Read latest updates about "धर्म-दर्शन"

  • व्यापार में घाटा चल रहा है तो करें पान के पत्ते का ये उपाय

    पान के बिना कोई भी पूजा पूर्ण नहीं होती है, जब भी कोई विशेष पूजा की जाती है तो उस पूजा में पान के पत्तों को अवश्य शामिल किया जाता है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार जब समुद्र मंथन हुआ, उस समय पूजा में पान के पत्तों का उपयोग किया गया और तभी से पूजा के समय पान के पत्तों का इस्तेमाल किया जाता है।...

  • जानिए! आपके हाथों की उंगलियां क्या कहती हैं आपके बारे में..

    इंसान की हथेलियों पर उसकी किस्मत लिखी होती है। वहीं व्यक्ति की उंगलियां उसके स्वभाव के बारे में जानकारी देती हैं। हाथों की उंगलियां इंसान का व्यक्तित्व भी बखूबी बयान करती हैं। आप सोच रहे होंगे कि उंगलियां किसी व्यक्ति के बारे में कैसे बता सकती हैं तो चलिए हम आपको यहां इसी बारे में जानकारी दे रहे...

  • बुधवार को अक्षय तृतीया पर अबूझ मुहूर्त, चहुंओर गूंजेंगी शहनाइयां

    भोपाल। खरमास की वजह से पिछले सवा महीने से शादियों समेत सभी शुभ कार्यों पर रोक सा लगा हुआ था लेकिन मंगलवार को खरमास खत्म हो गया। अब बुधवार,18 अप्रैल को अक्षय तृतीया के अवसर पर हजारों शादियां होंगी। इस दिन चारों ओर शहनाइयों की गूंज सुनाई देगी। मान्यता है कि अक्षय तृतीया पर अबूझ मुहूर्त होता है, इसलिए...

  • जानिए ! किस दिशा में लगाना चाहिए घर में दर्पण

    दर्पण का प्रयोग सभी घरों में सजने-संवरने के लिए किया जाता है। लेकिन इसके साथ ही वास्तु शास्त्र में दर्पण का बहुत महत्व होता है। दर्पण के सही प्रयोग से वास्तु दोष को खत्म किया जा सकता है। लेकिन इसके लिए दर्पण से संबंधित वास्तुशास्त्र के नियमों को जानना बहुत आवश्यक है। इन नियमों को अपनाकर ही...

  • लोबान का धुआं करने से नकारात्मक शक्तियां रहती हैं घर से दूर

    शनिदेव देवों के देव हैं जिस पर ये मेहरबान हो जाएं उसके लिए ये धन, शौहरत और बुलंदियों के द्वार खोल देते हैं और जिस पर से ये अपनी कृपा का हाथ हटा लें वो व्यक्ति बीमारियों और परेशानियों से घिर जाता है। शनिवार का दिन शनिदेव को बहुत प्रिय है, इस दिन शनिदेव की पूजा करने से वे प्रसन्न होते हैं और...

  • इस एक मंत्र में छिपा है संसार का पूरा ज्ञान

    गायत्री मंत्र एक ऐसा मंत्र है जो हर प्रकार की परेशानी को इंसान के जीवन से दूर करता है। जिस प्रकार बीज में विशालकाय बरगद का वृक्ष छिपा होता है ठीक वैसे ही गायत्री मंत्र के 24 अक्षरों में संसार का पूरा ज्ञान छिपा है। गायत्री मंत्र का जाप करने से मन और वाणी पवित्र तो होती है। साथ ही इस मंत्र...

  • मंगल को जन्मे मंगल करते हनुमान जी

    चैत्र पूर्णिमा पर भगवान शिव के ग्यारहवें अवतार हनुमान का जन्म हुआ था और यह दिन हनुमान जयंती के रूप में धूमधाम से मनाया जाता है। शास्त्रों के अनुसार हनुमान जयंती वर्ष में दो बार मनाई जाती है, पहली चैत्र मास की शुक्ल पूर्णिमा के दिन और दूसरी कार्तिक मास की कृष्ण चतुर्दशी को। वाल्मीकि रामायण के अनुसार...

  • इन चीजों को घर में रखने से होता है धन लाभ

    कुछ वस्तुओं को घर में रखना बहुत ही शुभ माना जाता है। वास्तुशास्त्र में कई ऐसी वस्तुओं का जिक्र किया गया है जो न सिर्फ आपके घर से नकारात्मक ऊर्जा को दूर कर देते हैं बल्कि आपको धनवान बनाने में भी सहायक होते हैं। इन वस्तुओं को घर में रखने से वास्तुदोष दूर होता है। घर में सुख-शांति बनी रहती है। चलिए...

  • प्रत्येक व्यक्ति को राशि अनुसार करना चाहिए इन मंत्रों का जाप

    त्येक व्यक्ति के लिए राशि अनुसार अलग-अलग मंत्र बताए गए हैं, अगर व्यक्ति अपनी राशि को ध्यान में रखकर इन मंत्रों का जाप करता है तो इससे उसे मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। राशि अनुसार व्यक्ति को किस मंत्र का जाप करना शुभ रहता है आइए आपको बताते हैं इसके बारे में.................. मेषः-मेष...

  • भगवान का अभिषेक करते समय इन बातों का रखें ध्यान

    मंदिर हो या घर सभी जगहों पर भगवान का अभिषेक पूरे विधि-विधान से किया जाता है, वैसे तो भगवान का अभिषेक गंगाजल से ही किया जाता है लेकिन कुछ विशेष अवसर या त्यौहार पर पंचामृत से भगवान का अभिषेक करना शुभ माना जाता है। दूध, दही, घी, शहद आदि सामग्रियों से भगवान का अभिषेक करने से भगवान बहुत प्रसन्न होते...

  • जानिए! भगवान विष्णु क्यों करते हैं शेषनाग पर आराम

    भारतीय पुराणों के अनुसार भगवान विष्णु संसार का पालन करते हैं। पुराणों में भगवान विष्णु को परम ब्रह्म माना गया है। उनसे सम्बद्ध कथाओं से पुराण भरे पड़े हैं। पालनकर्ता होने के कारण उन्हें जागतिक दृष्टि से यदा-कदा विविध प्रपंचों का भी सहारा लेना पड़ता है। जैसे रामावतार में छिपकर बाली को मारना तथा...

  • बड़े काम के हैं ये मंत्र प्रतिदिन करें इनका जाप

    हिंदू धर्म में जब भी कोई धार्मिक कार्य किया जाता है तो उसमें मंत्रों का विशेष महत्व होता है। धार्मिक कार्यों में तो मंत्र बोले ही जाते हैं, इसके साथ ही सुबह उठने से लेकर रात को सोते समय तक किन मंत्रों को कार्यानुसार बोला जाता है। इसके बारे में भी बताया गया है। सुबह से रात तक बोले जाने वाले इन...

Share it
Share it
Share it
Top