बालिका के साथ बलात्कार का प्रयास व हत्या प्रकरण...आरोपी तंजीम को उम्रकैद की सजा सुनाई, 30 हजार का जुर्माना

बालिका के साथ बलात्कार का प्रयास व हत्या प्रकरण...आरोपी तंजीम को उम्रकैद की सजा सुनाई, 30 हजार का जुर्माना

मुजफ्फरनगर। मासूम सुहाना को आज कोर्ट से इंसाफ मिल गया। सुहाना के हत्यारोपी तंजीम को कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई है और उस पर तीस हजार रूपये का जुर्माना भी किया है। जुर्माने की रकम में से 25 हजार रूपये की नगदी मृतका के पिता को देने के आदेश कोर्ट ने दिये है।

उल्लेखनीय है कि सात वर्षीय मासूम बालिका को घर से टॉफी दिलाने के बहाने बाग के पास एक घर में ले जाकर बलात्कार का प्रयास व बाद में हत्या कर दिये जाने के सनसनीखेज मामले में आरोपी तंजीम को कोर्ट ने दोषी करार दिया था, जिसमें आज दोषी को उम्रकैद की सजा सुनाई है। जानकारी के अनुसार शहर कोतवाली क्षेत्र के मौहल्ला किदवईनगर में 15 जुलाई 2016 को सात वर्षीय मासूम बालिका सुहाना को उसके घर से टॉफी दिलाने के बहाने 30 वर्षीय तंजीम एटूजेड प्लांट के निकट एक घर में ले गया था और उससे बलात्कार का प्रयास किया, जिस कारण वह खून से लथपथ हो गयी और उसकी हालत गंभीर बन गयी। इस बलात्कार में विफल रहने पर आरोपी तंजीम ने उसके सिर में कोई भारी चीज मारकर उसकी हत्या कर दी थी और वह मौके से पफरार हो गया था। सुहाना को जिला चिकित्सालय ले जाकर भर्ती कराया गया था, जहां उसने दम तोड़ दिया था। मृतका सुहाना के पिता की तहरीर पर इस घटना का मुकदमा शहर कोतवाली में आरोपी तंजीम के खिलाफ धरा 302 व 376/511 आईपीसी सहित पोक्सो एक्ट की धारा 3/4 में दर्ज हुआ था। इस मामले में सुनवाई करते हुए आज एडीजे-8 व विशेष कोर्ट पोक्सो के न्यायाधीश सुनील कुमार तिवारी ने आरोपी तंजीम को उम्रकैद की सजा सुनाई है। उस पर तीस हजार रूपये का जुर्माना भी किया गया है। जुर्माने की रकम में से 25 हजार रूपये मृतका के पिता को दिये जाने के निर्देश दिेये है। अभियोजन की ओर से विशेष लोक अभियोजक दिनेश शर्मा ने पैरवी की, जबकि वादी की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता शैलेन्द्र राणा ने भी पैरवी की।

Share it
Top