प्रियंका वाड्रा के सचिव के खिलाफ पत्रकारों ने खोला मोर्चा, निकालेंगे कैंडल मार्च

प्रियंका वाड्रा के सचिव के खिलाफ पत्रकारों ने खोला मोर्चा, निकालेंगे कैंडल मार्च


-कवरेज में गये पत्रकार के साथ बदसलूकी का आरोप,

वाराणसी। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के निजी सचिव संदीप सिंह को इलेक्ट्रानिक चैनल के पत्रकार के साथ मारपीट और बदसलूकी करना महंगा पड़ गया है। पीड़ित पत्रकार की लिखित शिकायत पर सोनभद्र के घोरावल कोतवाली में मुकदमा भी दर्ज हो गया है।

देश के नामचीन चैनल के वाराणसी ब्यूरो नीतिश कुमार पांडेय के साथ मारपीट और बदसलूकी को लेकर काशी के पत्रकार भी लामबंद हो गये हैं। पत्रकारों के विभिन्न संगठनों ने घटना की निंदा कर संदीप सिंह के खिलाफ सीधा मोर्चा खोलकर उनके खिलाफ कार्यवाही की मांग की है। आज शाम को कैंडल मार्च निकालने का भी ऐलान किया गया है। इलेक्ट्रानिक मीडिया जर्नलिस्ट एसोसियेशन (इमजा) के पदाधिकारी और वरिष्ठ पत्रकार विक्रान्त दूबे ने घटना की निन्दा कर कहा कि सोनभद्र के नरसंहार पीड़ित गांव उभ्भा में प्रियंका वाड्रा के दौरे को कवरेज करने के लिए गये पत्रकार नीतिश पांडेय के साथ प्रियंका के निजी सचिव का व्यवहार निंदनीय है। घटना के विरोध में संगठन और अन्य पत्रकार संगठन आज शाम को सिगरा स्थित भारत माता मंदिर परिसर से कैंडल मार्च निकालेंगे। वरिष्ठ पत्रकार गिरीश दूबे ने भी घटना की कड़ी निंदा की है।

दरअसल बीते मंगलवार को नीतिश अपनी टीम के साथ सोनभद्र उभ्भा गांव प्रियंका के दौरे के लाइव कवरेज के लिए गये थे। कवरेज के दौरान नीतिश ने प्रियंका से जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाये जाने से सम्बन्धित सवाल पूछा। आरोप है कि इससे प्रियंका के सचिव संदीप नाराज हो गये। उन्होंने पत्रकार को प्रियंका की मौजूदगी में धकेलते हुए बदसलूकी की और ठोंक देने तक की धमकी दे डाली। इस मारपीट और बदसलूकी का वीडियो सोशल मीडिया भी वायरल हो रहा है। पीड़ित पत्रकार ने घोरावल कोतवाली में तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया है।


Share it
Top