बिल्डर के साथ निवेशकों की बैठक रही बेनतीजा

बिल्डर के साथ निवेशकों की बैठक रही बेनतीजा

ग्रेटर नोएडा। ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित हिमालयन प्राइड सोसायटी के निवेशकों की बिल्डर के साथ शनिवार को वार्ता हुई। इसमें डेढ़ सौ से ज्यादा निवेशक शामिल हुए। वार्ता के दौरान निवेशकों ने बिल्डर को प्रतिकर (किसानों के मुआवजे के नाम पर दी जाने वाली अतिरिक्त धनराशि) देने से मना कर दिया। वहीं बिल्डर निवेशकों से प्रतिकर धनराशि लेने की बात पर अड़ा रहा। करीब एक घंटे तक बिल्डर के साथ चली बैठक बेनतीजा रही। जिससे नाराज निवेशकों ने अब कोर्ट की शरण जाने का फैसला किया है। निवेशकों ने आरोप लगाया कि फ्लैटों पर कब्जा देने से पहले अतिरिक्त प्रतिकर धनराशि वसूलने की जिद पर बिल्डर अड़ा हुआ है। बता दें कि यह धनराशि किसानों को दिए गए 64.7 फीसद अतिरिक्त मुआवजे के नाम पर प्राधिकरण को देने के लिए वसूली जा रही है। निवेशकों ने दावा किया कि 2013 में प्राधिकरण अधिकारियों के साथ बैठक कर तय हुआ था कि अतिरिक्त मुआवजे का भार बिल्डर वहन करेंगे। निवेशकों पर यह भार नहीं डाला जाएगा। निवेशक अपनी फरियाद रेरा में भी लगा चुके हैं। रेरा ने भी निवेशकों के पक्ष में फैसला सुनाया था। निवेशकों का दावा है कि वार्ता के दौरान बिल्डर ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि पैसे दो या फिर कोर्ट कचहरी के चक्कर काटते रहो। बिना प्रतिकर धनराशि वसूले फ्लैटों पर कब्जा नहीं दिया जाएगा। निवेशकों ने कहा कि वह किसी भी कीमत पर बिल्डर को प्रतिकर नहीं देंगे। निवेशकों ने बिल्डर द्वारा मांगी गई प्रतिकर धनराशि को अवैध करार दिया है। वार्ता के बाद निवेशकों ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाने का फैसला किया है। बैठक में प्रवीण श्रीवास्तव, जितेंद्र झा, गौरव गुप्ता, आरके राजपूत, अंकुर चावला, अनुज गोयल समेत काफी संख्या में निवेशक मौजूद रहे।

Share it
Share it
Share it
Top