कश्मीरी पंडितों का मोदी को पुरजोर समर्थन, सिखों ने कहा- शेर

कश्मीरी पंडितों का मोदी को पुरजोर समर्थन, सिखों ने कहा- शेर

ह्यूस्टन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी अमेरिका यात्रा के पहले दिन रविवार को दाउदी तथा सिख समुदाय और कश्मीरी पंडितों के एक प्रतिनिधि मंडल से मिले, जिन्होंने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 37० और 35 ए हटाने के फैसले का पुरजोर समर्थन किया। श्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, 'मैंने ह्यूस्टन में कश्मीरी पंडितों के साथ खास बातचीत की। उन्होंने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 37० हटाए जाने के सरकार के फैसले का पुरजोर समर्थन किया। प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट््वीट कर कहा, 'ह्यूस्टन में कश्मीरी पंडित समुदाय के एक प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री से मुलाकात की। उन्होंने भारत की प्रगति और हर भारतीय के सशक्तीकरण के लिए उठाए जा रहे कदमों का पुरजोर समर्थन किया। श्री मोदी की पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 37० हटाए जाने के बाद अमेरिका की यह पहली यात्रा है। प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करने वाले सुरिंदर कौल ने श्री मोदी से मिलने के बाद कहा, 'जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 37० और 35ए हटाए जाने के लिए दुनिया भर के सात लाख कश्मीरी पंडितों की ओर से श्री मोदी को धन्यवाद। उन्होंने कहा कि श्री मोदी ने बातचीत के दौरान कहा, 'कश्मीरी पंडितों ने बहुत कुछ सहा है। अब हमें एक साथ मिलकर नया कश्मीर बनाना है। पीएमओ ने कहा, 'दाउदी बोहरा समुदाय ने ह्यूस्टन में श्री मोदी की जमकर तारीफ की। उन्होंने श्री मोदी की पिछले साल की इंदौर यात्रा को याद किया, जिसमें उन्होंने बोहरा समुदाय के एक धार्मिक कार्यक्रम में शिरकत की थी। साथ ही श्री मोदी के सैयदना साहब के साथ सहयोग को भी उजागर किया। दाउदी बोहरा शिया इस्लाम की इस्माइली शाखा के भीतर एक संप्रदाय है और गुजरात में बहुतायत में रहते हैं। दाउदी बोहराओं की बड़ी आबादी पाकिस्तान, यमन, पूर्वी अफ्रीका और पश्चिम एशिया में भी निवास करती है। यूरोप, उत्तरी अमेरिका, दक्षिण पूर्व एशिया और ऑस्ट्रेलिया में भी इनकी अच्छी-खासी संख्या है। ह्यूस्टन में सिख समुदाय ने भी प्रधानमंत्री का स्वागत किया और उनकी सरकार द्वारा लिए गए कुछ मार्गदर्शक निर्णयों पर उन्हें बधाई भी दी। पीएमओ ने सोशल नेटवर्किंग साइट पर कहा, 'प्रधानमंत्री ने समुदाय के सदस्यों के साथ बातचीत की और उन्होंने मोदी सरकार के कुछ महत्वपूर्ण फैसलों पर श्री मोदी को बधाई दी। सिख प्रतिनिधि मंडल के नेतृत्व करने वाले एक नेता ने श्री मोदी से मुलाकात के बाद कहा, 'श्री मोदी शेर है। वह एक ऐसे व्यक्ति है, जिन्हें हम लौह पुरुष कहते हैं इसके अलावा उन्होंने करतापुर साहिब कॉरिडोर को जल्द शुरू करने का भी अनुरोध किया।

Share it
Top