  • ऐसे करें कंजंक्टिवाइटिस से आंखों का बचाव

    सुर्ख लाल गुलाबी आंखेंं, उनसे रिसता पानी, सूजी हुई पलकें, उनका चिपचिपापन 'आंख आनेÓ का पर्याय हैं। बोल-चाल की भाषा का यह पर्याय आंख के रोगी होने का सूचक है जिसे चिकित्सा की भाषा में कंजंक्टिवाइटिस कहा जाता है। इस विषय में कुछ प्रस्तुत हैं जानकारी:- आंखों की इस सर्वाधिक प्रचलित व्याधि का कारण क्या...

  • 17 अगस्त: भारतीय एवं विश्व इतिहास में 17 अगस्त की प्रमुख घटनाएं

    नयी दिल्ली । भारतीय एवं विश्व इतिहास में 17 अगस्त की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार है :1743- स्वीडन और रूस के बीच शांति समझौते पर हस्ताक्षर किये गये। 1787- यहूदियों को हंगरी की राजधानी बुडापेस्ट में समूह बनाकर प्रार्थना करने की इजाजत मिली। 1836- ब्रिटेन की संसद में जन्म, विवाह और मृत्यु से संबधित...

  • 16 अगस्त: आज ही महान संत एवं विचारक रामकृष्ण परमहंस का निधन हुआ था

    नयी दिल्ली । भारतीय एवं विश्व इतिहास में 16 अगस्त की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार है : 1787- तुर्की ने रूस के विरूद्ध युद्ध की घोषणा की। 1858- अमेरिकी राष्ट्रपति जेम्स बुशनैन को ब्रिटेन की महारानी विक्टोरिया की ओर से एक टेलीग्राफ संदेश ट्रांस अटलांटिक केबल से प्रसारित किया गया। 1886- महान संत एवं...

  • 15 अगस्त: आज ही पंडित जवाहरलाल नेहरू ने आजाद भारत के पहले प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी

    नयी दिल्ली । भारतीय एवं विश्व इतिहास में 15 अगस्त की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार हैं-1772 – ईस्ट इंडिया कंपनी ने जिलों में अलग-अलग सिविल और आपराधिक अदालतों के गठन का निर्णय लिया। 1848 – डेंटल चेयर को एम वाल्डो हेनचेट द्वारा पेटेंट कराया गया। 1854 – ईस्ट इंडिया रेलवे ने कलकत्ता से हुगली के बीच 37...

  • आओ जीना सीखें

    कुछ लोग जीते नहीं, जीने की तैयारी में ही जीवन गुजार देते हैं। जीना भी एक कला है। जीते तो सभी हैं लेकिन कलापूर्ण एवं सफल जीवन जीना एक कला से कम नहीं। जीवन में कुछ बातों को अपनाने एवं कुछ बातों को त्यागने से आने वाली मुसीबतों से बचा जा सकता है। बड़े बुजुर्गों की कही बातों से हमें सदा सीखते रहना ...

Share it
Share it
Share it
Top