कालेधन पर रोक लगाने के लिए लाभ हस्तातंरित करने पर अंकुश लगाने वाली संधि पर हस्ताक्षर करेगा भारत

कालेधन पर रोक लगाने के लिए लाभ हस्तातंरित करने पर अंकुश लगाने वाली संधि पर हस्ताक्षर करेगा भारत

नयी दिल्ली ।सरकार ने कालेधन के सृजन पर रोक लगाने के उद्देश्य से बहुपक्षीय संधि पर हस्ताक्षर करने को आज मंजूरी प्रदान कर दी जिससे कर चोरी करने के उद्देश्य से बेस ईरोजन और लाभ स्थानातंरित करने पर लगाम लगाई जा सकेगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में यहां हुयी मंत्रिमंडल की बैठक में यह मंजूरी दी गयी। ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने बैठक में लिए गये निर्णयों की जानकारी देते हुये कहा कि वर्ष 2015 में जी 20और ओईसीडी की बैठक में मोदी ने यह मुद्दा उठाया था जिसके बाद दुनिया भर के देश इस संधि के लिए तैयार हुये और अब भारत इस संधि पर हस्ताक्षर करेगा। उन्होंने कहा कि सरकार ने हस्ताक्षर करने को मंजूरी प्रदान कर दी है। दुनिया भर में तीन हजार से अधिक संधि की गयी है जिससे संशोधित करना संभव नहीं है।
उप्र: लखनऊ में कर्नाटक कैडर के IAS अधिकारी की संदिग्ध मौत, मौत के दिन ही था जन्मदिन
इसी के मद्देनजर यह संधि की जा रही है ताकि कोई भी कम कर या शून्य कर वाले देशों में बेस ईरोजन या लाभ हस्तातंरित नहीं कर सकेगा। कंपनियां विशेषकर बहुराष्ट्रीय कंपनियां कर चोरी करने के उद्देश्य से लाभ हस्तातंरित करती है। यह हस्तातंरण ऐसे देशों की इकाइयों में किया जाता है जहां बहुत कम कार्पोरेट कर है या जहां यह कर शून्य है।
 

Share it
Top