अयोध्या की प्राचीन रामलीला मंडलियों को सम्मानित करेगी सरकार

अयोध्या की प्राचीन रामलीला मंडलियों को सम्मानित करेगी सरकार


अयोध्या। राम नगरी अयोध्या में रामलीला की परंपरा सदियों पुरानी है। इसे जीवित रखने के लिए और रामलीला को जन-जन तक पहुंचाने के लिए केंद्र व प्रदेश सरकारें मिलकर कई योजनाओं पर काम कर रही है। इस कड़ी में भारत सरकार के संस्कृति विभाग ने इन प्राचीन रामलीला मंडलियों को प्रोत्साहित करने की उद्देश्य से सम्मानित करने का मन बनाया है, जिसकी योजना योगी सरकार द्वारा तैयार की जा रही है।

संस्कृति विभाग इस दिशा में काम कर रहा है। मंडलियों के चुनने की जिम्मेदारी अयोध्या शोध संस्थान को दी गई है। अब उन सभी प्राचीन रामलीला मंडलियों को सम्मान के लिए चयनित किए जाने का कार्य आरंभ हो गया है।

भगवान राम के चरित्र का लीला मंचन अयोध्या में करीब तीन शताब्दी पहले प्रारंभ हुआ था। अयोध्या की रामलीला विश्व के करीब 70 देशों में प्रचलित है। अकेले अयोध्या में करीब बारह से अधिक प्राचीन रामलीला मंडली है, जिसके मंचन को देखने के लिए देश-दुनिया से लोग यहां आते हैं। हाल में ही यहां की रामलीला मंडली अयोध्या शोध संस्थान की तरफ से विदेशों में रामलीला का प्रदर्शन व प्रशिक्षण कर वापस आई हैं।

Share it
Top