Read latest updates about "राज काज" - Page 1

  • इससे मंत्रियों को नहीं पड़ता फर्क

    पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से पूरा देश परेशान है, लेकिन केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले का कहना है कि चूंकि वो मंत्री हैं इसलिए वो इससे न तो पीडि़त हैं और न ही परेशान हैं। अठावले के इस बयान को जो लोग अटपटा और हैरान करने वाला बता रहे हैं उन्हें समझना होगा कि यही हकीकत है, क्योंकि सरकारी खर्चे पर चलने...

  • विपक्षी महागठबंधन में मायावती का पेंच

    -दिव्य उत्कर्ष भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ विपक्ष का महागठबंधन मनाने की तैयारी जोर-शोर से हो रही है। लेकिन इसमें बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने सम्मानजनक सीट लेने का दावा कर गठबंधन के योजनाकारों की पेशानी पर बल डाल दिया है। मायावती का कहना है कि अगर उन्हें सम्मानजनक संख्या में सीट नहीं मिली, तो वह...

  • ट्रंप के निशाने पर क्यों आया भारत

    -योगिता पाठक अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के साथ टैरिफवार शुरू कर रखा है। उनको लगता है कि चीन विश्व व्यापार संगठन (डब्लूटीओ) के प्रावधानों और अपनी आक्रामक मार्केटिंग नीतियों के बल पर अमेरिका का धन लूट रहा है। यही वजह है कि अमेरिका में दो अलग-अलग चरणों में चीन के उत्पादों पर शुल्क भी...

  • कितना कारगर होगा एफडीसी दवाओं पर प्रतिबंध

    -पप्पू गोस्वामी केंद्र सरकार ने एक झटके में 328 फिक्स डोज कंबीनेशन यानी एफडीसी दवाओं पर प्रतिबंध लगा कर स्वास्थ्य संगठनों की ओर से लंबे समय से की जा रही मांगों को पूरा करने का काम किया है। सरकार के इस कदम का विश्लेषण करने के पहले यह समझना जरूरी है कि एफडीसी दवाएं होती क्या हैं। ये दवाएं दो या दो...

  • कैसे हों हमारे हिन्दी के मास्टर जी

    -/आर.के.सिन्हा...क्या कभी आपने सोचा कि हिन्दी के स्कूल का अध्यापक इतना दीन-हीन सा क्यों नजर आता है? उसे लगता है कविताएं, दोहे और निबंध पढ़ाकर वो बहुत महान कार्य कर रहा है। उसने शायद सोचा भी नहीं होगा कि उसे अपने में समय के साथ जरूरी बदलाव भी करने होंगे। उसे अपने को कुशल अध्यापक के रूप में सिद्ध...

  • बदलाव इमरान के बूते की बात नहीं

    पहली बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बने इमरान खान के इरादे तो बहुत नेक और तरक्की पसंद हैं, लेकिन जो हालात हैं उससे समझा जा सकता है कि वो कुछ खास कर नहीं सकते हैं। इसी बात को सामने रखते हुए पाकिस्तानी लेखक तारिक फतह ने कहा कि इमरान चाहते जो भी हों, लेकिन वो पाकिस्तान के हालात बदल नहीं सकते हैं,...

  • बैंकों के गुनहगारों पर कसे शिकंजा

    भारत की अर्थव्यवस्था कुलांचे भर रही है। लेकिन इसका सबसे बड़ा विरोधाभास ये है कि देश के सरकारी बैंकों की हालत लगातार खस्ताहाल होती जा रही है। हाल में जारी हुए एक आकलन के मुताबिक सरकारी क्षेत्र के बैंकों की कुल गैर निष्पादित परिसंपत्तियां (एनपीए) साढ़े ग्यारह लाख करोड़ रुपये के आंकड़े को भी पार कर...

  • राहुल गांधी का हिन्दू हो जाना

    यह तो सभी जान चुके हैं कि गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने खुद को जनेऊधारी हिन्दू और शिवभक्त बताया था और अब उन्होंने मानसरोवर यात्रा करते हुए यह सिद्ध कर दिया है कि वाकई वो धर्मपरायण व्यक्ति हैं। यह अलग बात है कि उनकी इस यात्रा के सियासी मायने भी निकाले जा रहे हैं।...

  • गले की फांस बनता रुपया और पेट्रोलियम

    -पप्पू गोस्वामी भारत दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश है। विकास दर में लगातार उछाल की स्थिति बनी हुई है। आर्थिक मोर्चे पर ये दोनों ही बातें काफी आशाजनक संकेत देती हैं। लेकिन जैसे ही बात रुपये और पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत की आती है, सारा उत्साह ठंडा हो जाता है और लगता है कि देश के...

  • पेट्रोल पंपों पर मोदी जी की तस्वीर

    पेट्रोल और डीजल की आसमान छूती कीमतों के मद्देनजर शिवसेना ने केंद्र और राज्य में अपनी सहयोगी पार्टी भाजपा से कहा है कि अगर वह जनता के लिए 'अच्छे दिन' नहीं ला सकती तो कम से कम ईंधन के दामों को कम करके लोगों के जीवन में स्थिरता ही ला दे। इसके साथ ही शिवसेना का दावा है कि तमाम पेट्रोल पंपों को...

  • आज जब इंटरनेट पर "इडियट" सर्च करने पर ट्रँप,चाय वाला,फेंकू, सर्च करने पर नरेन्द्र मोदी और पप्पू सर्च करने पर राहुल गाँधी जैसा चेहरा आता है तो क्या कहेंगे आप?

    क्या गूगल पर लगाम लगा पाएंगे ट्रम्प? क्या यह संभव है कि दुनिया की नजर में विश्व का सबसे शक्तिशाली व्यक्ति भी कभी बेबस और लाचार हो सकता है? क्या हम कभी अपनी कल्पना में भी ऐसा सोच सकते हैं कि एक व्यक्ति जो विश्व के सबसे शक्तिशाली देश के सर्वोच्च पद पर आसीन है, उसके साथ उस देश का सम्पूर्ण...

  • अखिलेश पर भारी पड़ रही शिवपाल की नाराजगी

    - सियाराम पांडेय 'शांत'समाजवादी पार्टी के संस्थापक अध्यक्ष व संरक्षक मुलायम सिंह यादव के अनुज शिवपाल यादव ने समाजवादी सेकुलर मोर्चा का गठन कर लिया। इससे बीएसपी से तालमेल कर सियासी लाभ उठाने में जुटी समाजवादी पार्टी का जोर का झटका लगा है। अगर समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने समय रहते यादव की...

Share it
Share it
Share it
Top