दिनदहाड़े सदर तहसील के समीप ठेकेदार की ताबड़तोड़ गोलियां मारकर हत्या


वारदात को अंजाम कर फरार हुए बदमाश

वाराणसी। शिवपुर थाना क्षेत्र के सदर तहसील के समीप सोमवार को मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने ठेकेदार बबलू सिंह (46) पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा कर उसकी हत्या कर दी। दिनदहाड़े हुई इस दुस्साहसिक वारदात से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सूचना पर आनन फानन में मौके पर आईजी जोन विजय सिंह मीणा, कमिश्नर दीपक अग्रवाल, एसएसपी आनन्द कुलकर्णी भी पहुंचे। पूछताछ और छानबीन में पुलिस ने मौके से छह खोखा भी बरामद किये। वारदात के समय बबलू सिंह के पास भी लाइसेंसी पिस्टल थी। पूरी तैयारी के साथ आये बदमाशों ने उसे संभलने का मौका ही नहीं दिया। ठेकेदार को सात गोलियां लगी। पुलिस अपराधियों की धरपकड़ में जुट गई है।

सारनाथ थाना क्षेत्र के लोहिया नगर निवासी नितेश सिंह उर्फ बबलू मूल रूप से चंदौली जिले के धानापुर का निवासी था। तीन भाइयों में सबसे बड़ा नितेश सिंह ठेकेदारी करने के साथ बस और ट्रक भी चलवाता है। गाजीपुर-बनारस रोड पर बबलू सिंह की रोजा और सहेली नाम से आठ बसें चलती हैं। आज सुबह बबलू सिंह अपने बुलेटप्रुफ फार्च्यूनर गाड़ी से तहसील में जमीन सम्बंधी कार्य से आया था।

तहसील के मुख्यद्वार के समीप गाड़ी खड़ी कर बबलू सिंह तहसील जा ही रहा था कि इसी दौरान सामने से मोटरसाइकिल सवार दो युवकों को आते देख तुरन्त गाड़ी की ओर भागा। यह देख बदमाशों ने बबलू सिंह का पीछा किया। दौड़ते हुए बबलू ने अपनी बुलेटप्रूफ गाड़ी का जैसे ही दरवाजा खोल ड्राइविंग सीट पर बैठना चाहा बदमाशों ने उस पर ताबड़तोड़ फायर झोंक दिया। भीड़ भरे क्षेत्र में बदमाशों ने बबलू सिंह को कुल सात गोलियां मारी। गोलियों से छलनी बबलू सिंह ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। इसके बाद बदमाश तेजी से शिवपुर बाइपास की ओर भाग निकले। क्षेत्रीय लोगों की सूचना पर मौके पर भारी फोर्स पहुंच गई। छानबीन में हत्‍या के पीछे प्रथमदृष्‍टया जमीन सम्बंधी विवाद का मामला सामने आ रहा है।

अपराधिक पृष्ठभूमि का था ठेकेदार

मृतक नितेश सिंह भी सारनाथ थाने का हिस्ट्रीशीटर बताया गया। वरुणा पार क्षेत्र में गत वर्षों हुए डॉ. वीपी सिंह हत्याकांड में भी बबलू का नाम आया था। बबलू सिंह के लोहिया नगर स्थित आवास पर कई वर्षों पूर्व गाजीपुर के कुख्यात बदमाशों पांचू और बंशी को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया था। चंदौली जिले के धानापुर थाना क्षेत्र के ओदरा का मूल बबलू के पिता वन विभाग में रेंजर से सेवानिवृत्त हैं। पच्चीस साल पहले नितेश उर्फ बबलू सिंह की शादी अनीता सिंह से हुई थी। उसके दो बेटे ऋषभ सिंह व प्रांजल हैं। उसकी पत्नी अनीता सिंह ने ब्लॉक प्रमुख का चुनाव लड़ा था, जो वह हार गई थी।


Share it
Top