बैडमिंटन लीग की नीलामी में सभी नजरें सिंधू पर

बैडमिंटन लीग की नीलामी में सभी नजरें सिंधू पर

हैदराबाद। वोडाफोन प्रीमियर बैडमिंटन लीग के तीसरे सीजन के लिए सोमवार को होने वाली नीलामी में इस साल देश और दुनिया के 120 नामी-गिरामी खिलाड़ी शामिल हो रहे हैं और नीलामी में सभी नजरें इस बात पर रहेंगी कि भारतीय स्टार पी वी सिंधू को इस बार कितनी कीमत मिलती है। वल्र्ड नम्बर-1 डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसन , महिला वल्र्ड नम्बर-1 ताइवान की ताए जू यिंग, रियो ओलम्पिक चैम्पियन स्पेन की कैरोलिना मारिन और भारत की स्टार पीवी सिंधू के लिए सबसे अधिक बोली लगने की उम्मीद है। सिंधू को पिछले वर्ष उनके ओलम्पिक में रजत पदक जीतने के बावजूद काफी कम कीमत मिली थी लेकिन इस साल विश्व चैंपियनशिप में रजत और कोरिया ओपन का खिताब जीतने के बाद उनकी कीमत बढऩे की उम्मीद है। ये खिलाड़ी हर टीम मालिक की सूची में होंगे और इसी कारण यह नीलामी काफी रोचक होने वाली है। प्रत्येक फ्रेंचाइजी को अपनी टीम बनाने के लिए 2.12 करोड़ रुपये खर्च करने की आजादी होगी। भारतीय बैडमिंटन संघ की देखरेख में आयोजित होने वाले पीबीएल ने सबसे अमीर लीग के रूप में पहचान कायम कर ली है और इसी कारण इसमें हर साल टॉप खिलाड़ी हिस्सा लेते हैं। इस साल टीमें छह करोड़ रुपये के पुरस्कार के लिए प्रतिस्पर्धा करती नजर आएंगी।
इस साल 10 ओलम्पिक पदकधारी (जिनमें तीन एक से अधिक पदक जीतने वाले खिलाड़ी शामिल हैं) ने हाल ही में समाप्त बीडब्ल्यूएफ वल्र्ड चैम्पियनशिप-2017 में पदक जीतने वाले आठ खिलाडिय़ों के साथ नीलामी में शामिल होने की पुष्टि कर दी है। इस कारण दिसम्बर में होने वाली इस लीग में अब तक की सबसे अच्छी खेप उतरने की उम्मीद की जा रही है।
नीलामी में भारत के शीर्ष खिलाडिय़ों की मौजूदगी भी आकर्षण का केंद्र होगी। किदाम्बी श्रीकांत भी इस साल भी नीलामी में हैं और उनके रहते लीग का रोमांच बढ़ जाएगा। दिलचस्प बात यह है कि इस साल इस लीग में चीन का भी प्रतिनिधित्व होगा। इस साल वल्र्ड नम्बर-11 पुरुष खिलाड़ी तियान होवेई खुद को इस प्रतिस्पर्धा में झोंक रहे हैं। वोडाफोन पीबीएल-3 में इस साल आठ टीमें हिस्सा लेंगी। इस साल दो नई फ्रेंचाइजी टीमें लीग से जुड़ रही हैं। यह 22 दिसम्बर को शुरू होगी और 14 जनवरी, 2018 को समाप्त होगी। इस साल इसके मैच मुम्बई, हैदराबाद, लखनऊ, चेन्नई और गुवाहाटी के अत्याधुनिक खेल परिसरों में खेले जाएंगे।
प्रत्येक टीम एक खिलाड़ी पर अधिकतम 72 लाख रुपये खर्च कर सकती है। हर टीम के पास खर्च करने के लिए 2.12 करोड़ रुपये होंगे। मौजूदा विश्व चैम्पियन एलेक्ससेन, कोरिया के रोन वान हो, भारत के श्रीकांत पुरुष खिलाडिय़ों में सबसे महंगे बिक सकते हैं जबकि ताए जू, मारिन, ङ्क्षसधू , सायना नेहवाल, कोरिया की सुंग जी ह्यून और ताइवान की जू वेई वांग के लिए महिला वर्ग में सबसे अधिक बोली लग सकती है। इस साल नीलामी के माध्यम से चीन, कोरिया, ताइवान, थाईलैंड, जर्मनी और हांगकांग सहित 11 देशों के खिलाड़ी लीग में खेलते नजर आएंगे। सभी मौजूद खिलाडिय़ों को नीलामी प्रक्रिया से गुजरना होगा। छह मौजूदा टीमों को'राइट टू मैचÓ(आरटीएम) ऑप्शन लगाने का अधिकार होगा। इससे न सिर्फ नीलामी प्रक्रिया रोचक होगी बल्कि इससे हर टीम की रणनीतिक समझ भी सामने आएगी। नीलामी को लेकर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए बीएआई के अध्यक्ष और पीबीएल के चेयरमैन हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा, Þपीबीएल बैडङ्क्षमटन में ग्लोबल ब्रांड बन चुका है। दुनिया और देश के बेहतरीन खिलाडिय़ों की मौजूदगी इसकी इस साख पर मुहर लगाती है। हम तीसरे सीजन के साथ वापस आ चुके हैं और हमें इसकी खुशी है। हमें उम्मीद है कि तीसरा सीजन खिलाडिय़ों के साथ-साथ प्रशंसकों के लिए भी रोचक साबित होगा। हम इस लीग को बीतते वक्त के साथ बड़ा, बेहतर और विश्वस्तरीय बनाने के प्रयास में हैं और इस सम्बंध में हम अपनी ओर से कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेंगे। 24 दिनों तक चलने वाली इस लीग में आठ टीमें-दिल्ली एसर्स, मुम्बई रॉकेट््स, बेंगलुरू ब्लास्टर्स, चेन्नई स्मैशर्स, हैदराबाद हंटर्स, नार्थ ईस्टर्न वॉरियर्स, अहमदाबाद स्पैश मास्टर्स औ्र अवध वॉरियर्स एक्शन में दिखेंगे। पीबीएल सीजन-3 का प्रसारण स्टार स्पोट््र्स नेटवर्क पर होगा और इसकी लाइव स्ट्रीमिंग हॉटस्टार पर होगी।

Share it
Top