Read latest updates about "राज काज" - Page 1

  • लोकतंत्र,बाजारीकरण और हम

    डॉ.राकेश राणा हमने दुनिया को 'वसुधैव कुटुम्बकम्' का सनातन जीवन मूल्य दिया। 'जियो और जीने दो' का जीवंत आदर्श दिया। ये लोकतंत्र की आत्मा-परमात्मा जैसी संकल्पनाएं हैं। हम भारत के लोग भारतीय जीवन पद्धति के निराकार नियमों से निर्देशित होने वाले लोग हैं। दुनिया के लिए लिपिबद्ध मकड़जाल बुननेवाले लोकतंत्र...

  • किसके हाथ खेल रहे ओमप्रकाश राजभर

    -सियाराम पांडेय 'शांत' उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार से न केवल अपनी नाराजगी जाहिर की बल्कि लोकसभा की 39 सीटों के लिए अपनी पार्टी के उम्मीदवार भी घोषित कर दिए। इनमें वाराणसी और लखनऊ की सीटें भी शामिल हैं जहां से नरेन्द्र मोदी और राजनाथ सिंह उम्मीदवार...

  • आजम को चुनाव से बाहर करे चुनाव आयोग

    -आर.के.सिन्हा जिस बात को लेकर मन में भय था, वह लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान दिखाई देने लगी है। अभी तो चुनाव प्रचार को काफी समय तक चलना है। लेकिन देख लीजिए कि रामपुर से समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार आजम खान ने अपनी मुख्य प्रतिद्वंद्वी भाजपा की उम्मीदवार जयाप्रदा के खिलाफ कितनी ओछी और अश्लील...

  • सपा के भीष्म पितामह से सुषमा की गुहार के मायने

    के. पी. सिंह भीष्म पितामह महाभारत में कौरव पक्ष की ओर से लड़े थे लेकिन वे पांडवों और यहां तक कि भगवान श्रीकृष्ण के लिए भी अंत तक वंदनीय रहे। हस्तिनापुर साम्राज्य के वे सहज उत्तराधिकारी थे, लेकिन उन्होंने इस अधिकार का परित्याग कर दिया। उनके त्याग के कई उदाहरण हैं। हस्तिनापुर साम्राज्य से बंधे होने...

  • वैज्ञानिकों ने खोज निकाले ब्लैक होल के रहस्य

    प्रमोद भार्गव ब्रह्मांड में स्थित ब्लैक होल का चित्र लेने के बाद उसका नाम 'पोवेही' रखा है। अमेरिका के हवाई विश्वविद्यालय के प्राध्यापक लैरी किमूरा ने यह नाम सुझाया है। पहली बार 8 रेडियो टेलिस्कोप के डाटा से ब्लैक होल की तस्वीर दुनिया के सामने आई है। ब्लैक होल या कृष्ण विवर का यह नामकरण 18वीं...

  • इमरान क्यों चाहते हैं राजग सरकार की वापसी!

    डॉ. दिलीप अग्निहोत्री विश्व में अपने ढंग का यह शायद पहला उदाहरण है। जिस सरकार ने अपने सैनिकों के बल पर पाकिस्तान में घुस कर सर्जिकल और एयर स्ट्राइक की, इमरान खान उसी की वापसी को पाकिस्तान के लिए बेहतर बता रहे हैं। उन्हें इस सरकार से कश्मीर समस्या के समाधान की उम्मीद है। यहां तक तो बयान ठीक है। इस...

  • क्यों नहीं सुनने को मिल रहे नारे ही नारे

    आर.के.सिन्हा लोकसभा चुनाव के पहले दौर के लिए संपन्न मतदान हो चुका है लेकिन इसबार अभीतक कोई नये खास नारे सामने नहीं आये हैं। इसबार चुटीले और तुरंत अपनी तरफ ध्यान आकर्षित करने वाले नारों का कुल जमा अभाव दिखाई दे रहा है। नारे ही तो चुनावों की जान रहे हैं। नारों के बिना चुनाव का आनंद आधा-अधूरा सा ही...

  • चुनावी चंदे पर कोर्ट का शिकंजा

    सियाराम पांडेय 'शांत' धन काला या गोरा नहीं होता। स्याह-सफेद होता है उसका इस्तेमाल। धन के सदुपयोग पर कभी सवाल नहीं उठते लेकिन उसके दुरुपयोग पर अंगुलियां जरूर उठती हैं। सर्वोच्च न्यायालय ने सभी राजनीतिक दलों को निर्देश दिया है कि वे 30 मई तक चुनावी चंदे की रसीद और दानकर्ताओं की पहचान का ब्यौरा...

  • राहुल या राहु कौन होगा मोदी जी का गेम चैंजर

    पहले चरण के चुनाव के साथ ही लोकसभा चुनाव की तस्वीरें साफ होने लगी हैं। राहु केतु ने करवट ली, गुरु ने बदली राशि, क्या ऐसे में मोदी जी का राजनैतिक गेम रहेगा बरकरार या होगा चैंज? चुनावी रैलियों की तेज हवाएं और एक दूसरे पर आरोपों की बारिशों के बाद लोकसभा चुनाव का तूफान धीरे धीरे सुनामी का रुप ले...

  • आप आदमी पार्टी - 2019 भविष्य

    26 नवम्बर 2012, 10:00, प्रात:, दिल्ली में आम आदमी पार्टी का गठन हुआ। आम आदमी पार्टी का उदय भ्रष्टाचार के विरुद्ध संघर्षरत समाज सेवी अरविंद केजरीवाल एवं अन्ना हजारे के बीच हुआ था। इस प्रकार धनु लग्न और मेष लग्न की कुंडली का निर्माण हुआ। पार्टी का जन्म भरणी नक्षत्र में हुआ। भरणी नक्षत्र ने पार्टी को...

  • जलियांवाला बाग कांडः सौ साल पहले का घाव आज भी ताजा

    -रमेश ठाकुर ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने भले ही जलियांवाला बाग नरसंहार को ब्रिटेन के इतिहास को शर्मसार करनेवाला काला धब्बा बताया हो, लेकिन पीड़ित परिवारों के जहन में उसका दर्द आज भी पहले जैसा ही है। उस घटना से आक्रोशित होकर ही हिंदुस्तानियों ने आजादी का बिगुल बजाया था। घटना को याद करके अब...

  • उम्मीदवार पसंद का न हो तो नोटा का बटन दबाइये

    डॉ .दिनेश प्रसाद मिश्र भारतीय संसद एवं विधानसभा के चुनाव में कोई शैक्षिक योग्यता संविधान में निर्धारित नहीं की गई। संविधान निर्माण के समय डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने योग्यता के बिंदु पर अपना मत व्यक्त करते हुए कहा था कि संसद में जन प्रतिनिधि के रूप में उपस्थित होकर राष्ट्र निर्माण का कार्य करने वाले...

Share it
Top