Read latest updates about "धर्म -अध्यात्म" - Page 2

  • गणेश चतुर्थी पर इस विधि से करें भगवान गणेश का पूजन

    भगवान गणेश जी को प्रसन्न करने के लिए गणेश दमनक चतुर्थी व्रत किया जाता है। भगवान गणेश को विघ्नहर्ता कहा गया है। गणेश चतुर्थी के दिन अगर पूरे विधि-विधान से भगवान गणेश की पूजा की जाए तो जीवन की सभी मुश्किलें आसान हो जाती हैं। यह तिथि भगवान गणेश की सबसे प्रिय तिथि है। इस दिन भगवान गणेश को प्रसन्न करने...

  • एक पीपल का पत्ता बदल सकता है आपका भाग्य

    हर कोई यही चाहता है कि उसे कभी भी पैसे की कमी न हो। इसलिए आज कल के समय में हर कोई ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाने की होड़ मे लगा हुआ है। बहुत से लोग होते हैं वो मेहनत तो करते हैं फिर भी उनके अमीर बनने की कोशिश बस कोशिश ही रहकर रह जाती है। लोगों की इन समस्याओं का खात्मा करने के लिए ज्योतिष शास्त्र में...

  • शुक्ल सप्तमी पर स्नान करने से होती है मोक्ष की प्राप्ति

    कमोदा तीर्थ पर 16 को लगेगा शुक्ला सप्तमी मेला कुरुक्षेत्र। गांव कमोदा के श्री काम्यकेश्वर महादेव मंदिर एवं तीर्थ पर सावन माह की 16 सितम्बर को रविवारीय शुक्ला सप्तमी मेला आयोजित होगा। कहा जाता है कि तीर्थ में शुक्ला सप्तमी के शुभ अवसर पर स्नान करने से मोक्ष प्राप्त होती है। ग्रामीणों ने मेले की...

  • अगर आपके मस्तक पर हैं तीन रेखाएं तो समझ लें....

    समुद्रशास्त्र एक ऐसा शास्त्र है जिसमें व्यक्ति के अंगों के आधार पर उसके भविष्य, आदतों और अन्य कई बातों के बारे में पता लगाया जा सकता है। समुद्रशास्त्र में मस्तक की रेखाओं को लेकर भी वर्णन मिलता है कि कैसे एक व्यक्ति अपने मस्तक की रेखाओं से अपनी उम्र के बारे में जान सकता है। इसके लिए किसी भी व्यक्ति...

  • आराध्य हैं तुलसी देवी

    तुलसी देवी का पौधा जिस भी घर में है वहां से बीमारी दूर रहती है। हवा जिस ओर तुलसी की सुगंध को ले जाती है वहां के लोगों को पाशविक प्रवृत्तियों से मुक्त करती है। जिस घर में तुलसी होती है वहां तीनों लोकों के स्वामी विष्णु निवास करते हैं, ऐसा पद्मपुराण, उत्तराखंड में उल्लेखित है। तुलसी सभी द्वारा...

  • घर में भगवान की एेसी मूर्तियां रखना है मना..!

    हिंदू धर्म में सुबह-सुबह स्नान आदि करके भगवान के दर्शन करना बहुत शुभ माना जाता है। मान्यता है कि एेसा करने से व्यक्ति के अंदर सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि वास्तु और ज्योतिष शास्त्र में भगवान की एेसी कई प्रतिमाओं के बारे में बताया गया है, जिनका दर्शन करने से अशुभ फलों...

  • पर्यटन/तीर्थस्थल: सिंहेश्वर स्थान: जहां दशरथ ने पुत्रेष्टि यज्ञ किया था

    देवाधिदेव महादेव बाबा सिंहेश्वर नाथ की नगरी मुंगेर से बीस मील दूर दौराम मधेपुरा नामक स्टेशन के नजदीक है। कहा जाता है कि इस स्थान पर प्राचीन काल में महर्षि श्रृंगी का आश्रम था। इस स्थान के विषय में प्रचलित है कि यह क्षेत्र प्राचीन काल में जंगल से भरा हुआ था। दूर-दूर से चरवाहे अपनी गाय-भैंस लेकर यहां...

  • अपने बेडरूम के वास्तु को इस तरह रखें सही

    शयनकक्ष के वास्तु का हमारी शांति और सुकून से गहरा संबंध है। शयनकक्ष ही वह जगह है जहां जाकर शांति और आराम के कुछ पल बिताए जाते हैं। वास्तु सम्मत शयनकक्ष हमारे कष्टों को दूर करता है और हमारे जीवन में प्रसन्नता लाता है। वहीं अगर शयनकक्ष में वास्तुदोष हो तो न ठीक से नींद आती है और न ही किसी काम में...

  • महिलाओं के नाखूनों से जानें उनके स्वभाव के बारे में..

    वास्तुशास्त्र में जहां घर और व्यवसाय को लेकर क्या सही है और क्या नहीं इसके बारे में बताया गया है वहीं भारतीय ज्योतिष के एक प्रमुख अंग सामुद्रिक शास्त्र में व्यक्ति के अंगों को लेकर वर्णन किया गया है। इसमें ये बताया गया है कि व्यक्ति के किस अंग का क्या प्रभाव उसके जीवन पर पड़ता है। व्यक्ति के अंगों...

  • जानिए! क्यों रखा जाता है भगवान कृष्ण की इस प्रिय चीज को घर में

    भाद्रपद माह की अष्टमी तिथि को जन्माष्टमी मनाई जाती है, इस दिन लोग पूरी श्रद्धा से व्रत रखते हैं और पूरे दिन भगवान श्री कृष्ण की भक्ति में लीन रहते हैं। इस बार 2 सितंबर रविवार को अष्टमी तिथि रात्रि 8 बजकर 46 मिनट से 3 सितंबर को शाम 7 बजकर 19 मिनट तक रहेगी। इसी कारण कुछ लोग 2 सितंबर को जन्माष्टमी...

  • प्राकृतिक तरीके से फिट रहने के कुछ मंत्र

    - फल खाने से पहले, खाने के साथ या खाने के बाद में न खाएं। फल एक समय के भोजन के स्थान पर खाएं। - फल हमेशा एक समय पर ही तरह का खाएं। जैसे सेब, केला, संतरा एक साथ दो से तीन खा सकते हैं, पर एक एक मिला कर साथ में न खाएं। - जितना श्रम करें, उतना ही खाना खाएं । - खाना भूख लगने पर ही चबा चबा कर खाएं। -...

  • सैकड़ों साल पुराने बांके बिहारी मंदिर में जन्माष्टमी की मचेगी धूम, बेमिसाल व अद्भुत नक्काशी के लिए विख्यात है मंदिर

    हमीरपुर। उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले में सैकड़ों साल पुराने बांके बिहारी मंदिर में सोमवार से जन्माष्टमी की धूम मचेगी। इसके लिए तैयारी शुरू कर दी गई हैं। यह मंदिर अतीत में स्वतंत्रता संग्राम की यादें आज भी संजोए है तथा इसी मंदिर से अंग्रेजों के खिलाफ स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने हल्ला बोला था।...

Share it
Share it
Share it
Top