वर्ल्ड लीग की तैयारी सही दिशा में: मरीने

वर्ल्ड लीग की तैयारी सही दिशा में: मरीने

भुवनेश्वर। भारतीय सीनियर पुरूष हॉकी टीम अपने अगले सबसे बड़े अभियान हॉकी वर्ल्ड लीग फाइनल 2017 की तैयारियों के अंतिम पड़ाव में पहुंच चुकी है और कोच शुअर्ड मरीने का मानना है कि खिलाड़ी सही दिशा में अग्रसर हैं।
ओडिशा के भुवनेश्वर में एक दिसंबर से शुरू होने वाले वल्र्ड लीग फाइनल के लिये भारतीय पुरूष टीम ने गुरूवार से कलिंगा स्टेडियम में कोच मरीने के मार्गदर्शन में अपनी ट्रेनिंग शुरू की। टीम इंडिया के खिलाडियो ने सुबह के सत्र में अपनी ट्रेनिंग शुरू की। भारत के अभियान की शुरूआत टूर्नामेंट में गत चैंपियन आस्ट्रेलिया के खिलाफ होगी जबकि इसी दिन इंग्लैंड और जर्मनी के बीच मैच होगा।
43 वर्षीय हॉलैंड के मरीने ने बताया कि फिलहाल उनका ध्यान पूरी तरह से ट्रेनिंग में खिलाडियो की जी और रणनीतिक तैयारियों पर है। पहले दिन 18 सदस्यीय टीम ने 30 मिनट तक आधे मैदान पर एक दूसरे के साथ मैच खेला। उन्होंने 90 मिनट तक चले अभ्यास सत्र के बाद कहा हमारा पहला अभ्यास सत्र ठीक गया। कलिंगा स्टेडियम में आना अच्छा रहा क्योंकि मैं खिलाडियो के साथ पहली बार यहां आया हूं। लेकिन टीम के खिलाड़ी यहां हॉकी लीग में कई मैच खेल चुके हैं इसलिये उनके लिये यह घरेलू मैदान जैसा है।
मरीने ने कहा कि वह अगले एक सप्ताह तक वह ट्रेनिंग सत्र के दौरान खिलाडियो के साथ लय को बनाये रखना चाहते हैं। कोच ने कहा हमारा ध्यान फिलहाल खिलाडियो की लय और तेजी को बनाये रखना है क्योंकि मुख्य टूर्नामेंट में अब कुछ ही दिन बचे हैं। हमारी बेंगलुरू में राष्ट्रीय कैंप में तैयारी अच्छी रही थी और हम अपने स्तर को ऊंचा रखना चाहते हैं। हमने आपस में ही कई मैच भी खेले हैं।
भारतीय हॉकी टीम अपनी तैयारियों को पुख्ता करने के लिये ओलंपिक स्वर्ण विजेता अर्जेंटीना के साथ 27 और 28 नवंबर को अभ्यास मैच भी खेलेगी। मुख्य कोच ने कहा, मेरे लिये सबसे अहम प्रदर्शन है। रूपिंदर पाल सिंह और बीरेंद्र लाकड़ा वापसी कर रहे हैं और वह आस्ट्रेलिया के साथ खेलने से पूर्व अभ्यास मैच भी खेलेंगे। अभ्यास मैच से फायदा मिलता है और हमें इससे फर्क नहीं पड़ता कि इंग्लैंड भी हमारे ग्रुप में है।

Share it
Top