चेज और होल्डर के अर्धशतकों ने विंडीज को संभाला

चेज और होल्डर के अर्धशतकों ने विंडीज को संभाला

हैदराबाद। रोस्टन चेज(नाबाद 98) और कप्तान जेसन होल्डर(52) के अर्धशतकों से वेस्टइंडीज ने भारत के खिलाफ दूसरे और अंतिम टेस्ट के पहले दिन शुक्रवार को संकट से उबरते हुये सात विकेट पर 295 रन बना लिये। वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में पहले बल्लेबाजी करते हुये अपने पांच विकेट मात्र 113 रन पर गंवा दिये थे। लेकिन चेज ने विकेटकीपर शेन डाउरिच(30) के साथ छठे विकेट के लिये 69 रन और कप्तान होल्डर के साथ सातवें विकेट के लिये 104 रन जोड़कर अपनी टीम को संभाल लिया। चे

ने 174 गेंदों पर नाबाद 98 रन में सात चौके और एक छक्का लगाया। डाउरिच ने 63 गेंदों पर 30 रन में चार चौके और एक छक्का लगाया जबकि होल्डर ने 92 गेंदों पर 52 रन में छह चौके लगाये। तेज गेंदबाज उमेश यादव ने होल्डर को विकेटकीपर रिषभ पंत के हाथों कैच कराकर सातवें विकेट की साझेदारी को तोड़ा। यादव ने इससे पहले डाउरिच का भी विकेट लिया था। 26 साल के चे
ने भारत के ते और स्पिन गेंदबाज का डटकर सामना करते हुये चौथे शतक की तरफ अपना कदम बड़ा दिया है। होल्डर ने अपना आठवां अर्धशतक बनाया और कप्तानी की जिम्मेदारी भरी पारी खेली। भारत की ओर से यादव ने 23 ओवर में 83 रन पर तीन विकेट, चाइनामैन गेंदबा कुलदीप यादव ने 26 ओवर में 74 रन पर तीन विकेट और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने 24.2 ओवर में 49 रन पर एक विकेट लिया।

सुबह टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला विंडीज को रास नहीं आया और उसने लंच तक अपने तीन विकेट मात्र 86 रन पर गंवा दिये। विंडीज ने लंच से पूर्व अपने तीन अहम बल्लेबाज कीरन पावेल(22), कार्लाेस ब्रेथवेट(14) और शाई होप(36) के विकेट गंवाये। ब्रेथवेट और पावेल ने पहले विकेट के लिये 32 रन जोड़े लेकिन ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने उन्हें रवींद्र जडेजा के हाथों कैच कराकर भारत को पहली सफलता दिला दी। पावेल ने 30 गेंदों में चार चौके लगाये। इसके बाद ब्रेथवेट देर तक नहीं टिक सके और कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव ने उन्हें पगबाधा करा दिया। होप को फिर ते

गेंदबा उमेश यादव ने पगबाधा किया और लंच तक केवल 86 रन पर वेस्टइंडी के तीन विकेट निकाल दिये। होप ने 68 गेंदों की पारी में पांच चौके लगाये। अश्विन, कुलदीप और उमेश को एक एक विकेट मिला। लंच के बाद विंडीज का चौथा विकेट जल्द ही गिर गया। शिमरोन हेत्माएर (12) को कुलदीप ने पगबाधा कर दिया। कुलदीप ने फिर सुनील अम्बरीस को जडेजा के हाथों कैच कराकर वेस्टइंडीज का स्कोर 39वें ओवर में पांच विकेट पर 113 रन कर दिया। अम्बरीस ने 26 गेंदों में 18 रन बनाये।

चेज ने फिर डाउरिच के साथ पारी को संभालने का काम किया। लेकिन चायकाल से कुछ पहले उमेश यादव ने डाउरिच को पगबाधा कर इस साझेदारी को तोड़ दिया। चायकाल के समय वेस्टइंडीज का स्कोर छह विकेट पर 197 रन था। चायकाल के बाद चेज ने होल्डर के साथ शतकीय साझेदारी निभाई। दोनों ने इस दौरान आसानी से रन बटोरे। दिन की समाप्ति से कुछ पहले यादव ने होल्डर का विकेट लेकर इस साझेदारी को तोड़ा। चेज स्टम्प्स तक अपने शतक से मात्र दो रन दूर रह गये हैं। उनके साथ देवेंद्र बिशू दो रन बनाकर क्री

पर हैं। भारत को दिनभर चार गेंदबाज के साथ खेलना पड़ा। पदार्पण करने वाले तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर अपने दूसरे ओवर की चौथी गेंद के बाद ही चोटिल होकर मैदान से बाहर हो गये।

सुबह शार्दुल भारत के 294वें टेस्ट खिलाड़ी बने लेकिन उनके लिये पदार्पण यादगार नहीं रहा। अपने दूसरे ओवर की चौथी गेंद के बाद ही वह लडख़ड़ाते नजर आये और संभवत: मांसपेशियां खिंच जाने के कारण उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा। चौथी गेंद के बाद वह जब लडख़ड़ाये तो कप्तान विराट और चेतेश्वर पुजारा उनके पास पहुंचे। हाल के एशिया कप में भी शार्दुल को ग्रोइन चोट के कारण टूर्नामेंट के बीच से ही स्वदेश लौटना पड़ा था और यहां अपने दूसरे ओवर में ही उन्हें बाहर जाना पड़ा। शार्दुल के बाहर जाने से उमेश यादव को अकेले ही तेज गेंदबाज की जिम्मेदारी उठानी पड़ी।

Share it
Top