हत्या के विरोध में किया कोतवाली का घेराव...दलित समाज के लोगों ने आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर किया प्रदर्शन

हत्या के विरोध में किया कोतवाली का घेराव...दलित समाज के लोगों ने आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर किया प्रदर्शन

ग्रेटर नोएडा। दादरी कोतवाली क्षेत्र के गांव भोगपुर में एक सप्ताह पूर्व सैलून की दुकान करने वाले युवक को जबरन दुकान से उठाकर ले जाने के बाद पीट पीट हत्या करने के मामले में पुलिस द्धारा आरोपिओ को गिरफ्तार नही किये जाने के विरोध में ग्रामीण एंव भीम आर्मी ने कोतवाली गेट पर जी टी रोड जाम किया। तथा पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जाम के दौरान म्रतक के भाई ने मिटटी का तेल डालकर आत्म हत्या का प्रयास भी प्रयास किया। करीब ढाई घंटा बाद 10 दिन में हत्यारो को गिरफ्तार करने का आश्वासन देकर ग्रामीणो को शांत कर जाम खुलवाया। उसके बाद पुलिस ने वाहनो को सुचारू रूप से चलवाया। जाम लगने पर वाहन चालको ने बेहद परेशानी का सामना करना पडा।

ज्ञात हो कि कोतवाली दादरी क्षेत्र के गांव भोगपुर में देवेन्द्र गौतम सैलून की दुकान करता था। बीते 10 अप्रैल को शाम के समय के गांव के ही यतीश , सुशील , संजय शर्मा , शरद शर्मा और संजय कुमार शर्मा ने जबरन दुकान से उठाकर ले जाने के बाद गांव के जंगल में शराब पिलाकर पीट पीट कर हत्या कर दी। और शव को जंगल में फैक दिया था। इस मामले में कोतवाली में पांचो के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। घटना के करीब संवा महिना बीत जाने के बाद भी पुलिस ने नामजदो व हत्यारो को गिरफ्तार नही किया गया। जबकि पीडितो ने हत्यारो के गांव में खुले आम घूमने व पीडितो को जान से मारने की धमकी मिलने की शिकायत पुलिस क्षेत्राधिकारी दादरी से की गई। उसके बाद भी पुलिस द्वारा कार्रवाई नही किये जाने से नाराज ग्रामीण व भीम आर्मी कार्यकर्ता ब्रहस्पतिवार को दादरी बस अडडे पर एकत्र हुए। और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जीटी रोड जाम कर दिया। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने ग्रामीण महिला पुरूषो को समझाने का प्रयास किया लेकिन नाराज ग्रामीणो व भीम आर्मी के कार्यकर्ताओ ने एक नही सुनी। करीब दो से अधिक लोगो ने जीटी रोड पर वाहनो को आडे तिरछे लगवा दिया। तथा महिलाओ ने कतार बनाकर सडक पर बैठ गई। जाम लगने पर वाहनो की लंबी लाइन लग गई। जिससे वाहन चालक व आने जाने वाले लोग परेशानी का सामना करने को मजबूर हो गये। जाम में शिव नाडर विश्व विद्यालय की एम्बुलैंस भी फंस गई। हालाकि में कोई मरीज नही था। जाम को खलवाने के लिए बादलपुर , जारचा , दादरी , सूरजपुर आदि थानो का पुलिस बल भी पहुंच गया। लेकिन ग्रामीण ने जाम नही खोला। पुलिस ने धूममानकपुर व आरबीनार्थ कालेज के पास ने नगर बाइपास से वाहनो का डायवर्जन करा दिया। करीब ढाई घंटा बाद पुलिस अधीक्षक क्राइम व पुलिस क्षेत्राधिकारी दादरी ने मशक्कत कर ग्रामीणो को समझाकर शांत किया। और 10 दिन में मामले का खुलासा कर हत्यारो को गिरफतार करने का आश्वासन दिया। जिस पर ग्रामीण हुए और जाम खोला। जाम लगाने वालो में बीते 26 अप्रैल को जारचा रोड पर सरस्वती शिशु मन्दिर स्कूल के पास नाले में मिले दो युवको के शवो के परिजन शामिल थे। और हत्या कर शवो को नाले में डालने का आरोप लगा कर हत्या की खुलासा करने की मांग कर रहे थे। पुलिस ने जाम खुलवाने के बाद वाहनो को सुचारू रूप से चलवाने के बाद राहत की सांस ली।

पुलिस क्षेत्राधिकारी अवनीश कुमार का कहना है कि 10 दिन में दोनो मामलो का खुलासा करने आश्वासन दिया है। जल्द हत्यारो को गिरफ्तार किया जायेगा।

भोगपुर गांव निवासी देवेन्द्र गौतम की हत्या करने वालो की गिरफ्तारी नही होने से नाराज म्रतक का भाई राजेश गौतम ने जीटी रोड पर कोतवाली के सामने हंगामे के दौरान मिटटी का तेल डालकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। मिटटी तेल डालते ही पुलिस मे हलच लमच गई। और पुलिस ने तत्काल राजेश गौतम को हिरासत में ले लिया। और आनन फानन में कोतवाली में ले जाकर मिटटी का तेल साफ कराया।

Share it
Top