कुपवाड़ा में शहीद हुए जवान का पार्थिव शरीर रविवार को पहुंचेगा पैतृक निवास

कुपवाड़ा में शहीद हुए जवान का पार्थिव शरीर रविवार को पहुंचेगा पैतृक निवास


गाजियाबाद। जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच शुक्रवार को हुई मुठभेड़ में सीआरपीएफ के एक अधिकारी समेत पांच सुरक्षा कर्मी शहीद हो गए थे। इनमें एक शहीद गाजियाबाद के विनोद कुमार थे । रविवार तक शहीद का शव पैतृक निवास पहुंचेगा। वहीं, बेटे की शहादत की खबर मिलते ही परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

सीआरपीएफ के 35 वर्षीय जवान कस्बा पतला निवासी विनोद कुमार सीआरपीएफ की 92 बटालियन और कश्मीर के कुपवाड़ा में तैनात थे। शहीद अपने पीछे पत्नी नीतू, पुत्र अंश (09) व पुत्री एलिस उर्फ अनवी (06) को छोड़कर गए हैं। इनके अलावा परिवार में तीन भाई राजेंद्र, जोगेंद्र व पप्पू के अलावा बहन कुसुम व राजवती हैं। विनोद चौधरी चरण सिंह इंटर कॉलेज का छात्र रहे हैं। इसी कॉलेज के अब तक दो छात्र शहीद हो चुके हैं। इधर बेटे की शहीद की खबर मिलते ही पूरे परिवार में रोना-पीटना मचा हुआ है।

उल्लेखनीय है कि पुलवामा में शहीद हुए अजय की शहादत की चर्चा अभी थमी भी नहीं थी कि शुक्रवार की रात जब विनोद के शहीद होने की खबर उसके मूलतः गांव कस्बा पतला पहुंची तो गांव में सन्नाटा छा गया है। शहीद के शव के इंतजार में आस पास लोग जमा है।


Share it
Top