देश का नेतृत्व करना गर्व की बात : हरमनप्रीत

देश का नेतृत्व करना गर्व की बात : हरमनप्रीत

नयी दिल्ली भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान और ड्रैग फ्लिकर हरमनप्रीत सिंह ने जापान के टोक्यो में ओलंपिक टेस्ट इंवेंट जीतकर वतन लौटने के बाद कहा कि देश का नेतृत्व करना उनके लिए गर्व की बात है।

भारत ने फाइनल में न्यूजीलैंड को हराकर खिताब जीता था। 23 वर्षीय हरमनप्रीत ने कहा, ''टीम ने न्यूजीलैंड, जापान और मलेशिया जैसी टीमों के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन किया और मेरे लिए यह काफी गर्व की बात है कि मैंने पहली बार टीम का नेतृत्व किया।

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने अगले साल टोक्यो में होने वाले ओलंपिक के लिए इस वर्ष के अंत में होने वाले ओलंपिक क्वालिफायर टूर्नामेंट से पहले जापान में आयोजित हुए ओलंपिक टेस्ट इवेंट में शानदार प्रदर्शन किया और फाइनल में न्यूजीलैंड को 5-0 से हराकर खिताबी मुकाबला जीता था।

भारतीय टीम ने पहले मैच में मलेशिया को 6-0 से हराया लेकिन दूसरे मैच में उसे न्यूजीलैंड से 1-2 से हार का सामना करना पड़ा। भारतीय टीम ने आखिरी लीग मैच में मेजबान जापान को 6-3 से हराकर फाइनल में स्थान बनाया।

हरमनप्रीत ने कहा, ''पिछले ओलंपिक में खेलना मेरे लिए अच्छा अनुभव रहा लेकिन हम उम्मीदों के अनुरुप प्रदर्शन करने में विफल रहे थे। हालांकि टीम अगले वर्ष होने वाले ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने के लिए एकाग्र है और हम ऐसा करने में सफल होंगे।

Share it
Top