सुलतानपुर : शादी की जिद पर अड़ी प्रेमिका को उतारा मौत के घाट, प्रेमी सहित तीन गिरफ्तार

सुलतानपुर : शादी की जिद पर अड़ी प्रेमिका को उतारा मौत के घाट, प्रेमी सहित तीन गिरफ्तार

-अज्ञात युवती के शव मिलने के मामले का पुलिस ने किया खुलासा


सुलतानपुर। कोतवाली देहात के बैजापुर गांव में बीते माह मिले अज्ञात युवती के शव का पुलिस ने गुरुवार को खुलासा करते हुए प्रेमी सहित तीन लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। पुलिस के मुताबिक युवती प्रेमी से शादी करने की जिद कर रही थी। इसलिए उसने उसे मौत के घाट उतार दिया।

पुलिस अधीक्षक हिमान्शु कुमार ने बताया कि कोतवाली देहात स्थित बैजापुर में बीते 10 सितम्बर को एक अज्ञात नग्न युवती का शव मिला था। कई दिनों तक शव को पहचान के लिए रख गया था। इसके बावजूद भी शव की शिनाख्त नहीं हो सकी थी।

बाद में जांच में सामने आया मृतक युवती धमौर थाना क्षेत्र के पलिया गांव निवासी थी। उसके पिता ने अपनी बेटी के गायब होने का मुकदमा धमौर थाने में बीते एक जुलाई को लिखवाया था। पुलिस का दावा है कि गिरफ्तार प्रेमी डुहिया निवासी धर्मेन्द्र यादव उर्फ मिठाई लाल पुत्र भारत प्रेमिका से शादी नहीं करना चाहता था। इसलिए उसने उसे रास्ते से हटा दिया। पुलिस को अभी और आरोपितों की तलाश है।

पुलिस ने हत्यारोपित प्रेमी के पिता भारत यादव पुत्र भगौतीदीन यादव (56) को भी हिरासत में लिया है। क्योंकि उसने अपने बेटे के गुनाहों पर पर्दा डालने के लिए उसकी मदद की थी। युवती घर से 12 किलोमीटर दूर शहर के एक कम्प्यूटर संस्थान में पढ़ाई कर रही थी। अचानक से वह गायब हो गई। इस मामले में प्रेमी और उसका बड़ा भाई बृजेश तथा उसकी पत्नी रीता भी नामजद हुई है। यह सभी आरोपित लंभुआ थाना क्षेत्र के डुहिया गांव के निवासी हैं।

प्रेमी सुल्तानपुर के राज होटल स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा में चपरासी था। उसका प्रेम प्रसंग लड़की के साथ चलने लगा था । प्रेमिका बढैयाबीर मोहल्ले में रहने लगी थी। आसपास के दुकानदारों ने फोटो देखकर इसकी तस्दीक की। योजना के मुताबिक प्रेमिका हत्या के एक दिन पहले मोटरसाइकिल से लड़की को बिठा कर घर के लिए निकला। बैजापुर स्थित सफेदा पेड़ के बाग में मारकर उसको लटका दिया। घटना को दूसरा रूप देने के लिए प्रेमी ने शव के साथ छेड़खानी भी की, जिससे लगे कि युवती के साथ दुष्कर्म जैसी घटना भी हुई।

शव मिलने पर पुलिस ने शिनाख्त के लिए कई जोन के थानों की पुलिस से सम्पर्क किया, लेकिन सफलता नहीं मिली। हत्याकांड पर करीब तीन हफ्ते तक पर्दा पड़ा रहा।

एसपी हिमांशु कुमार ने बताया कि युवती के परिजनों ने कपड़े, हाथ के कलावा, फोटो देखकर शव की पहचान की। पुलिस के अनुसार मई में लड़की के यहां शादी थी जिसमें हत्यारोपित प्रेमी धर्मेंद्र निमंत्रण में गया था। उसकी सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस के हाथ लगी है। यह भी चला है कि पिता भारत यादव अपने कातिल पुत्र को रिश्तेदारी में पुलिस से छिपाता रहा, जिसके कारण रिश्तेदार कपिल देव यादव को भी गुनहगार मानकर गिरफ्तार किया गया है।


Share it
Top