इमाम चौकों पर रखे गए ताजिये, जियारत के लिए उमड़ी शिया समुदाय की भीड़

इमाम चौकों पर रखे गए ताजिये, जियारत के लिए उमड़ी शिया समुदाय की भीड़


वाराणसी। इमाम हुसैन समेत कर्बला के तमाम शहीदों की याद में 9वीं मोहर्रम पर गुरुवार अपरान्ह से फातिहा करके इमाम चौक पर ताजिये रखे गए। जियारत के लिए दोपहर बाद से ही शिया महिलाओं, बच्चों, युवाओं की भीड़ उमड पड़ी।

शहर की मशहूर कोयला बाजार की नगीने की ताजिया, धन्नीपुरा की रांगे की ताजिया, अर्दली बाज़ार की ज़री की ताजिया, पांडेय हवेली की गंगी की ताजिया, दोषीपुरा की मोटे शाबान की ज़री ताजिया, लड्डनपुरा की कपूर की ताजिया व बजरडीहा की बुर्राक की ताजिया देखने के लिए देर शाम तक भीड़ उमड़ती रही। शहर के अन्य हिस्सों मदनपुरा, रेवड़ी तालाब, नदेसर, बजरडीहा, सरैया के इमाम चौक में ताजिया रखे गये। शहर के कई हिस्सों में बुधवार की शाम ही ताजिया बैठाने के दौर शुरू हो गया था।

ताजिया, बड़ी बाज़ार की ताजिया, पठानी टोला की पीतल की ताजिया भी इमाम चौक पर बैठा दी जायेगी। उन्होंने बताया कि काशी की विश्व प्रसिद्ध दूल्हे का जुलूस शिवाला से जुमेरात की मध्य रात्रि (गुरुवार देर रात) निकलेगा जो शहर की 60 ताजियों को सलामी व शहर भर की 72 जगहों पर लगी आग पर कूदने के बाद जुमे (शुक्रवार) की सुबह वापस अपने कदीमी रास्तों से शिवाला लौटेगा।

मोहर्रम पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

जिला प्रशासन ने दसवीं मोर्हरम यौमे आशूरा पर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किये हैं। सुरक्षा की कमान खुद एडीजी पीवी रामाशास्त्री ने संभाल रखी है। मोहर्रम के मद्देनजर एडीजी जोन के साथ आईजी रेंज विजय सिंह मीना, एसएसपी सुरेश राव आनंद कुलकर्णी, एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह शहर के संवेदनशील इलाकों के भ्रमण पर निकले। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी ने बताया कि मोहर्रम को लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह से चौकन्ना है। संवेदनशील क्षेत्रों में पूरी नजर रखी जा रही है। किसी तरह की गड़बड़ी करने वालों से सख्ती से निपटा जायेगा।

Share it
Top