Read latest updates about "अजब गज़ब" - Page 1

  • अंधविश्वास कैसे-कैसे: कहीं तीन, कहीं तेरह, कहीं लाल-हरा रंग अशुभ

    कहते हैं कि 'वहम' की दवा लुकमान हकीम के पास भी नहीं थी। यह वहम या अंधविश्वास पीढ़ी दर पीढ़ी एक दूसरे को विरासत में मिलते रहे हैं। बिना किसी तथ्य या आधार के किसी बात को मानते रहना ही अंधविश्वास है। हमारे देश में ही नहीं, विदेशी धरती पर भी बहुत सी ऐसी वहम वाली बातें प्रचलित हैं जो वहां के जनमानस में...

  • रहस्य कथा: प्यासी हड्डी

    तब मुझे मुंबई गये दो साल हो गये थे। उम्र यही कोई 22 साल के करीब रही होगी। खास पढ़ा लिखा नहीं था। अच्छी नौकरी क्या मिलती। एक क्लीनिक पर काम करने लगा। शुरू में पर्ची काटने पर लगाया गया लेकिन काम के प्रति निष्ठा व लगन देखकर कुछ माह बाद ही डॉक्टर रस्तोगी ने मुझे दवा देने व मरहम पट्टी करने के लिए प्रयोग...

  • 11 देशों की पैदल यात्रा कर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज करा चुके अवध बिहारी लाल

    गोंडा - बाढ़ की सैलाब में पूरा गांव में डूब जाने के बाद गांव में अकेले बचे अवध बिहारी लाल ने दुनिया भर में पर्यावरण संरक्षण की मुहिम चलाने का बीड़ा उठाया। और अपनी टीम के साथ अब तक तमाम दुश्वारियों को झेलते हुए अब तक दुनिया के 11 देशों को मिलाकर तीन लाख 86 हजार किलोमीटर की पैदल यात्रा अपनी टीम...

  • बस्तर का ऐसा गांव जहां 25 सालों में दर्ज नहीं हुयी एक भी एफआईआर

    रायपुर/दंतेवाड़ा। दक्षिण बस्तर के दंतेवाड़ा जिले के अंतर्गत एक गांव ऐसा भी है जहां के लोग शांति प्रिय हैं और अपने विवादों को मिल बैठकर स्वयं ही निपटाते हैं। यह गांव दंतेवाड़ा जिले के कुआकोंडा थाने के अंतर्गत उदेला गांव है। जहां पिछले 25 सालों में यहां के ग्रामीणों ने गांव में घटित होने वाले किसी भी...

  • रहस्य-रोमांच: वह इंसानी खून से प्यास बुझाता था

    मैडम तुसौड के भयंकर दृश्यों के संग्रहालय में एक सुसज्जित पुरूष का पुतला भी है। इस पुतले के सिर के बाल काले और उनमें खूब तेल लगा हुआ है। उसकी मूंछें बिल्कुल छोटी-छोटी हैं। वह सिर से पांव तक एक सफल व्यापारी नजर आता है। यह पुतला छ: व्यक्तियों के निर्मम हत्यारे जौन जॉर्ज हैफ का है। शैतान लोगों के बारे...

  • रहस्य रोमांच: आखिरकार क्या है नागा बाबाओं की रहस्यमयी दुनिया का पूरा सच

    देखने में आया है कि गत दिनों अध्यात्म व आस्था को समेटे उत्तर प्रदेश के प्रयागराज कुंभ मेले में कई रहस्यमयी बाबाओं का हरेक मार्गों पर विचरण करते हुए आसानी पूर्वक श्रद्धालुओं को दुर्लभ दर्शन संगम की रेती पर हुए हैं । वैसे तो इनके पीछे आध्यात्मिक सार व दर्शन बहुत ही प्रभावशाली रहे हैं किंतु अजब गजब...

  • बागपत: स्वर्णिम इतिहास का साक्षी...सिनौली गांव

    क्या आपके दिमाग में कभी यह सवाल आया है कि महाभारत काल में इंसान कैसे दिखते होंगे? कैसी उनकी भेष-भूषा होगी? क्या महाभारत के पात्रों को जैसा आपने पोस्टर्स या फिर टीवी पर देखा है वे बिल्कुल वैसे ही दिखते होंगे? दरअसल, ये सारे प्रश्न पूछने के पीछे का कारण यह है कि पश्चिम यूपी के बागपत जिले के सिनौली...

  • हैरत अंगेज डेज

    पिछले दिनों एक समाचार पत्र में पढ़ा था कि आजकल डेज़ का प्रचलन खूब बढ़ गया है, जैसे फादर्स डे, मदर्स डे, किसचर डे, टीचर्स डे आदि। अब पिछले कोई 10-12 सालों में एक नया 'डे' देश में खूब लोकप्रिय होता जा रहा है-'वेलेन्टाइन डे'। इसमें हमारे यहां कुछ प्रेमी युगलों की विशेष भूमिका है, जो विदेशी स्टाइल में...

Share it
Top