वाराणसी : सम्पति के विवाद में दम्पति की गोली मारकर हत्या

वाराणसी : सम्पति के विवाद में दम्पति की गोली मारकर हत्या


वाराणसी। चेतगंज थाना क्षेत्र के काली महाल में शनिवार की सुबह कर्मकांडी ब्राम्हण दम्पति की गोली मार कर हत्या कर दी गई। अल सुबह हुई वारदात की जानकारी पाते ही पुलिस विभाग में हड़कम्प मच गया। आनन-फानन में एडीजी जोन, आईजी जोन, जिलाधिकारी, एसएसपी, एसपी सिटी भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गये। पूछताछ में वारदात के पीछे सगे भाइयों के बीच संपत्ति विवाद का मामला सामने आया है। आला अफसरों ने मृतक दम्पति के पुत्रों से पूछताछ के बाद हत्यारों को शीघ्र गिरफ्तार करने के लिए क्षेत्रीय पुलिस को निर्देश दिया।

काली महाल निवासी कृष्ण कुमार उपाध्याय (52) की विमल तीर्थ पिशाचमोचन कुंड पर कर्मकांड की गद्दी है। इन दिनों पितृपक्ष के कारण उनके गद्दी पर श्राद्ध करने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ जुट रही है। प्रतिदिन की भांति कृष्ण कुमार घर से स्नान ध्यान के बाद पिशाचमोचन गद्दी पर आने की तैयारी कर रहे थे। कृष्ण कुमार जैसे ही घर के बाहर निकले अचानक दो बाइक पर सवार पांच युवक वहां पहुंचे और उन्हें लक्ष्य कर गोली चला दी। गोली लगते ही कृष्ण कुमार चीख कर गिर पड़े। यह देख बदमाशों ने उन पर पुन: गोलिया दागी और घर में घुस गये। घर में कृष्ण कुमार की पत्नी ममता उपाध्याय (47) को बरतन साफ करते देख हमलावरों ने उन पर भी गोलिया चला दी। इसी बीच सामने कृष्ण कुमार का पुत्र पवन भी आ गया। हमलावारों ने उसे भी लक्ष्य कर गोली चला दी। लेकिन गोली मिस होने पर बदमाश असलहा लहराते गलियों के रास्ते भाग निकले। गोलियों की आवाज सुनकर तब तक पड़ोसी भी वहां जुट गये। सूचना पाकर एसपी दिनेश सिंंह, सीओ चेतगंज क्षेत्रीय पुलिस के साथ मौके पर पहुंच गये और परिजनों के सहयोग से घायल महिला को तत्काल अस्पताल पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।

एसपी सिटी दिनेश सिंह ने बताया कि परिवार में जमीनी विवाद और गद्दी के विवाद में मृतक कृष्ण कुमार का अपने भाई से झगड़ा चला आ रहा था। आज इसी को लेकर दोनों पक्षों के बीच कहासुनी हुई। इस दौरान गोली चली, जिसमें दंपत्ति की मौत हो गई है। मृतक के बेटे पवन उपाध्याय ने बताया कि जमीनी विवाद को लेकर चाचा से आए दिन झगड़ा होता रहता था। इसी को लेकर आज भी चाचा ने मेरे पिता की हत्या करने की धमकी दी। इसके कुछ देर बाद ही बदमाश आये और मेरे माता-पिता की हत्या कर दी।


Share it
Top