पुलिस ने किया रोडवेज कर्मी गोलीकांड का पर्दाफाश, बाइक व तमंचे समेत दो शूटर बंदी

पुलिस ने किया रोडवेज कर्मी गोलीकांड का पर्दाफाश, बाइक व तमंचे समेत दो शूटर बंदी


-प्रवीण वाल्मीकि के इशारे पर मारी गयी थी गोली

हरिद्वार। रुड़की में रोडवेज कर्मी को गोली मारे जाने की घटना का गंगनहर पुलिस ने शनिवार को खुलासा कर दिया है। इस मामले में कुख्यात प्रवीण वाल्मीकि के कहने पर गोली मारने की बात कही जा रही है। पुलिस ने इस मामले में एक शूटर समेत दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपितों से घटना में इस्तेमाल की गई बाइक और तमंचा भी बरामद कर लिया गया है। इस घटना में प्रवीण वाल्मीकि समेत चार लोगों को नामजद किया गया था।

उल्लेखनीय है कि गत 11 जुलाई को बाइक सवार दो बदमाशों ने रोडवेज कर्मी सुभाष को उनके नंद विहार स्थित आवास पर गोली मार दी थी। घटना में सुभाष गंभीर रूप से घायल हो गया था। उसका उपचार ऋषिकेश में चल रहा है। पूरी घटना पास लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गयी थी।

घटना का खुलासा करते हुए एसपी देहात नवनीत सिंह ने बताया घायल सुभाष की पत्नी चित्रा ने कोतवाली गंगनहर में तहरीर देकर बताया था कि प्रवीण वाल्मीकि ने उनके पति से पांच लाख फिरौती मांगी थी, जिसमें वाल्मीकि के करीबी मनीष उर्फ बॉलर एवं हिमांशु त्यागी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुभाष से प्रवीण की बात करवाई थी। फिरौती की रकम न देने पर उन्हें जान से मारने की धमकी दी गई थी।

इस मामले में हिमांशु और मनीष के अलावा लाखन व अन्य दो आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। घटना के खुलासे के लिए एसएसपी हरिद्वार में पुलिस एवं सीआईयू टीम का गठन किया था। गठित की गई टीम ने आसपास के जिलों में छापेमारी कर बदमाशों को पकड़ने के लिए दबिश दी। इस दौरान पुलिस ने एक शूटर समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया। आरोपितों के पास से घटना में इस्तेमाल की गई मोटरसाइकिल एवं दो तमंचे बरामद हुए।

पकड़े गए आरोपितों के नाम परमानपुर शरीफ निवासी विष्णु लोक कॉलोनी, रानीपुर हरिद्वार एवं हिमांशु त्यागी चंद्रमोहन निवासी आदर्श कॉलोनी रुड़की बताया गया है। आरोपितों ने बताया कि प्रवीण वाल्मीकि के कहने पर उन्होंने घटना को अंजाम दिया। सुभाष को गोली मारने से पहले वह उसके गांव फतेहपुर थाना देवबन्द गए थे। वहां सुभाष के भाई जोगेंद्र को गोली मारना चाहते थे , लेकिन सफल नहीं हो पाए। इसके बाद शूटर साबिर ने सुभाष के घर पहुंचकर उसे गोली मार दी और घटना को अंजाम देकर नहर पटरी से फरार हो गए। पुलिस को धोखा देने के लिए आरोपितों ने अपने कपड़े भी बदल लिए थे। बाकी आरोपितों की तलाश के लिए पुलिस दबिश दे रही है।


Share it
Top