38 पीठासीन अधिकारियों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश

38 पीठासीन अधिकारियों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश

सहारनपुर (गौरव सिंघल)। सहारनपुर जनपद के जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी पी.के.पाण्डेय ने 02 कैराना लोक सभा उप निर्वाचन-2018 के पीठासीन अधिकारियों के प्रथम प्रशिक्षण कार्यक्रम में अनुपस्थित 38 पीठासीन अधिकारियों के विरूद्ध एफ.आई.आर. दर्ज कराने के निर्देश दिये है।
इस अवसर पर मण्डलायुक्त चन्द्र प्रकाश त्रिपाठी ने कहा कि निर्वाचन कार्यों में किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। उन्होंने कहा कि प्रशासन पूरी पारदर्शिता के साथ चुनाव कराये जाने को प्रतिबद्ध है।
जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी पी.के.पाण्डे आज यहां चकरोता रोड स्थित बी. डी. बाजोरिया इण्टर कालेज में आयोजित पीठासीन अधिकारियों के प्रथम प्रशिक्षण कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उपस्थित मण्डलायुक्त चन्द्र प्रकाश त्रिपाठी ने कहा कि चुनाव शांतिपूर्ण एवे पारदर्शी ढग़ से चुनाव सम्पन्न कराना है। उन्होंने कहा कि इस चुनाव के सभी मतदान केन्द्रों पर वीवीपैट का प्रयोग होगा। इसलिए जिन कर्मियों को वीवीपैट की कार्य प्रणाली समझ में नहीं आई हो तो वो इसकी सम्पूर्ण जानकारी लें जिससे मतदान के दिन किसी भी समस्या से बचा जा सकें। उन्होंने कहा कि किसी भी स्तर पर लापरवाही नहीं बरती जानी चाहिए।
जिलाधिकारी प्रमोद कुमार पांडेय ने कहा कि बार-बार निर्देश दिये जाने के बावजूद भी 02 कैराना लोक सभा उप निर्वाचन-2018 के लिये प्रशिक्षण कार्यक्रम को कतिपय अधिकारी व कर्मचारी गम्भीरता से नहीं ले रहे है। उन्होंन कहा कि ऐसे कर्मियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही किये जाने में कोर कसर नहीं रखी जायेंगी। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण कार्यक्रम में हिस्सा नहीं ले कर ऐसे कर्मियों द्वारा भारत के निर्वाचन आयोग के निर्देशों की अवहेलना की जा रही है। उन्होंने बिना अनुमति के प्रथम प्रशिक्षण में 20 तथा द्वितीय प्रशिक्षण में 18 अनुपस्थित पीठासीन अधिकारियों के विरूद्ध एफ.आई.आर.दर्ज कराने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी पी. के. पाण्डेय के निर्देश पर प्रथम प्रशिक्षण के दौरान अनुपस्थित पीठासीन प्रधान अध्यापक अधिकारी शकील अहमद, मुख्य मानचित्रक अशोक कुमार, सहायक आयुक्त वाणिज्यकर सुरेश सिंह गर्वियाल, सहायक अध्यापक वीरेन्द्र यादव, सहायक अभियन्ता मोहित कुमार, सहायक अध्यापक मुनेश कुमार सैनी, सहायक अध्यापक युद्ववीर सिंह, सहायक विकास अधिकारी चन्द्रमोहन सिंह सहायक अध्यापक धीरेन्द्र कुमार वर्मा, प्रधानाध्यापक शाहनवाज खान सहायक आयुक्त वाणिज्यकर सुनील कुमार, वरिश्ठ सहायक, कुंवर सिंह, प्रधानाध्यापक अमित यादव, प्रधानाध्यापक राजेन्द्र कुमार, सहायक अध्यापक संजय प्रताप सिंह, प्रभारी जिला युवा कल्याण ब्रजपाल सिंह, प्रशासनिक अधिकारी नरेश कुमार आस्टिेन्ट कमिश्नर अजय कुमार, प्रवक्ता राम मित्र मिश्र तथा प्रवक्ता, सतेन्द्र सिंह बिना सूचना के प्रशिक्षण कार्यक्रम से अनुपस्थित रहें।
द्वितीय प्रशिक्षण में वरिष्ठ सहायक, संजय गौतम, अवर अभियन्ता मदन लाल, सहायक विकास अधिकारी राजबीर सिंह, सहायक विकास अधिकारी द्वारिका प्रसाद, सहायक अध्यापक अमित कुमार, सहायक अध्यापक विपिन कुमार, सांख्यिक अधिकारी प्रदीप कुमार, कार्यालय सहायक सुशील कन्नौजिया, लिपिक जग मोहनपुरी, सहायक अध्यापक मनोज कुमार गुप्ता, उर्दू अनुवादक नोमानुलहक, सहायक अध्यापक अजीम, वरिश्ठ सहायक अनिल कुमार, वरिष्ठ सहायक यशपाल सिंह, सहायक अध्यापक नरेन्द्र कुमार सिंह, सहायक अध्यापक विवेक शर्मा, अनुदेशक सुरेन्द्र कुमार तोमर तथा सहायक अध्यापिका अनीता श्रीवास्तव बिना सूचना के प्रशिक्षण कार्यक्रम से अनुपस्थित रहने पर, इन सभी के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज कराये जाने के निर्देश दिये गए हैं।
इस अवसर पर पुलिस उपमहानिरीक्षक शरद सचान, मुख्य विकास अधिकारी संजीव रंजन, अपर जिला मजिस्ट्रेट प्रशासन एस.के. दूबे सहित सभी वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

Share it
Top