वाराणसी के प्रभारी आरएसओ चंद्रमौलि पांडेय की सड़क हादसे में मौत, खिलाड़ी गमजदा

वाराणसी के प्रभारी आरएसओ चंद्रमौलि पांडेय की सड़क हादसे में मौत, खिलाड़ी गमजदा


वाराणसी। वाराणसी के प्रभारी क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी (आरएसओ) चंद्रमौलि पांडेय और उनकी मां कृष्णावती पांडेय की रविवार की रात सड़क हादसे में मौत हो गई। सोमवार को सिगरा स्थित सम्पूर्णानन्द खेल स्टेडियम में अभ्यास कर रहे युवा खिलाड़ियों को जब हादसे की खबर मिली तो वे स्तब्ध रह गये। कई खिला​लियों की आंखें डबडबा गईं। अन्तरराष्ट्रीय वेटरन महिला एथलीट नीलू मिश्रा ने नम आंखों से प्रभारी आरएसओ को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने बताया कि चन्द्रमौली पांडेय हमेशा युवा खिलाड़ियों को बेहतर प्रदर्शन के लिए प्रेरित करते थे। चंद्रमौलि पांडेय बेहद ही अच्छे और सुलझे इंसान थे और खिलाड़ियों के साथ बड़े भाई की तरह खड़े रहते थे।

मूल रूप से चंदौली जिले के मसोई गांव निवासी चंद्रमौलि पांडेय (48) कुश्ती के राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी रहे। लगभग डेढ़ वर्ष पहले उन्हें गारेखपुर से वाराणसी में प्रभारी क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी के पद पर नियुक्त किया गया था। रविवार की देर रात पांडेय अपनी मां कृष्णावती पांडेय, छोटे भाई और बहन के साथ वाराणसी के लिए कार से निकले। शहाबगंज के पास बारिश और अंधेरे के कारण अंदाजा न मिलने पर कार नहर में जा गिरी। दुर्घटना में पांडेय के साथ उनकी मां कृष्णावती की भी मौत हो गई। वह ड्राइविंग सीट के बगल में ही बैठी थीं। कार में पीछे बैठे पांडेय के छोटे भाई चंद्रशेखर और बहन चंद्रावली को राहगीरों ने कार का शीशा तोड़कर बाहर निकाला। सूचना पाकर पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंच गई। इसके बाद ड्राइविंग सीट पर बैठे चंद्रमौलि पांडेय और बगल में ही बैठी उनकी मां के शव को निकाला गया। घायलों को रामनगर लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में इलाज के लिए भेजा गया। घटना की जानकारी पाते ही बड़ी संख्या में ग्रामीण भी परिजनों के साथ मौके पर पहुंच गये। दुर्घटना की जानकारी पर आज सुबह शहर से भी दर्जनों खिलाड़ी और शुभचिंतक पांडेय के पैतृक गांव मसोई पहुंचे। घटना की जानकारी लखनऊ स्थित खेल निदेशालय को भी दे दी गयी है।


Share it
Top