Read latest updates about "धर्म -अध्यात्म" - Page 2

  • घर में वास्तु दोष, भगवान गणेश करेंगे दूर, जानिए कैसे

    प्रथम पूज्य भगवान श्री गणेश को सुख, शांति और समृद्धि के दाता हैं और इसलिए किसी भी शुभ काम को करने से भगवान गणेश की पूजा की जाती है। उनकी पूजा मात्र से ये सारे काम निर्विघ्न रूप से सम्पन्न होते हैं। माना जाता है कि गणेशजी की आराधना के बिना वास्तु देवता की संतुष्टि नहीं होती है। इसलिए माना जाता है कि...

  • यहां भगवान जगन्नाथ स्वामी की एक झलक पाने हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुँचते हैं

    पन्ना,। मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में हर साल आयोजित होने वाली रथयात्रा के लिए प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। देश की तीन सबसे पुरानी व बड़ी रथयात्राओं में पन्ना की रथयात्रा भी शामिल है। ओडिशा के जगन्नाथपुरी की तर्ज पर यहां आयोजित होने वाले इस भव्य धार्मिक समारोह में राजसी ठाट-बाट और वैभव की...

  • ऋग्वेद विश्वदर्शन का प्रथम उद्भव

    -हृदयनारायण दीक्षित ऋग्वेद विश्वदर्शन का प्रथम उद्भव है। ऋग्वेद के कवि ऋषि सोचने की दार्शनिक दृष्टि के प्रथम अग्रज हैं। वे प्रकृति के गोचर प्रपंचों को ध्यान से देखते हैं। इन प्रपंचों की गति व विधि के प्रति जिज्ञासु होते हैं। वे प्रत्यक्ष को स्वीकार करते हैं लेकिन प्रत्यक्ष देखने से प्राप्त...

  • घर के मंदिर में सूर्य देव की प्रतिमा जरूर रखें और हर दिन उनकी पूजा करें

    रविवार का दिन सूर्य देव का दिन माना जाता है। इस दिन सूर्य देव की पूजा की जाती है और अर्घ्य दी जाती है। हिन्दू धर्म में पांच ईष्ट देव बताए गए है, उनमे से एक सूर्य देव भी हैं। कहा जाता है कि ईष्ट देव की पूजा विघि के अनुसार करने फल की प्राप्ति होती है। कहा जाता है कि ईष्ट देव की पूजा हर दिन करने पर घर...

  • घर में है व‌िष्‍णु या श्री कृष्‍ण की मूर्त‌ि तो पूजा में नहीं करें यह गलती..

    आपके घर के मंद‌िर में भगवान व‌िष्‍णु और श्री कृष्‍ण की मूर्त‌ि जरुर होगी। शास्‍त्रों के अनुसार ज‌िन घरो में बाल गोपाल और श्री व‌िष्‍णु की मूर्त‌ियां हो उन्हें भगवान की पूजा में बहुत ही सावधानी रखनी चाह‌िए और पूजा में कुछ चीजों को लेकर गलत‌ियां नहीं करनी चाह‌िए। भगवान व‌िष्‍णु और बाल गोपल को ब‌िना...

  • गरीब हो या अमीर दान से जुड़ी यह बातें हर किसी को जानना चाहिए..

    दान का सीधा सा अर्थ है देना। लेकिन इसका जिक्र जब भी किसी सराहनीय और अवश्य किए जाने लायक काम के तौर पर किया जाता है तो उसका अर्थ है किसी की सेवा सहायता के लिए कुछ देना। उस तरह देना कि किया गया अवदान जिसे दिया गया है, उसे किसी न किसी तरह समृद्ध और समर्थ बनाता हो। देने का यह भाव खुद की दुनिया का...

  • व्यक्ति के जीवन में उथल-पुथल मचाते हैं ये दो ग्रह

    व्यक्ति की कुंडली में स्थित नौ ग्रह उसके जीवन पर अच्छा और बुरा प्रभाव डालते हैं। अगर ग्रहों की स्थिति ठीक हो तो इससे व्यक्ति के जीवन में खुशियों का संचार होता है वहीं ग्रहों की स्थिति ख्रराब होने पर व्यक्ति को अनेक प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। आपको बता दें कि ज्योतिष...

  • ऋग्वेद में अग्नि उपासना

    अग्नि ऋग्वेद के प्रतिष्ठित देवता हैं। ऋग्वेद के मंत्रोदय के पहले से ही भारत के लोग अग्नि उपयोग व तत्वदर्शन से सुपरिचित थे। वैदिक ऋषियों ने अग्नि की सर्वव्यापकता और सर्वसमुपस्थिति का साक्षात्कार किया था। वैदिक साहित्य के विद्वान डॉ. कपिलदेव द्विवेदी ने वेदों में अग्नि उल्लेख के 2483 मंत्र बताये हैं।...

Share it
Top