वाराणसी: हत्यारे बहनोई ने ही सेफ्टी टैंक में छिपाया विवाहिता का शव, गिरफ्तार

वाराणसी: हत्यारे बहनोई ने ही सेफ्टी टैंक में छिपाया विवाहिता का शव, गिरफ्तार


वाराणसी। बड़ागांव पुलिस ने 13 माह पूर्व एक युवती की हुई हत्या मामले का पर्दाफाश कर सेफ्टी टैंक से कंकालनुमा शव को बरामद कर लिया। युवती की निर्मम हत्या उसके सगे बहनोई ने की थी। रविवार को गिरफ्तार हत्यारोपित बहनोई प्रयागपुर गांव निवासी विनोद और सहयोगी वाहन चालक को मीडिया के सामने पेश किया गया।

सीओ बड़ागांव अर्जुन सिंह ने बताया कि चौबेपुर थाना क्षेत्र के बैकुंठपुर गांव निवासी विनोद कुमार गोड़ ने बीते शनिवार को बड़ागांव थाने में तहरीर दी थी कि उसकी छोटी बेटी अंतिमा उर्फ राजनंदिनी अपने ससुराल प्रयागपुर से गायब है। विनोद ने आशंका जताई कि बेटी के पति और ससुराल के अन्य लोगों ने उसकी हत्या कर शव कही छिपा दिया है। बड़ागांव पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी। सीओ ने बताया कि छानबीन के दौरान पुलिस टीम को पता चला कि मृतका के पति विनोद गोड़ ने दो शादी की है। पहली बीबी भी मृतका की सगी बहन है। छानबीन में पता चला कि विनोद ने अपनी पत्नी गायत्री देवी की छोटी बहन अन्तिमा को प्रेम जाल में फांस कर शादी कर ली थी।

थानाध्यक्ष संजय सिंह और उनके हमराहियों ने आरोपित विनोद गोड़ को गिरफ्तार कर कड़ाई से पूछताछ की तो उसने पूरा राज उगल दिया। विनोद ने पूछताछ में बताया कि दूसरी पत्नी साली राजनन्दनी की गला दबाकर हत्या करने के बाद शव को एक लोहे के बाक्स में रखकर मैजिक वाहन में लादकर फेंकने के लिए चौबेपुर जा रहा था। रास्ते में भीड़भाड़ और मौका न मिलने पर शव को पुन: घर लाकर घर के सेफ्टी टैक में डाल दिया। विनोद से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस टीम ने आज कड़ी मशक्कत के बाद सेफ्टी टैंक से राजनंदिनी का कंकाल नुमा शव बाहर निकलवा लिया। पुलिस ने विनोद से पूछताछ के बाद आरोपित मैजिक चालक को भी गिरफ्तार कर लिया।

सीओ ने बताया कि मृतका के छोटे भाई सोनू ने इस मामले में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की। सोनू रक्षाबंधन पर बहनों के ससुराल आया तो छोटी बहन को न देख अपने स्तर से छानबीन के बाद पिता को इसकी जानकारी दी। पिता पुत्र ने खोजबीन शुरू की तो विनोद ने पहली पत्नी को भी घर से निकाल दिया। इसके बाद दामाद पर संदेह गहराते ही मृतका के पिता ने थाने में मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस टीम की सफलता पर एसएसपी आनन्द कुलकर्णी ने 25000 हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की है।


Share it
Top