लूट के दौरान हुई थी लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाले युगल की हत्या, एक गिरफ्तार

लूट के दौरान हुई थी लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाले युगल की हत्या, एक गिरफ्तार


मीरजापुर। लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे युवक-युवती के हत्या के मामले में पुलिस ने बुधवार की शाम एक हत्यारोपित को जान्हवी तिराहे से गिरफ्तार किया। वहीं उसके फरार साथी की तलाश में जुटी है।

पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार पांडेय ने गुरुवार की दोपहर पुलिस लाइन में हत्यारोपित सेकसरिया कालोनी नारघाट निवासी राहुल शर्मा पुत्र राजू शर्मा को मीडिया के सामने पेश किया। उन्होंने बताया कि आरोपित अपने साथी अमानगंज निवासी राकेश हेला उर्फ नटे पुत्र छोटेलाल के साथ मिलकर 24 जुलाई की रात चमरौटी गली नारघाट निवासी संगीता एवं सुनील के घर में गया। जहां दोनों ने दीवार पर सुनील का सिर पटक कर हत्या कर दी और संगीता को जमीन पर गिराकर उसके मुंह में कपड़ा ठूस कर चादर से गला कस कर मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद कमरे में रखी आलमारी से 11 हजार रुपये तथा हाथ आए अन्य सामान लेकर छत के रास्ते खाली बाउंड्रीवाल की तरफ उतर कर भाग निकले।

मामले में वादी सज्जन कुमार धानुका की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी थी। इसी दौरान बुधवार की शाम पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर जान्हवीं तिराहे से राहुल को गिरफ्तार किया। पूछताछ में राहुल शर्मा ने स्वीकार किया है कि रुपये के लालच में लूट के इरादे से अपने साथी राकेश हेला उर्फ नटे के साथ उसने वारदात को अंजाम दिया था। उसके पास से इक्कीस सौ रुपये नकद, मोबाइल तथा निशानदेही पर फरार हत्यारोपित राकेश हेला का खून से सना कपड़ा बरामद किया है।

गौरतलब है कि 40 वर्षीय संगीता देवी की शादी कटरा कोतवाली क्षेत्र के दक्षिण फाटक निवासी गणेश शांतुवाला से 2009 में हुई थी। शादी के छह माह बाद ही दोनों अलग हो गए। इसके बाद 2011 से संगीता 34 वर्षीय सुनील मोदनवाल निवासी इमामबाड़ा के साथ अपने मकान में लिव इन रिलेशनशिप में रहने लगी थी। संगीता मकान में रहकर चुनरी बनाने का काम करने के साथ परचून की दुकान चलाती थी। 25 जुलाई की सुबह उसकी दुकान नहीं खुलने पर पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद जब पुलिस उनके घर पहुंची तो दोहरे हत्याकांड का पता चला।


Share it
Top