कासना पुलिस ने बाइक चोर पकड़े 9 बाइक बरामद

कासना पुलिस ने बाइक चोर पकड़े 9 बाइक बरामद

ग्रेटर नोएडा। कासना कोतवाली पुलिस ने चार ऐसे चोरों को गिरफ्तार किया है जो अलीगढ़ से बसों में बैठकर दिल्ली एनसीआर में आते थे। और फिर मोटरसाइकिल की चोरी की वारदात को अंजाम दिया करते थे। पुलिस ने पकड़े गए बदमाशों से 9 मोटरसाइकिल सहित दो तमंचे व चार कारतूस व दो चाकू सहित मोटरसाइकिल का ताला तोड़ने के लिए दो मास्टर चाभी सहित अन्य सामान बरामद की है। पुलिस के आला अधिकारी को कहना है कि पकड़े गए चोरों के द्वारा दिल्ली-एनसीआर में चोरी की वारदातों को अंजाम दिया जा रहा था। जिसके बाद यह चोर इन मोटरसाइकिल का नंबर बदल कर दूसरे जनपदों में बेच दिया करते थे। जो मोटरसाइकिल बेचीं नहीं जाती थी। उन मोटरसाइकिल को यह लोग कटवाकर कबाड़ियों को बेच दिया करते थे। पुलिस के आला अधिकारियों का कहना है कि पकड़े गए बदमाशों के बाकी साथियों की जानकारी की जा रही है साथ ही उन कबाड़ियों की भी जानकारी की जा रही है जो कि चोरी के माल को खरीदा जा रहा था। ताकि इन सभी को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा सके। 15 अगस्त के चलते दिल्ली एनसीआर को हाईलाइट परखने के आदेश के बाद ग्रेटर नोएडा पुलिस अलर्ट नजर आ रही है।

जिसके चलते पुलिस ने ऐसे चोरों क गैंग का पर्दाफाश किया है। जोकि अलीगढ़ के रहने वाले हैं। और अलीगढ़ से बसों में बैठकर पहले ग्रेटर नोएडा आते थे। और फिर मोटरसाइकिल चोरी की वारदातों को अंजाम दिया करते थे। पुलिस को जानकारी मिली कि कुछ बदमाश चोरी की वारदातों को अंजाम देने के लिए ग्रेटर नोएडा में आए हुए हैं। जिस पर कासना कोतवाली पुलिस ने अपना जाल बिछा दिया और अल्फा कॉर्पोरेशन बेल्ट के पास चोरी करते हुए बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया पकड़े गए बदमाशों से पूछताछ में बदमाशों ने अपने बाकी साथियों का भी पता बता दिया जिस पर पुलिस ने कार्यवाही करते हुए ग्रेटर नोएडा मैं ही खंडार हो चुके एक मकान से पकड़े गए बदमाशों के बाकी साथियों को भी गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए बदमाशों से पुलिस ने दो मोटर साइकिल बरामद की है पकड़े गए बदमाशों का नाम विपिन कुमार, गौरव, रोबिन व प्रमोद बताए जा रहे हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि पकड़े गए बदमाश बड़े ही शातिर किस्म के बदमाश है। जो की चोरी की वारदातों को अंजाम देकर इन चोरी की मोटरसाइकिल से हाईवे होते हुए अलीगढ़ में अन्य जनपदों में भेज दिया करते थे। जो मोटरसाइकिल बिक नहीं पाती थी। और मोटरसाइकिल को यह लोग काट कर कबाड़ियों को बेक दिया करते थे।

Share it
Top