करवाडा से दो दिन से लापता आरएसएस कार्यकर्ता का शव सूखेे कुएं में दबा मिला

करवाडा से दो दिन से लापता आरएसएस कार्यकर्ता का शव सूखेे कुएं में दबा मिला

मुजफ्रपफरनगर। तितावी थाना क्षेत्रा के गांव करवाडा से लापता आरएसएस कार्यकर्ता पंकज का शव आज गड्ढे में दबा हुआ मिला है। पुलिस जांच में पता चला है कि पंकज की हत्या प्रेम-प्रसंग के चलते पिता-पुत्र ने की है। पुलिस ने इस मामले में कार्यवाही शुरू कर दी हैै। पुलिस लाईन में पत्रकारों से वार्ता करते हुए एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया है कि तितावी थाना क्षेत्र के गांव करवाडा निवासी पंकज पुत्र रामकुमार विगत 13 सितम्बर को लापता हो गया था, जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट तितावी थाने में परिजनों ने दर्ज करायी थी। मामला दर्ज होने के बाद आरएसएस कार्यकर्ता पंकज की तलाश तितावी थानाध्यक्ष डीके त्यागी ने सरगर्मी से शुरू कर दी थी। इस मामले में पुलिस ने गांव करवाडा निवासी कुंवरपाल व उसके पुत्र मोनू को शक के आधार पर हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ की, तो पता चला कि पंकज द्वारा कुंवरपाल की पुत्री का काफी दिनों से पीछा किया जा रहा था, उसे कई बार समझाया भी गया, लेकिन वह अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा था। हत्यारोपी पिता-पुत्र ने पंकज का शव गांव करवाडा के जंगल में खेत पर बने बंद/सूखे कुएं में मिट्टी में दबा हुआ शव बरामद करा दिया है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। आरोपी पिता-पुत्र ने बताया कि फावडे व दरांती से काटकर पंकज की हत्या की गयी थी और शव को कुएं में दबा दिया गया था। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त दरांती व पफावडा बरामद कर लिया है, इसके अलावा मृतक का मोबाईल फोन भी बरामद किया गया है। बताया जा रहा है कि 23 वर्षीय पंकज का गांव की युवती से काफी दिनों से प्रेम-प्रसंग चल रहा था और इस बात की जानकारी युवती के परिजनों को भी थी। कई बार पंकज को समझाया गया, लेकिन वह युवती से मिलना-जुलना नहीं छोड रहा था। बीतीरात युवती से फोन कराकर पंकज को बुलाया गया और फिर पिता -पुत्र ने उसे दबोचकर मौत के घाट उतार दिया। इस दुखद घटना को लेकर मृतक पंकज के परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। युवा पुत्र की मौत होने से पूरा परिवार सदमें की हालत में है। देर शाम शव का गमगीन माहौल में अंतिम संस्कर हुआ।

Share it
Top