राष्ट्रमंडल स्वर्ण विजेता सुमित ने जॉर्जियाई पहलवान को दी पटखनी

राष्ट्रमंडल स्वर्ण विजेता सुमित ने जॉर्जियाई पहलवान को दी पटखनी


नयी दिल्ली। गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता पहलवान सुमित ने तूफानी प्रदर्शन करते हुए जार्जिया के पहलवान एवानओयदजे टेडो को 6-4 से पीटकर 43वें स्वर्गीय चौधरी हुकम सिंह स्मृति अंतर्राष्ट्रीय दंगल में सबसे बड़ी कुश्ती जीत ली।

पद्मभूषण से सम्मानित महाबली सतपाल हर वर्ष यह दंगल अपने पिता की याद में बवाना में करवाते हैं। दंगल में जार्जिया के पहलवानों सहित देश के 400 पहलवानों ने हिस्सा लिया। सबसे बड़ी कुश्ती में छत्रसाल स्टेडियम अखाड़े के सुमित ने जार्जिया के टेडो को पराजित किया।

दूसरी बड़ी कुश्ती में छत्रसाल स्टेडियम के सतेंद्र ने जार्जिया के अखोबादजे जुराब को 10-3 के बड़े अंतर से हराया। तीसरी बड़ी कुश्ती में छत्रसाल के हितेंद्र ने पंजाब के मंजीत को चित्त किया।

सतपाल ने खुद कुश्तियों का संचालन किया और इन मुकाबलों को देखने के लिए 10 हजार से ज्यादा दर्शक मौजूद थे। दंगल में मुख्य अतिथि स्थानीय विधायक रामचंद्र और दो बार के ओलम्पिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार थे। महाबली सतपाल ने विजेता पहलवानों को इनामी राशि भेंट की।

दंगल में तीन बड़ी कुश्तियां एक-एक लाख रुपये की थीं जबकि इसके बाद 51 हजार रुपये से लेकर 100 रुपये तक की कुश्तियां भी हुईं। दंगल में 200 जोड़ों का फैसला हुआ। सुमित, सतेंद्र और हितेंद्र को एक-एक लाख रुपये की पुरस्कार राशि मिली।

दंगल की अन्य कुश्तियों में छत्रसाल के पवन ने नरेश अखाड़ा के अरुण को, नौसेना के संजीत ने रेलवे के नरेश को, रोहित ने दुष्यंत को और मनदीप ने सुनील को हराया। महिलाओं की कुश्ती में अंतर्राष्ट्रीय पहलवान सोनम मलिक ने सरिता को पराजित किया जबकि ईश्वर अखाड़े की सुदेश ने कासंडी की निक्की को हराया।

Share it
Top