रोहित का तूफानी शतक, भारत ने खड़ा किया 260 का पहाड़

रोहित का तूफानी शतक, भारत ने खड़ा किया 260 का पहाड़

इंदौर। ओपनर और कप्तान रोहित शर्मा (118) के करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी और लोकेश राहुल (89) के बेहतरीन पारियों के दम पर भारत ने श्रीलंका के खिलाफ तीन मैचों की ट्वंटी-20 सीरीज के दूसरे मैच में शुक्रवार को पांच विकेट पर 260 रन का पहाडऩुमा स्कोर बना लिया। भारत ट्वंटी-20 क्रिकेट इतिहास में सर्वाेच्च स्कोर बनाने से चार रन से दूर रह गया। ट्वंटी-20 क्रिकेट के इतिहास में सर्वाेच्च स्कोर आस्ट्रेलिया के नाम है जो उसने श्रीलंका के खिलाफ 263 रन का बनाया था। श्रीलंका ने यहां होल्कर स्टेडियम में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। लेकिन रोहित ने अपने तूफानी शतक से मेहमान टीम के फैसले को गलत साबित कर दिया। रोहित ने मात्र 43 गेंदों पर 118 रन की ताबड़तोड़ विस्फोटक शतकीय पारी खेली। कप्तान रोहित ने मात्र 35 गेंदों पर 11 चौके और आठ छक्कों की बदौलत अपना शतक पूरा कर लिया और ट््वंटी-20 में सबसे तेज शतक पूरा करने के दक्षिण अफ्रीका के डेविड मिलर के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली। मिलर ने इस वर्ष अक्टूबर में बंगलादेश के खिलाफ 35 गेंदों पर शतक जड़ा था जो ट््वंटी-20 में सबसे तेज शतक है।
30 साल के रोहित का ट्वंटी-20 में यह दूसरा शतक है। उन्होंने 43 गेंदों पर 12 चौकों और 10 छक्कों की मदद से 118 रन की शतकीय पारी खेली जो ट्वंटी-20 में उनका सर्वाेच्च स्कोर है। रोहित ने 91 प्रतिशत रन बाउंड्री से हासिल किये। इससे पहले उनका सर्वाेच्च स्कोर 106 रन का था जो उन्होंने अक्टूबर 2015 में धर्मशाला में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बनाया था। रोहित ने ओपनर लोकेश राहुल (89) के साथ पहले विकेट के लिए 12.4 ओवर में 165 रन की शतकीय साझेदारी की जो ट्वंटी-20 में भारत का सर्वाेच्च ओपनिंग साझेदारी है। रोहित को तेज गेंदबाज दुष्मंता चमीरा ने अकिला धनंजय के हाथों कैच कराया।

Share it
Top