आस्ट्रेलिया से हारकर भारत की उम्मीदें टूटीं

आस्ट्रेलिया से हारकर भारत की उम्मीदें टूटीं

इपोह। भारत एक और निराशाजनक प्रदर्शन करते हुये विश्व चैंपियन आस्ट्रेलिया से मंगलवार को 2-4 से हार गया जिससे उसकी 27वें अजलान शाह कप हॉकी टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचने की उम्मीदें लगभग टूट गयीं। भारतीय पुरूष टीम मैच के 40वें मिनट तक 0-4 से पिछड़ गयी थी। भारत ने हालांकि 52वें और 53वें मिनट में लगातार दो गोल किये लेकिन यह उसे मैच में वापिस लाने के लिये काफी नहीं थे। भारत को टूर्नामेंट में तीन मैचों में दूसरी हार का सामना करना पड़ा जबकि आस्ट्रेलिया ने लगातार तीसरी जीत हासिल कर फाइनल का दावा मजबूत कर लिया।
भारत अपने पहले मैच में ओलंपिक चैंपियन अर्जेंटीना से 2-3 से हार गया था जबकि उसका अगला मैच गत चैंपियन इंग्लैंड से 1-1 से बराबर छूटा था। आस्ट्रेलिया ने इससे पहले इंग्लैंड को 4-1 से और मलेशिया को 3-1 से हराया था। दिन के एक अन्य मैच में इंग्लैंड ने आयरलैंड को 4-1 से पराजित किया। भारतीय टीम को अब बुधवार को मेजबान मलेशिया से और शुक्रवार को आयरलैंड से खेलना है।
भारत ने पहले दो क्वार्टर में आस्ट्रेलिया को मात्र एक गोल की बढ़त तक रोके रखा था। पहला क्वार्टर गोलरहित रहा था और आस्ट्रेलिया ने दूसरे क्वार्टर में 28वें मिनट में मिले पेनल्टी स्ट्रोक पर बढ़त बनायी। कप्तान मार्क नोल्स ने पेनल्टी स्ट्रोक पर यह गोल किया। तीसरा क्वार्टर शुरू होते ही आस्ट्रेलिया ने पांच मिनट के अंतराल पर तीन गोल दागकर भारतीय चुनौती को तहस नहस कर दिया। एरेन जालेवस्की ने 35वें और डेनियल बील ने 38वें मिनट में मैदानी गोल दागकर आस्ट्रेलिया को 3-0 से आगे कर दिया। आस्ट्रेलिया ने 40वें मिनट में मिले पेनल्टी कार्नर पर 4-0 की बढ़त बना ली। आस्ट्रेलिया का चौथा गोल ब्लेक गोवर्स ने किया। भारत ने अंतिम 10 मिनट में बेहतर खेल दिखाया और इस दौरान दो गोल किये। भारत ने यदि यही खेल शुरूआती तीन क्वार्टर में दिखाया होता तो मैच का परिणाम कुछ और हो सकता था। भारत के दोनों गोल मैदानी रहे और रमनदीप सिंह की स्टिक से निकले। रमनदीप ने 52वें और 53वें मिनट में मैदानी गोल कर भारत की शर्मनाक हार का अंतर कम किया।

Share it
Top