संदिग्ध परिस्थितियों में घर के कमरे में मिली कानूनगो की लाश

संदिग्ध परिस्थितियों में घर के कमरे में मिली कानूनगो की लाश

जौनपुर। जफराबाद थाना क्षेत्र के जगदीशपुर गांव में शनिवार को देर रात किराए के मकान में रह रहे चकबंदी विभाग के कानूनगो अधिकारी संदिग्ध परिस्थितियों में मिले। पुलिस उनको जिला अस्पताल में लेकर पहुंची तो डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

चकबंदी कानूनगो रामचंद्र यादव (55) थाना क्षेत्र के किरतापुर में कार्यरत थे। पिछले दो वर्षों से इनकी पोस्टिंग जौनपुर जनपद में थी। वह जगदीशपुर गांव में जयप्रकाश गुप्ता के मकान में किराए पर रहते थे। मकान मालिक जयप्रकाश ने बताया कि बीती रात करीब 2:00 बजे कानूनगो रामचंद्र के कमरे का दरवाजा खुला पड़ा था। देर रात को दरवाजा खुला देख जब वह कमरे में गए तो वह जमीन पर सोए हुए थे। वह हमेशा जमीन पर ही सोते थे। उनको कमरे का दरवाजा बंद करने के लिए जगाने का प्रयास किया लेकिन उनके शरीर से कोई हरकत नहीं हो रही थी। मकान मालिक ने हंड्रेड डायल को सूचना दी। पुलिस रात में करीब 3:00 बजे उनको जिला अस्पताल ले गई लेकिन डॉक्टरों ने उनको मृत घोषित कर दिया।

रामचंद्र यादव का परिवार यहां साथ में नहीं रहता था। वह यहां अकेले रहते थे। वह बस्ती जनपद के थाना कप्तानगंज कटघरा खुर्द के मूल निवासी हैं। उनकी लाश के पास से शराब की बोतल पाई गई है। सूचना पाकर आज सुबह पहुंचे रामचंद्र यादव के भाई ने बताया कि वह प्रतिदिन शराब का सेवन करते थे। पुलिस ने शव को रविवार को पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। थानाध्यक्ष ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर मौत के कारण की पुष्टि हो पायेगी ।


Share it
Top