वाराणसी में रेलवे पार्किंग निविदा को लेकर दो पक्षों में मारपीट, पथराव

वाराणसी में रेलवे पार्किंग निविदा को लेकर दो पक्षों में मारपीट, पथराव



वाराणसी। उत्तर प्रदेश के वाराणसी में पूर्वोत्तर रेलवे के मंडुवाडीह स्टेशन पर पार्किंग निविदा विवाद को लेकर बुधवार को शहर के लहरतारा स्थित मंडल रेलवे प्रबंधक (डीआरएम) कार्यालय के बाहर दो गुटों में जमकर मारपीट एवं पथराव हुआ, जिसमें कई लोग घायल हो गए।

पुलिस क्षेत्राधिकारी अंकिता सिंह ने हालांकि 'यूनीवार्ता' को बताया कि इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि शरारती तत्व माहौल खराब करने पहुंचे थे जिनमें से तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है। मौके से तीन मोटरसाइकिलें जब्त की गई हैं और कानून-व्यवस्था बनाये रखने के लिये कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

उन्होंने बताया कि कुछ शरारती तत्वों ने कानून व्यवस्था बिगाड़ने की कोशिश की थी जिसे समय रहते नाकाम कर दिया गया तथा एहतियातन मौके पर पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

सूत्रों ने बताया कि मंडुवाडीह रेलवे स्टेशन के नवनिर्मित द्वितीय द्वार की तरफ पार्किंग व्यवस्था के लिए ऑनलाइन निविदा प्रक्रिया पूरी करने के बाद इसमें शामिल कुछ लोग कागजी प्रक्रिया पूरी करने डीआरएम कार्यालय जा रहे थे। तभी कुछ हथियारबंद बदमाशों ने उन पर हमला कर कई को घायल कर दिया। हिंसा की सूचना मिलते ही आला अधिकारी कई थानों के पुलिस जवानों के साथ मौके पर पहुंचे और हालात को काबू में किया।

इस घटना में शामिल एक पक्ष सत्ताधारी पार्टी के एक विधायक का करीबी बताया जाता है।

गौरतलब है कि वाराणसी के शहरी इलाके के दूसरे महत्वपूर्ण मंडुवाडीह रेलवे स्टेशन के द्वितीय मुख्य द्वार का लोकार्पण 19 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों प्रस्तावित है, जहां से नई दिल्ली के बीच देश की सबसे तेज गति वाली पहली 'वंदे भारत एक्सप्रेस' ट्रेन चलाने की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं।


Share it
Top