डीएम ने दिए विकास योजनाओं में गतिशीलता लाने के निर्देश

डीएम ने दिए विकास योजनाओं में गतिशीलता लाने के निर्देश

ग्रेटर नोएडा। जिलाधिकारी बीएन सिंह ने कलेक्ट्रेट के सभागार में विकास कार्यों एवं निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक में अध्यक्षता करते हुए समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि सभी विभागीय अधिकारियों के द्वारा अपने अपने विकास कार्यों निर्माण कार्यों एवं व्यक्तिगत परक लाभ योजना में गतिशीलता लाने के उद्देश्य से शासन की मंशा के अनुरूप कार्य करें और सभी में गुणवत्ता एवं मानक का विशेष ध्यान रखते हुए कार्य को पूर्ण करने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।

उन्होंने स्पष्ट किया कि विकास कार्यों एवं निर्माण कार्यों में शिथिलता को बहुत ही गंभीरता से ले कर दोषी अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। जिलाधिकारी ने विकास कार्यों की समीक्षा में कहा कि मानरेगा योजना के अंतर्गत लक्ष्य को पूरा करने के लिए स्थानीय आवश्यकता के आधार पर इस कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए और विकास कार्य करा कर नरेगा योजना में जॉब कार्ड मजदूरों को जोड़ने की कार्यवाही की जाए। उन्होंने महिला स्वयं सहायता समूह बनाए जाने पर भी बल दिया और परियोजना निदेशक डीआरडीए को निर्देश देते हुए कहा कि स्थानीय आवश्यकताओं के आधार पर महिला स्वयं सहायता समूह को डेवलप करने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए तथा उनके माध्यम से जो सामान तैयार किया जाए उनके विपणन का की व्यवस्था अधिकारियों के माध्यम से कराई जाए ताकि स्वयं सहायता समूह आगे बढ़ सके। जिलाधिकारी ने सांसद एवं विधायक निधि के कार्यों में भी समयबद्धता के साथ कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि स्वच्छता से संबंधित जो कार्यक्रम उनके माध्यम से संचालित किए जा रहे हैं उन्हें भी गुणवत्तापरक रूप से समय पर पूर्ण करने की कार्रवाई की जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि जिनके द्वारा शौचालय मानकों के अनुसार नहीं तैयार किए गए हैं उसमें भी कार्रवाई सुनिश्चित की जाए ताकि जनपद स्वच्छता कार्यक्रम में अग्रणी बन सके। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम योजना के अंतर्गत डीएम ने जिला पूर्ति अधिकारी को पात्र लाभार्थियों तक राशन पहुंचाने के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किए। जिलाधिकारी द्वारा इस अवसर पर जनपद में 50 लाख रुपए से अधिक लागत की परियोजनाओं की समीक्षा भी की और निर्माण एजेंसियों के अधिकारियों को स्पष्ट किया कि उनके द्वारा सभी कार्यों में गुणवत्ता एवं समयबद्धता का ध्यान रखते हुए कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने सीएनडीएस के द्वारा कलेक्ट्रेट आवासीय भवन तैयार किए गए कार्यों की गुणवत्ता खराब पाए जाने पर इसकी रिपोर्ट शासन भेजने के निर्देश दिए ताकि संबंधित प्रकरण उच्च स्तरीय जांच संभव हो सके। आयोजित महत्वपूर्ण बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह इस महत्वपूर्ण बैठक का संचालन कर रहे थे। इस अवसर पर परियोजना निदेशक डीआरडीए अवधेश कुमार जिला पंचायत राज अधिकारी वीरेंद्र कुमार सिंह जिला पूर्ति अधिकारी राज नारायण सिंह अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग विमल कुमार, जल निगम तथा अन्य निर्माण एजेंसियों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Share it
Share it
Share it
Top