Read latest updates about "लाइफ स्टाइल" - Page 1

  • 18 अगस्त:भारतीय एवं विश्व इतिहास में 18 अगस्त की प्रमुख घटनाएं

    नयी दिल्ली । भारतीय एवं विश्व इतिहास में 18 अगस्त की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार है: -1700 - मराठा साम्राज्य के महान सेनानायक बाजीराव प्रथम का जन्म। 1800 - लार्ड वेलेजली ने कलकत्ता (अब कोलकाता) में फोर्ट विलियम काॅलेज की स्थापना की। 1868 - फ्रांस के खगोलविद पियरे जेनसीन ने हिलियम की खोज की। 1872 -...

  • विश्लेषण: जड़ों की खोज में युवा पाकिस्तानी

    लहू को लहू पुकार रहा है। हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान ने गौरी, गजनी, खिलजी, बाबर, औरंगजेब जैसे बर्बर नायक अपनी नस्लों को खूब घोंट-घोंट कर पिलाए परंतु वहां की युवा पीढ़ी अपनी जड़ों से जुडऩे को बेताब दिख रही है। अभी-अभी लाहौर में महान शासक महाराजा रणजीत सिंह की प्रतिमा लगाने और उन्हें 'शेर-ए-पंजाब' की...

  • विश्लेषण: मुंबई हादसे के दोषियों को मिले सजा

    मुंबई के डोंगरी इलाके में 100 साल पुरानी इमारत गिरने से जहां 12 लोगों की मौत हो गई, वहीं 30 से अधिक लोग मलबे में दब गए। राहत एवं बचाव कार्य पूरा होने तक मरने वालों की संख्या और बढ़ सकती थी। मुंबई में इस तरह का हादसा कोई पहली बार नहीं हुआ। बारिश के दौरान सिस्टम के नकारापन की वजह से सैंकड़ों लोगों की...

  • रक्षाबंधन बनाम 'वयं राष्ट्रे जागृयाम'

    संस्कृति और पर्व एक दूसरे के ठीक उसी तरह से पूरक हैं जैसे नदी और जल, रक्त और मज्जा, शरीर और आत्मा। संस्कृति, जीवन दर्शन, कला, साहित्य, अध्यात्म और संस्कारों जैसे असंख्य रंग-बिरंगे पुष्पों का वह गुलदस्ता है जिसकी सुगंध हजारों वर्षों से निरंतर प्रवाहमान है। पर्व समय-समय पर उस सुगंध की छटा बिखेरने का...

  • 17 अगस्त: भारतीय एवं विश्व इतिहास में 17 अगस्त की प्रमुख घटनाएं

    नयी दिल्ली । भारतीय एवं विश्व इतिहास में 17 अगस्त की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार है: -1836- ब्रिटेन की संसद में जन्म, विवाह और मृत्यु से संबधित पंजीकरण स्वीकार किये गये। 1858- अमरीकी प्रांत हवाई द्वीप में पहला बैंक खोला गया। 1859- एक गर्म हवा के गुब्बारे के जरिए पहली बार चिट्ठियां भेजी गयीं। 1869-...

  • 16 अगस्त: आज ही के दिन दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का जन्म हुआ था

    नयी दिल्ली । भारतीय एवं विश्व इतिहास में 16 अगस्त की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार है: -1743- इंग्लैंड में सबसे प्रारंभिक मुक्केबाजी के नियम तय किए गए। 1777- अमेरिका ने ब्रिटेन को बेन्निनगटोन युद्ध में हराया। 1787- तुर्की ने रूस के विरूद्ध युद्ध की घोषणा की। 1886- महान संत एवं विचारक रामकृष्ण परमहंस...

  • 15 अगस्त: भारतीय एवं विश्व इतिहास में 15 अगस्त की प्रमुख घटनाएं

    नयी दिल्ली - भारतीय एवं विश्व इतिहास में 15 अगस्त की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार है: - 1772 - ईस्ट इंडिया कंपनी ने जिलों में दीवानी और फौजदारी की अलग-अलग अदालतों के गठन का निर्णय लिया। 1872 - प्रसिद्ध लेखक और दार्शनिक अरविंदो घोष का जन्म हुआ। 1854 - ईस्ट इंडिया रेलवे ने कलकत्ता (अब कोलकाता) से...

  • बहस: भ्रष्टाचार की वजह से गरीबों को नहीं मिल पा रहा है योजनाओं का लाभ

    कहने के लिए भले लोग कहें कि मानवता सब के मन में होनी चाहिए लेकिन आज यह केवल कहने मात्र के लिए रह गई है। मानवता आज केवल दिखावा है। कुछ लोग हैं जो आज भी मानवता के लिए कार्य करते हैं और समाज के लिए एक आदर्श प्रस्तुत करते है लेकिन ज्यादातर लोग मानवता के नाम पर ढोंग करते हैं और अपनी स्वार्थसिद्धि और...

  • विश्लेषण: मोदी सरकार की प्राथमिकता

    2019 के आम चुनाव में पूर्व की तुलना में और ज्यादा बहुमत से जीती मोदी सरकार की पहली प्राथमिकता क्या होनी चाहिए ? इस सम्बन्ध में लोगों की अलग-अलग राय हो सकती है। बहुत लोग कह सकते हैं, पूरे देश में संक्र ामक रूप से और कैंसर की तरह व्याप्त भ्रष्टाचार का उन्मूलन मोदी सरकार की पहली प्राथमिकता होनी चाहिए।...

  • यह कश्मीर को मिली आजादी का जश्न है , आइए मिलकर मनाएं

    -प्रभुनाथ शुक्ल भारत वासियों के लिए यह अजब संयोग है कि स्वाधीनता दिवस यानी 15 अगस्त और रक्षाबंधन एक ही दिन मनाया जाएगा। दोनों महापर्व एक दूसरे के पूरक हैं। दोनों का ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व है। एक हमें जहां त्याग और बलिदान की सीख देता हैं वहीं दूसरा बुराईयों और आसुरी प्रवृत्तियों से समाज...

  • रक्षाबन्धन विशेष: रक्षा के संकल्प का पावन पर्व

    रक्षाबन्धन का पावन पर्व भारतीय संस्कृति में बहन और भाई के प्रेम प्रतीक के रूप में शुचितापूर्ण मर्यादाओं को जीवंत करता है। रक्षाबन्धन में निहितार्थ यह है कि पारस्परिक प्रेम के बंधनों से रक्षा होती है। पवित्र प्रेम व स्नेह सूत्र में बांधने की यह परंपरा बहुत ही पवित्र, मर्मस्पर्शी, भावभीनी व श्रद्धा...

  • स्वतंत्रता दिवस विशेष: अजेय क्रांतिकारी सरदार अजीत सिंह

    वतन की आजादी के लिए मर मिटने वाले अनगिनत क्रांति के मतवालों में से एक थे महान क्रांतिकारी सरदार अजीत सिंह जिनके महान बलिदान को कृतज्ञ राष्ट्र विस्मृत कर चुका है परंतु हर वर्ष जब 15 अगस्त को भारतीय स्वाधीनता संग्राम के अतीत की वीणा के तार झंकृत होते हैं तो स्मृति के दृश्य पटल पर धुंधली होती भूले...

Share it
Top