Read latest updates about "संबंध" - Page 2

  • चुंबन है सैक्स की सही शुरूआत

    अमेरिकी विज्ञानियों के एक शोध ने सच को सामने लाकर चौंका दिया है। रग्टर यूनिवर्सिटी की एंथ्रोपोलेजिस्ट डॉक्टर हेलन फिशन ने सर्वेक्षण पूरा कर परिणाम सामने रखा। दिसम्बर 2009 में एजेंसी के माध्यम से रिपोर्ट सामने आई थी। इस ताजा शोध के मुताबिक वर्तमान समय में पुरूष चुंबन प्रक्रि या को सैक्स का सबसे...

  • कैसे मनाएं रूठे पति को

    पति-पत्नी में से किसी एक से कोई गलती हो जाती है तो दूसरे का नाराज होना स्वाभाविक है। अक्सर पुरूष मानते हैं कि पत्नियां जब नाराज होती हैं तो बड़ी मुश्किल से मानती हैं पर आजकल के पति भी इस मामले में पीछे नहीं हैं। पत्नी के सिर्फ 'सॉरी' कह देने भर से उनकी नाराजगी दूर नहीं होती। वैसे तो 'सॉरी' जैसे...

  • जब दांपत्य में ऊष्मा घटने लगे

    अनुभूति और तथागत के विवाह को अभी सात वर्ष पूरे नहीं हुए हैं पर 'सेवन ईयर्स इच' की स्थिति उन्हें बुरी तरह सालने लगी है। जीवन को नीरसता ने आ घेरा है। वही रूटीन-वही भागदौड़ वाली जि़न्दगी। कार्यभार होने के कारण अनुभूति अपनी दोनों बेटियों सीता और मीता को भी समय नहीं दे पाती। उनकी परवरिश उसे मात्र बोझ...

  • अच्छी जीवन साथी बनें

    पत्नी ही पति की एक ऐसी करीबी दोस्त होती है जिसके साथ वो अपने गम और खुशियां बांट सकता है। पत्नी ही बच्चों और घर की देखभाल करती है। वह हर कदम में पति के साथ है किंतु कई बार वह पति की भावनाओं को ठीक से समझ नहीं पाती जिससे वो दुखी हो जाती है हालांकि वह खूबसूरत है, बुद्धिमान है और हर चीज में बेहतर है। ...

  • पत्नी से बलात्कार अमानवीय

    सीमा के विवाह को दस बरस हो चुके हैं। चार बच्चे हैं। उनका संयुक्त परिवार है और घर इतना बड़ा नहीं जहां बहुत प्राइवेसी हो। पति को यह दिखाई नहीं देता। बिजऩेस होने से समय की ऐसी खास पाबंदी भी नहीं है। पति महोदय को वक्त बेवक्त हमबिस्तर होने का जुनून चढ़ा रहता है। कमरे से निकलने के बाद सीमा जवान ननदों और...

  • पति, पत्नी और गुस्सा

    छोटी मोटी तकरार दांपत्य जीवन का एक अटूट हिस्सा है लेकिन जब यह तकरार गुस्से की सारी हदों को पार करते हुए रिश्तों के बंधन को तोडऩे लगे या बेहद खौफनाक अंजाम तक पहुंचने लगे तो चिंता का उपजना लाजमी है। पिछले कुछ सालों में विवाहित युगलों में बढ़ते तलाक के किस्सों या गुस्से में पति-पत्नी द्वारा एक दूसरे...

  • दांपत्य में बनी रहे मिठास

    क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्यों होता है कि कुछ दंपतियों के बीच प्रेम की गंगा बहती रहती है तो कुछ दंपति छोटी-मोटी बातों को भी लेकर झगड़ते रहते हैं? यदि गौर किया जाय तो ज्ञात होगा कि अविश्वास, अहम्, एक-दूसरे से छिपाव-दुराव, एक दूसरे की पसंद-नापसंद आदि कई कारण हैं जो दांपत्य जीवन में कटुता उत्पन्न...

  • जीजा-साली का नाजुक रिश्ता न बिगड़े

    हमारे समाज में जीजा-साली का रिश्ता अत्यन्त नाजुक माना गया है। इस रिश्ते में छेड़छाड़ को सामाजिक मान्यता मिली हुई है लेकिन कभी-कभी पति और बहन के बीच यह रिश्ता अपनी मर्यादाओं को भूलने लगता है। ऐसे में बड़ी दिक्कत आती है जिससे पत्नी को ही जूझना पड़ता है क्योंकि एक तरफ होता है उसका पति जिसके साथ वह...

  • बढ़ते जा रहे हैं विवाहपूर्व शारीरिक संबंध

    लगभग 18-20 वर्ष की आयु में युवा वर्ग में सेक्स के प्रति गहरा आकर्षण उत्पन्न हो जाता है। सभी जाति के युवकों में हर समय सेक्स संबंधी नई-नई जानकारी प्राप्त करने की उत्सुकता रहती है। सेक्स के प्रति अत्यधिक लगाव युवा वर्ग में शारीरिक संबंध बनाने का आधार बनता है। एक सर्वेक्षण के अनुसार 90 प्रतिशत...

  • जीवन का स्वीट पॉयजन है असंयम

    जीवन का सबसे बड़ा शत्रु है असंयम। इसके द्वारा जितनी हानि उठानी पड़ती है, उतनी हानि सौ दुश्मन मिलकर भी नहीं पहुंचा सकते। इंद्रियों की एवं मन की सामर्थ्य को सृजनात्मक कार्यों में प्रयुक्त करने की अपेक्षा जब हम उसका अपव्यय अनुपयुक्त दिशा में करते हैं तो वह शक्ति न केवल व्यर्थ ही चली जाती है वरन् उसके...

  • जानिए प्रेम और वासना में अंतर

    युवावस्था उम्र का वह बसंत है जिसमें हृदय पटल पर प्रेम के फूलों का खिलना लाजिमी है। उम्र के इस मुकाम पर हर किसी की तमन्ना होती है कि उसे किसी का प्रेम मिले या किसी पर अपना प्रेम लुटाया जाए। इसी तमन्ना के प्रभाववश हमारे युवा प्रेम मार्ग पर चल पड़ते हैं किन्तु प्रेम के वास्तविक अर्थ व स्वरूप के ज्ञान...

  • मधुर व्यवहार है सुखी परिवार का आधार

    हर व्यक्ति की सबसे बड़ी इच्छा होती है कि उसका एक सम्पन्न व सुखी परिवार हो। घर की व्यवस्था इतनी उत्तम हो कि बड़ों को उचित आदर व श्रद्धा मिले तथा छोटों को स्नेह, भरपूर प्यार और आशीर्वाद। इस तरह के परिवार के निर्माण में हर व्यक्ति का परस्पर सहयोग होना आवश्यक है वरना कभी-कभी गृहक्लेश और वैचारिक...

Share it
Top