Read latest updates about "अनमोल वचन" - Page 1

  • अनमोल वचन

    सही राह पर चलना जितना जरूरी है, उतना ही चुनौतीपूर्ण घर, कार्यस्थल (आफिस, दुकान आदि) स्कूल, कालेज इनके बीच नेकी और सदाचार की डगर से भटकाने, भ्रमित या विचलित करने के लिये अनेक साामग्री तथा व्यवस्थाएं मानो एकजुट हो, इसलिए सन्मार्ग का चयन करने वाले को आरम्भ से ही कर्मठता, लगन और बाधाओं से तटस्थ रहने का...

  • अनमोल वचन

    भारत रत्न मिसाइल मैन पूर्व राष्ट्रपति डा. अब्दुल कलाम का युवाओं के लिये संदेश- 'एक डायरी या नोट बुक लो, उसे कोई नाम दो, जो तुम्हारे दिल के बेहद करीब हो। कुछ ऐसा जो तुम्हें याद दिलाता रहे कि तुम क्या बनना चाहते हो। इसमें हर वह चीज लिखने की आदत बनाओ, जिसके बारे में तुम सीखना चाहते हो, हर वह चीज जो...

  • अनमोल वचन

    भारतीय जीवन दर्शन का एक मंत्र है 'सादा जीवन उच्च विचार'। देखने सुनने में यह बडा सरल लगता है, परन्तु उतना ही कठिन है। जीवन में अधिकांश बुराईयां इस मंत्र की अवहेलना से आती हैं। सादगी और सात्विकता का चोली दामन का साथ है। भारतीय संस्कृति गुणों की खान है। हमारे यहां सदा ही इस बात पर जोर दिया जाता है कि...

  • अनमोल वचन

    आधुनिक संचार माध्यमों के युग में बहुधा कम आयु के बच्चों को हम असामान्य व्यवहार करते देखते हैं। ऐसे में क्रोध न कर उनका सही मार्गदर्शन करें। आधुनिक परिवेश में बच्चों का बौद्धिक स्तर भी बढा है और जिज्ञासा भी बढी है। उनकी जिज्ञासा को अपने उचित मार्गदर्शन से शांत करें, ज्ञान को सही दिशा में विकसित किया...

  • अनमोल वचन

    कोई भी व्यक्ति अपने गुणों से ही पूजनीय बनता है। गुण पूजनीय तब बनते हैं, जब मनुष्य के जीवन में विचार और आचरण का समन्वय होता है। इसके लिये कठोर साधना करनी होती है। वस्तुत: किसी मार्ग को पकडकर उस पर चलते जाना साधना नहीं है। धन, सत्ता और भोग के पीछे आंख मूंदकर दौडने वालों की संख्या कम नहीं है। उनकी उस...

  • अनमोल वचन

    गीता इस बात की पुष्टि करती है कि पूरे ब्रह्माण्ड में एक ही ध्वनि ओउम् के नाम से गूंज रही है। आज 'नासा' भी यही दोहरा रही है। गुरू नानक देव जी ने भी इसका विस्तार से वर्णन किया है। उनके अनुसार परमात्मा एक है, उसके जैसा कोई और नहीं, वह हर स्थान पर मौजूद है। वह सब कुछ बनाने वाला है। वह काल रहित है, वह...

  • अनमोल वचन

    कहा जाता है कि घर की तिजोरी में बंद पडा धन यदि किसी की सेवा-सहायता से, स्कूल, अस्पताल, अनाथालय, गौशाला बनाने में, किसी भूखे को भोजन देने में, किसी गरीब की कन्या के विवाह में खर्च कर दिया जाये तो उसससे बढकर धन का अन्य कोई उपयोग नहीं हो सकता। खुश रहना सब चाहते हैं। खुश रहने की अनिवार्य शर्त है कि आप...

  • अनमोल वचन

    कोई काम बिगड जाये तो अधिकांश लोग यही कहते हैं कि क्या बताएं ऊपर वाला (ईश्वर) ऐसा ही चाहता था, जबकि सफल होने पर उसका श्रेय स्वयं को देते हैं, कहते हैं कि यह मेरी बुद्धिमानी और परिश्रम का फल है। विचारक कहते हैं जीवन में जब अनुकूल परिस्थिति आती हैं तो उसमें खुद उस व्यक्ति की चुस्त प्लानिंग के अतिरिक्त...

  • अनमोल वचन

    यदि दो पक्षों में कोई विवाद हो जाये और विवाद किस सीमा तक बढ जाये, उसके कारण दोनों पक्षों को कितनी भी मुसीबत उठानी पडे, इसका कोई अनुमान नहीं लगाया जा सकता। विवाद समाप्त करने के लिये एक पक्ष को तो समझदारी दिखानी ही होगी, जिससे बिगडे सम्बन्ध पुन: सामान्य हो सकें। उसका उपाय केवल क्षमा है। क्षमा द्वारा...

  • अनमोल वचन

    संत समागम और सत्संग भाग्यशाली को ही उपलब्ध होते हैं, ऐसे अभागे लोग भी देखे गये हैं, जिनके निवास के समीप कोई सत्संग या संत प्रवचन चल रहा होता है, परन्तु उनमें उन्हें सुनने की उत्कंठा पैदा ही नहीं होती। जब कभी हम दिशाहीन हो जाते हैं, तो सत्संग, रामकथा और संतों का सानिध्य हमें सही राह दिखाते हैं,...

  • अनमोल वचन

    जब लोग सत्संग में जाते हैं, तो सोचते हैं कि वहां धार्मिक, आध्यात्मिक विषय पर प्रवचन हो रहा होगा। यह ठीक है कि जब लोग संतों के पास जाते हैं तो वहां धार्मिक चर्चा ही होगी, इस आशा से ही लोग वहां जाते हैं। आज तक जितनी बार भी सत्संग में गये, उसके बाद कभी आपने सोचा कि इनको सुनने के बाद आपके जीवन पर इनका...

  • अनमोल वचन

    जिस प्रकार लक्षणों से डाक्टर शारीरिक रोग के बारे में जान लेता है, उसी प्रकार भगवान कृष्ण ने गीता में बताया है कि क्रोध मनुष्य में रजोगुण की अधिकता का सूचक है। इस प्रकार मनुष्य न चाहते हुए भी पाप कर्म के लिये प्रेरित होता है। भगवान ने इसकी व्याख्या करते हुए कहा कि इसका कारण है कि रजोगुण के...

Share it
Top