सतपाल के शिष्य सुमित ने जीता हुकम सिंह दंगल

सतपाल के शिष्य सुमित ने जीता हुकम सिंह दंगल

नयी दिल्ली। द्रोणाचार्य अवार्डी महाबली सतपाल के शिष्य सुमित ने रोहतक के मेहर सिंह को 4-0 से पराजित कर यहां बवाना के राजीव गांधी स्टेडियम में आयोजित 42वें स्वर्गीय हुकम सिंह स्मृति दंगल में सबसे बड़ी कुश्ती जीत ली। पद्म भूषण से सम्मानित सतपाल के छत्रसाल स्टेडियम अखाड़े के हिंद केसरी पहलवान सुमित ने हरियाणा केसरी मेहर को संघर्षपूर्ण मुकाबले में 4-0 को पराजित कर दर्शकों की वाहवाही लूट ली। सुमित को इस जीत से एक लाख रूपये की पुरस्कार राशि मिली। एक लाख रूपये की एक अन्य बड़ी कुश्ती में छत्रसाल के ही सतेंद्र मलिक ने पानीपत के सुरजीत को 1-0 से पराजित किया। महिलाओं में एशियाई चैंपियनशिप की रजत विजेता दिल्ली की सरिता मान ने मध्यप्रदेश की सुषमा को 5-0 से हराकर 21000 रूपये का पुरस्कार जीता। महिलाओं की एक अन्य बड़ी कुश्ती में ईश्वर अखाड़ा रोहतक की रीना ने मध्यप्रदेश की शालिनी पवार को 8-0 से धोकर 21000 रूपये जीते। महाबली सतपाल यह दंगल अपने पिता हुकम सिंह की स्मृति में कराते हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरङ्क्षवद केजरीवाल ने दंगल पहुंचकर सबसे बड़ी कुश्ती का उद्घाटन किया। उन्होंने महिला पहलवानों के भी हाथ मिलाये। केजरीवाल ने इस अवसर पर कहा हमारी सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में खेल कूद को बढ़ावा देने के लिये हरसंभव प्रयास करेगी और खिलाड़यिों को सुविधाएं देगी।
सतपाल ने दंगल का खुद संचालन किया। उन्होंने इस अवसर पर कहा इस साल हमारे पास पहलवानों से जितनी प्रविष्टियां आई उसे देखते हुये हम अगले साल इसे दो दिन करने पर विचार कर रहे हैं। साथ ही हम तीन विदेशी टीमों को भी दंगल में आमंत्रित करेंगे। दंगल में दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार ने पहलवानों का उत्साह बढ़ाया। इस अवसर पर बवाना क्षेत्र के विधायक रामचंद्र, द्रोणाचार्य अवार्डी कोच रामफल, यशवीर और महासिंह राव, कुश्ती फेडरेशन के पूर्व महासचिव राज सिंह तथा पार्षद धर्मप्रकाश और पवन सहरावत भी मौजूद थे। इस एकदिवसीय दंगल में 250 जोड़ों का फैसला हुआ और लगभग 10 लाख रूपये की पुरस्कार राशि वितरित की गयी। एक अन्य महत्वपूर्ण मुकाबले में छत्रसाल के पवन ने झज्जर के मोहित को चित कर 25 हजार रूपये जीते। सोनीपत के दीपक ने झज्जर के नीरज को 5-0 से हराकर 25 हजार रूपये की पुरस्कार राशि जीती। छत्रसाल के दीपक ने भैंसवाल के रिकी को 3-1 से हराया और 25 हजार रूपये जीते। वायुसेना के रजनीश ने कैप्टन चांदरूप अखाड़े के वीरेंद्र को 3-1 से हराकर 15 हजार रूपये की पुरस्कार राशि जीती।

Share it
Top