मुठभेड़ में शातिर शार्प शूटर प्रोफेसर को पुलिस ने दबोचा, दरोगा भी घायल

मुठभेड़ में शातिर शार्प शूटर प्रोफेसर को पुलिस ने दबोचा, दरोगा भी घायल




वाराणसी। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) एमसीए के निष्कासित छात्र गौरव सिंह की हत्या में शामिल 25 हजार के इनामी शार्प शूटर सनी वर्मा उर्फ प्रोफेसर को लंका पुलिस ने शुक्रवार की देर रात मुठभेड़ में जिन्दा दबोच लिया।

इस दौरान प्रोफेसर का साथी राजा दुबे उर्फ रावण मौके से भाग निकला। मुठभेड़ में क्रास फायरिंग के दौरान संकट मोचन चौकी इंचार्ज ईश्वर दयाल दुबे भी जख्मी हो गये। मुठभेड़ में बदमाश सनी को पैर में और दरोगा को हाथ में गोली लगी है। दोनों को इलाज के लिए अस्पताल में भरती कराया गया है। मुठभेड़ की सूचना पर मौके पर एसएसपी आनन्द कुलकर्णी और अन्य अफसर भी मौके पर पहुंच गये। पुलिस ने मुठभेड़ स्थल से एक देशी पिस्टल,दो कारतूस,दो खोखा और बाइक भी बरामद किया है।

इस सम्बन्ध में एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने मुठभेड़ स्थल पर पत्रकारों को बताया कि शुक्रवार देर रात लंका थाना प्रभारी भारत भूषण तिवारी क्षेत्र में वीवीआईपी डयूटी में लगे थे। इसी दौरान उन्हें सूचना मिली कि बीएचयू के छात्र गौरव सिंह के हत्या में शामिल शार्प शूटर प्रोफेसर व रावण बाइक से मलहिया लौटूबीर के रास्ते बाईपास जाने वाले हैं।

सूचना पाते ही पुलिस टीम ने मलहिया पुल पर घेरेबंदी कर ली। इसी दौरान एक बाइक पर सवार दो युवक आते दिखे। पुलिस ने उन्हें रूकने का संकेत दिया तो उन्होंने फायरिंग कर एक ट्रक के पीछे छुपकर भागने का प्रयास किया। टीम ने पीछा कर लौटूबीर के पास उन्हें घेर लिया तो दोनों ने फायरिंग करना शुरू कर दिया। दोनों तरफ से क्रास फायरिंग में एक गोली शूटर सनी वर्मा उर्फ प्रोफेसर के बाये पैर में लगी जिससे वह गिर गया। वहीं एक गोली दरोगा ईश्वर दयाल के दाहिने हाथ में लगी। इस दौरान एक बदमाश भाग निकला। पुलिस ने तुरन्त बाइक से गिरे बदमाश को दबोच लिया। पूछताछ में घायल ने अपना नाम प्रोफेसर बताया। साथ ही बताया कि भागने वाला बदमाश राजा दुबे उर्फ रावण है।

एसएसपी के अनुसार प्रोफेसर उर्फ सनी उर्फ रूपेश वर्मा पीपी रोड, बक्सर का रहने वाला है। पूछताछ में बदमाश ने पुलिस को बताया कि बीते 24 मार्च को सीआईएसएफ जवान मुकेश सिंह यादव से लौटूबीर हाईवे पर हम लोगों ने असलहा दिखाकर अपाचे बाइक व मोबाइल लूट ली थी। एसएसपी के अनुसार दोनों बदमाश छित्तूपुर भगवानपुर में किराए के मकान में रहकर चेन छिनैती सहित छोटे बड़े अपराध में लिप्त रहे।

एसएसपी के अनुसार प्रोफेसर ने बक्सर के औद्योगिक थाना क्षेत्र में सोने के व्यापारी से लूट की थी। इस मामले में वह बिहार में वांछित है। उसके उपर लंका थाने में चार मुकदमा दर्ज है। बीएचयू के छात्र गौरव सिंह की हत्या में नाम सामने आने के बाद प्रोफेसर पर 25 हजार का इनाम घोषित किया गया था।


Share it
Top