बीसीसीआई का अध्यक्ष बनते ही दादा को लगेगा सात करोड़ का झटका

बीसीसीआई का अध्यक्ष बनते ही दादा को लगेगा सात करोड़ का झटका


कोलकाता। दुनिया के सबसे धनी क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड (बीसीसीआई) का अध्यक्ष बनते ही बंगाल के राजकुमार कहे जाने वाले टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को सात करोड़ का झटका लगने वाला है। एक रिपोर्ट से इस बात का खुलासा हुआ है। आगामी 23 अक्टूबर को सौरव गांगुली के नेतृत्व में बीसीसीआई के प्रशासकों की नई टीम कमाल संभाल लेगी। उसके बाद गांगुली 10 महीनों तक बोर्ड के अध्यक्ष के तौर पर काम करेंगे। इस बीच उन्हें सात करोड़ का नुकसान कैसे होगा इस बारे में रिपोर्ट में बताया गया है कि गांगुली फिलहाल क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल के अध्यक्ष भी हैं। इसके अलावा वह विभिन्न क्रिकेट मैचों में कमेंट्री भी करते हैं। क्रिकेट से जुड़े टीवी शो में एक्सपर्ट की भूमिका भी निभाते हैं। आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स की टीम के साथ बतौर मेंटर काम कर रहे थे लेकिन बीसीसीआई के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभालने के बाद इन सभी कार्यों को अलविदा कहना होगा। इसके लिए उन्हें मीडिया कॉन्ट्रैक्ट रद्द करने होंगे। सभी विज्ञापनों के लिए मौजूदा सभी वाणिज्यिक करारों को खत्म करना होगा।

वह कमेंट्री भी नहीं कर पाएंगे और आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स की टीम के मेंटर के तौर पर भी काम नहीं कर सकेंगे। इन तमाम कार्यों को छोड़ने के कारण उन्हें सात करोड़ रुपये का नुकसान होगा। दरअसल बीसीसीआई के नए नियमों के अनुसार कोई भी सदस्य लगातार एक साथ बोर्ड से जुड़े दो पदों पर नहीं रह सकता। क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल भी बीसीसीआई का एक हिस्सा है इसलिए उन्हें वह पद भी छोड़ना होगा। वैसे बोर्ड के नए नियमों के अनुसार कोई भी सदस्य लगातार छह सालों तक किसी एक पद पर रह सकता है। उसके बाद उसे पद छोड़ना ही होगा। सौरव गांगुली पिछले पांच सालों से क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल के अध्यक्ष हैं। ऐसे में उन्हें एक साल पहले ही यह पद छोड़ देना पड़ेगा जिसके कारण उन्हें नुकसान उठाना पड़ सकता है।

Share it
Top