सफल वैवाहिक जीवन - कुछ जरूरी टिप्स

सफल वैवाहिक जीवन - कुछ जरूरी टिप्स

पति व पत्नी अपनी सभ्यता, संस्कृति और आदर्श कभी न भूलें। हमेशा स्वदेशी वस्तुओं का ही प्रयोग करें।

जब भी अपने मन में गिला-शिकवा या शक हो तो आमने-सामने बैठकर प्यार से मन की बात कह कर समझौता कर लें। कागज पर भी मन की बात लिखकर दी जा सकती है।

एक दूसरे की आवश्कताओं, रूचि व इच्छा पर ध्यान दीजिए जिससे कलह न हो।

पति-पत्नी एक-दूसरे के पूरक व सहयोगी हैं। इनमें कोई कम्पीटिशन नहीं होना चाहिए।

पति-पत्नी को एक-दूसरे के कार्य में मदद करनी चाहिए जिससे अकेले पर ही बोझ न पड़े।

पति पत्नी को चाहिए कि एक-दूसरे को समय-समय पर छोटे-छोटे उपहार देते रहें। पसंदीदा खाने की चीजें घर में लाएं या बाहर जाकर खाएं। कभी-कभी घूमने भी जाएं। इससे परिवर्तन तो होता है, प्यार भी बढ़ता है।

दिन-रात की व्यस्तता में भी कुछ क्षण ऐसे निकालिए कि दैनिक जीवन की समस्याएं दोनों बैठकर हल कर सकें।

प्रेम संबंध साथी की इच्छा से ही स्थापित करें व उसे प्यार से तैयार करें। एक दूसरे की चाहत का ध्यान रखें। एक-दूसरे से फ्रेंक रहें। जब भी मौका मिले, आपस में छोटी-मोटी शरारतें करते रहें। इससे आपसी प्यार बढ़ेगा व मजबूत होगा।

जो भी कार्य करें, आपसी समझौते से। घर आए मेहमान की इज्जत बराबर करें चाहे वह किसी भी पक्ष का हो।

दोनों की बातचीत के दौरान यदि 'मैं' शब्द के बजाए 'हम' शब्द का प्रयोग होता रहे तो खुशनसीब विवाहित जीवन अवश्य व्यतीत होगा।

- अलका अमरीश चौधरी

Share it
Share it
Share it
Top