Read latest updates about "सोशल चौपाल" - Page 2

  • राजनीति: मुश्किल होगी शॉटगन की राहें

    पिछले दो चुनावों में भारी मतों से जीत हासिल करने वाले सिने अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा की जीत पर इस बार ब्रेक लग सकता है। भाजपा ने इस चुनाव में उनके मुकाबले तेज तर्रार केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को आगे किया है। बतौर मंत्री रविशंकर प्रसाद ने जमीनी स्तर पर बहुत कार्य किए हैं। पटना जिले के कई गाँवों...

  • राष्ट्ररंग: राजनीति के गिरते स्तर को रोकने की जिम्मेवारी मतदाता की

    देश एक बार फिर अपने प्रतिनिधि चुनने के लिए तैयार हैं। नेता मतदाताओं को रिझाने से भ्रमित करने तक कुछ भी करने को तैयार है। 'कुछ भी' में अभिनय से झूठ तक, भाषायी गिरावट से स्वयं को नीचे गिराने तक भी शामिल हो तो कोई आश्चर्य नहीं होना चाहिए क्योंकि पिछले कुछ वर्षों में हमारे देश की राजनीति का स्तर लगातार...

  • राजनीति: कांग्रेस 2024 के चुनावों की तैयारी में

    चाहे चुनाव आयोग द्वारा आम चुनावों की घोषणा से कुछ दिन पहले ही राजनीतिक दलों ने अपने लंगर लंगोट कसने शुरू कर दिए थे परंतु राजनीतिक रणभेरी बजने के एक सप्ताह में ही कुछ ऐसा दिखने लगा कि कल तक सत्ता परिवर्तन का दावा करने वाली कांग्रेस 2024 के चुनावों की तैयारी कर रही है। पार्टी के रणनीतिकार व नेता जोर...

  • राजनीति: फ्लाप शो रही प्रियंका की स्टीमर यात्रा

    एक समय मुझे लगा था कि प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के लिए संजीवनी बन कर आई हैं, एक संभावना बन कर आई हैं, कुछ न कुछ करिश्मा जरूर करेंगी लेकिन यह मेरा पूरी तरह गलत आकलन था। अब स्पष्ट हो गया है कि वह मृत कांग्रेस में प्राण फूंकने में निरंतर असफल होती दिख रही हैं। पूरी तरह स्पष्ट हो गया है...

  • राजनीति: मोदी की सियासी किलेबंदी में क्या ढह जाएगा राहुल गांधी का गढ़ अमेठी

    भाजपा मिशन-2019 की तैयारी में पूरी तरह जुट गयी है। उसने अपनी रणनीति के केंद्र में यूपी और कांग्रेस के सियासी गढ़ अमेठी को रखा है, जबकि महागठबंधन की चुनावी तस्वीर अभी जमीन पर उतरती नहीं दिखती। भाजपा किसी भी तरह से यूपी को अपने हाथ से नहीं निकलने देना चाहती। अबकी बार उसके निशाने पर गांधी परिवार की...

  • कांग्रेसियों की बुद्धि आखिर कहां बंद है?

    पड़ौसी मुल्क पाकिस्तान से जब से हमारे संबंध कुछ-कुछ खराब होते-होते बदतर हालात तक पहुंचे हैं। तमाम कांग्रेसियों की बुद्धि सटक गई है। हमारे यूपी में एक कहावत है - बुद्धि घास चरने गई है। अधिसंख्य कांग्रेसियों की हालत इन दिनों यही है। सलमान साहब को ही लें। न, न, अभिनेता सलमान खान नहीं, नेता सलमान...

  • प्रश्न चिन्ह: एक सर्जिकल स्ट्राइक अंदर क्यों नहीं?

    पुलवामा में हुए आतंकी हमले से उत्पन्न जबरदस्त आक्रोश के बाद स्वाभिमानी राष्ट्र के पास आतंकियों की फैक्टरी पर प्रहार करने के अतिरिक्त कोई विकल्प हो ही नहीं सकता था। सरकार का धन्यवाद कि उसने जिम्मेवारी से बचने का कोई बहाना नहीं बनाया और सेना को अपना काम करने को कहा। हमारी सेना अपने पराक्र म के लिए...

  • मुद्दा: एक पादरी की ऐसी कहानी जिसे जानकर आपकी रूह कांप जाएंगी

    मैं जालंधर के एक अखबार में काम कर रहा था। उन दिनों एक बड़ी खबर आयी कि चर्च के किसी पादरी ने चर्च के साथ जुड़ी एक नन का रेप किया है। उस नन ने उक्त पादरी के खिलाफ केस किया है। खबर हमारे यहां भी छपी। चूंकि उक्त पादरी के बारे में मुझे कोई ज्यादा जानकारी नहीं थी इसलिए मैंने उस खबर पर ध्यान नहीं दिया।...

  • राजनीतिः मोदी के लिए मुसीबत बनी तीन महिलाएं

    लोकसभा आम चुनाव की घोषणा के साथ ही देश में नेताओं एवं राजनीतिक दलों की सरगर्मियां बढ़ गई हैं और चुनाव संबंधित गतिविधियां भी बढ़ गई हैं। प्रधानमंत्री पद पर अपनी दूसरी पारी के लिए जोर लगा रहे नरेंद्र मोदी के लिए इस बार चुनाव में तीन महिलाएं चुनौती मुसीबत बन गई हैं। मोदी के मार्ग में मायावती, ममता...

  • राजनीति: ममता हुई विपक्ष पर भारी, क्या अब है दिल्ली की तैयारी

    देश की मौजूदा राजनीतिक हलचलें भले ही एक पुलिस अधिकारी एवं देश की जाँच एजेंसी के बीच की खिंची हुई दीवार के रूप में दिखाई दे रही हों परन्तु इसके पीछे 2019 की चुनावी बिसात भी साफ दिखाई दे रही है। जहाँ दिल्ली का सत्ता पक्ष अपनी चाल चलने का प्रयास कर रहा है, वहीं बंगाल की सरकार भी अपनी सियासी सीमा रेखा...

  • मुद्दा: विवादित क्यों बनाए जा रहे हैं राष्ट्रीय सर्वोच्च सम्मान

    यूँ तो जब से मोदी सरकार आयी है, वह विरोधपक्ष को हजम नहीं हो रही है। मोदी और मोदी सरकार के हर निर्णय को विवादित बना कर चौराहे की हंडिया बनाने की असफल राजनीति पर प्रारम्भ से ही चल रहा विपक्ष विगत गणतन्त्र दिवस की पूर्व संध्या पर घोषित राष्ट्रीय सम्मानों को भी चौराहे पर लाकर खड़ा करने का असफल प्रयास...

  • राजनीति: प्रधानमंत्री पद के सवाल से विपक्ष आखिर भाग क्यों रहा है?

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राजनैतिक मजबूती से विपक्ष का एक-एक नेता वाकिफ है। जिस प्रकार से 2014 में तमाम बाधाओं और छवि को तोड़ते हुए भारतीय जनता पार्टी के नरेंद्र मोदी केंद्र की सत्ता पर काबिज हुए थे, उसने भारत के राजनीतिक इतिहास में एक नया अध्याय जोड़ दिया था। पीएम के पीछे-पीछे गुजरात से उनके...

Share it
Top