अदिति शर्मा चैलेंजर ट्रॉफी में दिखायेंगी दम

अदिति शर्मा चैलेंजर ट्रॉफी में दिखायेंगी दम

झांसी। उत्तर प्रदेश में झांसी की उदीयमान महिला क्रिकेटर अदिति शर्मा ने अपने दमदार खेल के बूते सीनियर महिला ट्वंटी-20 इंडिया चैलेंजर ट्रॉफी में इंडिया रेड टीम में जगह बनाने में सफलता हासिल की है।

जिला क्रिकेट संघ के सचिव बृजेंद्र यादव ने शनिवार को कहा, जबरदस्त प्रदर्शन के बल पर अदिति इंडिया रेड टीम की हिस्सा बन चुकी है। खेल के प्रति संजीदगी और जुनून ने अदिति को इस मुकाम पर पहुंचाया और वह लगातार अच्छे प्रदर्शन की वजह से देश और प्रदेश की विभिन्न टीमों का हिस्सा बन पायी। अदिति का अंडर-19 और अंडर-23 में प्रदर्शन लाजवाब रहा और अब वह सीनियर महिला टीम का हिस्सा है। इस बार ट््वंटी-20 के प्रारूप में इंडिया रेड टीम में उसने अपनी जगह पक्की कर ली है। अपनी इस सफलता पर बेहद प्रसन्न अदिति ने कहा कि आज वह जिस मुकाम पर है, वहां तक बिना परिवार और कोचों की मदद से पहुंचना असम्भव था। महिला क्रिकेट जैसे खेल में उसके परिवार ने जब उसकी रूचि देखी तो कभी उसे हतोत्साहित नहीं किया बल्कि हमेशा और हर तरह से उसकी मदद को तैयार रहा। अदिति ने बताया कि अगर उसके स्कूली जीवन में कविता मैम एक स्पोट््र्स टीचर में रूप में नहीं आयीं होती तो खुद उसे नहीं पता कि आज वह कौन सा खेल खेल रही होती,खेलों का हिस्सा होती भी या नहीं। उन्होंने ही अदिति को महिला क्रिकेट के बारे में पूरी जानकारी दी और क्रिकेट खेलने के लिए प्रोत्साहित किया और यहां ध्यानचंद स्टेडियम में लाकर बताया कि इसी जगह पर क्रिकेट की तैयारी करायी जाती है। अदिति के अनुसार जिला क्रिकेट संघ के सचिव बृजेंद्र यादव ने भी उसे क्रिकेट में आगे बढने के लिए हरसंभव मदद दी। स्टेडियम के कोच सुनील कुमार सिंह ने अदिति को क्रिकेट की बारीकियों को सीखने और समझने मे बहुत मदद की । सुनील सर की मदद से वह अपनी बेसिक तकनीक को काफी मजबूती दे पायी।

पिछले दो तीन वर्षों में अदिति के प्रदर्शन में जबरदस्त बदलाव आया है जिसके कारण उसका प्रदर्शन लगातार बेहतर होता चला गया तो इसका श्रेय उसके वर्तमान कोच अवनीश सचान को है। अविनाश सर की मदद से ही वह अंडर-23 ट््वंटी-20 मे विदर्भ के खिलाफ नाबाद 59 और राजस्थान के खिलाफ नाबाद 35 जैसे सराहनीय प्रदर्शन कर पायी जिसके बाद उसे रेड इंडिया टीम के लिए चुना गया। अदिति ने कहा कि वह मेहनत करने के साथ ही अपनी कमियों और दूसरों की मजबूतियों से सीख लेकर आगे बढ़ेंगी। उसने उम्मीद जतायी कि इंडिया रेड टीम का हिस्सा बन वह जीत के लिए अपना शत प्रतिशत देने का प्रयास करेगी ताकि आगे सीनियर महिला टीम में उसका स्थान सुनिश्चित हो सके।

Share it
Share it
Share it
Top