भारत का बेशकीमती हीरा है ताज: नाईक...कहा- इसकी उपेक्षा करने वालों की निंदा होनी चाहिए

भारत का बेशकीमती हीरा है ताज: नाईक...कहा- इसकी उपेक्षा करने वालों की निंदा होनी चाहिए

जौनपुर। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने कहा है कि ताजमहल दुनिया की नजरों में भारत का भूषण है। अनमोल धरोहर के बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी अपने विचार स्पष्ट कर दिये हैं। श्री नाईक ने आज यहां वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी का उद्घाटन करने के बाद पत्रकारों से कहा कि ताज हमारी धरोहर है, यदि कोई उपेक्षा करता है या नमक डालने का काम करता है, तो उसकी निंदा होनी चाहिए। सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय, वाराणसी के कुलपति द्वारा कर्मचारियों की नियुक्ति पर रोक लगाने के बारे में उन्होंने कहा कि मेरे द्वारा और यूजीसी द्वारा कुछ गाईड लाईन दिये गये थे, लेकिन मेरे दिये गये गाईड लाईन की उपेक्षा करते हुए नियम विरूद्ध तरीके से पुराने विज्ञापन के आधार पर इण्टरव्यू लिया जा रहा था। मैने कल ही इस पर रोक लगा दी है। अब प्रदेश में आर्दश आचार संहिता लग गई है। आचार संहिता समाप्त होने के बाद कर्मचारियों की नियुक्ति की जाएगी।

Share it
Top