गैंगरेप की पीड़िता ने योगी से मांगी इच्छामृत्यु

गैंगरेप की पीड़िता ने योगी से मांगी इच्छामृत्यु

No
बलिया, 06 सितम्बर (हि.स.)। जिले के सहतवार थाना क्षेत्र स्थित गांव के एक गरीब परिवार की नाबालिग किशोरी के साथ गैंगरेप के कई महीने बीत गये हैं। परन्तु अभी तक उसे न्याय नहीं मिला है। न्याय व्यवस्था व सामाजिक ताने-बाने से आहत होकर किशोरी ने मुख्यमंत्री योगी को पत्र लिखकर इच्छा मृत्यु की मांग की है।
उत्तर प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सरकार द्वारा तमाम नियम व कानून बनाये गये हैं। इसके बावजूद भी छेड़छाड़ व दुष्कर्म जैसी घटनाआें में लगातार इजाफा हो रहा है। शोहदे लगातार छेड़छाड़ की घटनाओं को अंजाम देकर पुलिस को खुली चुनौती दे रहे हैं।
ऐसा ही मामला सहतवार थाना क्षेत्र के एक गांव में देखने को मिला है। पांच माह पूर्व नाबालिग किशोरी अपनी सहेली के बरगलाने पर पड़ोसी के घर में चली गयी, जहां पहले से मौजूद दो युवकों में से एक ने नाबालिग के साथ चाकू की नोक पर जबरन दुष्कर्म किया।
इसके बाद उसने किसी को न बताने की धमकी दी। पीड़िता लोक-लाज के चलते किसी से भी कुछ नहीं कह पायी। इसी दौरान नाबलिग जब गर्भवती हुई तो परिवार ने उससे पूछताछ की। मां के पूछने पर बच्ची ने आपबीती परिवार को बयां की। युवक के खिलाफ पीड़ित परिवार ने संबंधित थाने में तहरीर दी लेकिन पुलिस ने उनकी एक भी फरियाद नहीं सुनी और मामला दबा दिया।
जिलाधिकारी समेत महिला आयोग व राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के यहां पत्र लिखकर न्याय की मांग की। वहां से भी जब उसे न्याय नहीं मिला, तो पीड़ित परिवार ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर इच्छा मृत्यु की मांग की है। मुख्यमंत्री को पत्र लिखे जाने की जानकारी जब क्षेत्रीय सांसद नीरज शेखर को हुई तो उन्होंने पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने का पूरा भरोसा जताया है। उन्होंने यह भी कहा कि इस मामले को विधानसभा में उठाया जायेगा।
वहीं जब जिलाधिकारी से बातचीत की गई तो उन्होंने ने बताया कि इस पूरे घटनाक्रम को लेकर एसडीएम सदर के नेतृत्व में जांच टीम का गठन कर दिया गया है। मामले की जांच रिपोर्ट जल्द ही आने पर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी।

Share it
Top