पुरूष पेयर ब्रिज में भारत को स्वर्ण

पुरूष पेयर ब्रिज में भारत को स्वर्ण

जकार्ता। भारत के प्रणब बर्धन और शिबानाथ सरकार की जोड़ी ने 18वें एशियाई खेलों में शनिवार को ब्रिज स्पर्धा के पुरूष युगल वर्ग में स्वर्ण पदक दिला दिया। ब्रिज के इस खेल में मिले स्वर्ण के साथ भारत ने एशियाई खेलों में सर्वाधिक 15 स्वर्ण जीतने के अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बराबरी कर ली है। भारत ने आखिरी बार 1951 में एशियाई खेलों के पहले संस्करण में 15 स्वर्ण पदक जीते थे। 60 वर्षीय बर्धन और 56 साल के सरकार की शीर्ष रैंक टीम ने पुरूष युगल ब्रिज स्पर्धा के स्वर्ण पदक मुकाबले में सर्वाधिक 384 अंकों के साथ स्वर्ण अपने नाम किया जो शनिवार के दिन मुक्केबाजी में अमित पंघल के बाद भारत का दूसरा स्वर्ण पदक रहा। इन खेलों में ताश के खेल में यह भारत का कुल तीसरा पदक है। इससे पहले पुरूष टीम और मिश्रित टीमों ने दो कांस्य दिलाये हैं।

इस स्पर्धा का रजत पदक चीन के लिक्शिन यांग और गांग चेन ने जीता 378 अंकों जबकि कांस्य पदक हांगकांग के मैक फाई क्वोक तथा लाइ वाई कित (374) और इंडोनेशियाई के 71 साल के हेंकी लासुत और 72 वर्षीय फ्रेड एडी मनप्पो (374) की टीमों को मिला। ब्रिज की महिला युगल स्पर्धा में हेमा देवरा और मरियाने करमाकर की भारतीय टीम 349 अंकों के साथ सातवें नंबर पर रही। वहीं मिश्रित युगल में किरन नदार और बाचीराजू सत्यनारायण की टीम 333 अंकों के साथ पांचवें और हिमानी खांडेवाल तथा राजीव खांडेवाल की टीम 327 अंक लेकर सातवें पायदान पर रही।

Share it
Top