जम्मू-कश्मीर में स्वास्थ्य सेवाओं पर जोर, 800 डॉक्टरों की नियुक्ति होगी

जम्मू-कश्मीर में स्वास्थ्य सेवाओं पर जोर, 800 डॉक्टरों की नियुक्ति होगी

श्रीनगर जम्मू-कश्मीर प्रशासनिक परिषद ने रविवार को चिकित्सा अधिकारियों की संख्या में वृद्धि के लिए 800 डॉक्टरों को भर्ती करने के फैसले को मंजूरी दे दी।

प्रशासन के एक प्रवक्ता ने बताया कि राज्यपाल सत्य पाल मलिक की अध्यक्षता में एक बैठक में शनिवार शाम को प्रशिक्षण आरक्षित पदों की संख्या को मौजूदा 6 प्रतिशत से बढ़ा कर 20 प्रतिशत तक करने के फैसले को मंजूरी दे दी गयी है। इसके अलावा स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग में चिकित्सा अधिकारियों के संबंध में प्रतिनियुक्ति रिजर्व को 4 प्रतिशत से बढ़ा कर 20 प्रतिशत तक कर दिया गया है।

उन्होंने बताया कि वर्तमान में 3781 चिकित्सा अधिकारी और 3151 ड्यूटी पोस्ट है जबकि 630 रिजर्व पद हैं। रिजर्व पदों में वृद्धि के बाद चिकित्स अधिकारियों की कुल संख्या 4,726 हो जाएगी।

इसके अलावा एक अन्य फैसले में प्रशासन ने राजस्व विभाग द्वारा भूमि की पहचान और हस्तांतरण के साथ जम्मू और कश्मीर में दो मेडी सिटी की स्थापना के लिए नीति दस्तावेज को भी मंजूरी दे दी है।

प्रवक्ता ने कहा कि जम्मू-कश्मीर सरकार स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी पर जोर दे रही है ताकि लोगों को अच्छी और हर जगह पर चिकित्सा सेवाएं प्राप्त हो सके। उन्होंने कहा कि स्वाथ्य ढांचे में सुधार को बढ़ावा देने के लिए यह स्वास्थ्य देखभाल निवेश नीति-2019 के तहत किया जा रहा है।

Share it
Top